भारत में वैसे तो कई ऐतिहासिक जगहें हैं लेकिन आज हम आपको दक्षिण भारत के तेलंगाना राज्य के महबूबनगर के बारे में बताने वाले हैं। यह एक ऐसा ऐतिहासिक शहर है, जो भारतीय राज्य के प्राचीन काल से के स्थलों में से एक है। यह राज्य ना सिर्फ अपने इतिहास से जुड़े खजानों के लिए प्रसिद्ध है बल्कि इस राज्य में पर्यटकों के लिए घूमने के लिए भी कई स्थल है। साथ ही, यह राज्य ऐतिहासिक तौर पर दक्षिण भारतीय राजवंश सातवाहन और चालुक्य के अधीन भी रह चुका है। तो चलिए, आज हम आपको महबूबनगर के बारे में बताने वाले हैं। साथ ही, महबूबनगर के कुछ नजदीकी पर्यटन और मशहूर स्थलों के बारे में, जहां आप कई चीजों का लुत्फ आसानी से उठा सकते हैं..... 

महबूब नगर के बारे में 

mahabunagar

महबूबनगर शहर हैदराबाद शहर से 96 किमी की दूरी पर स्थित है। पूर्व में रुक्मम्मपेटा और पलामूरू कहा जाता था, 1890 में हैदराबाद के निज़ाम वंश के शासकों में से एक मीर महबूब अली खान आसफ जाह VI के सम्मान में महबूबनगर का नाम रखा। महबूबनगर की सीमा दक्षिण में कृष्णा नदी द्वारा आंध्र प्रदेश के साथ चिह्नित है। महबूबनगर तेलंगाना राज्य का सबसे बड़ा जिला है। यह हैदराबाद-बैंगलोर की सड़कों और रेल नेटवर्क से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। यह दक्षिण भारत में सातवाहन राजवंश और फिर चालुक्य वंश के शासन के अधीन था, जो 5 वीं और 11 वीं शताब्दी ईस्वी के बीच था। 

बाद में यह गोलकुंडा राज्य और अंत में हैदराबाद राज्य के अधीन हो गया था। कृष्णा और तुंगभद्रा नदियां इस जिले से होकर बहती हैं। डिंडी नदी, इस जिले में कृष्णा नदी की एक महत्वपूर्ण सहायक नदी भी है। महबूबनगर जिला प्रसिद्ध मंदिरों और ऐतिहासिक महत्व के कई धार्मिक और विरासत स्थलों का घर माना जाता है। चलिए जानते हैं कुछ स्थलों के बारे में.. 

फराहाबाद

farahabad

यह स्थल पूर्वी घाट की नल्लामाला पहाड़ियों की हरियाली से घिरा हुआ है। फराहाबाद की प्राकृतिक सुंदरता को पर्यटन खूब पसंद करते हैं। बहुत से लोग इसे 'माउंट प्लेजेंट' के नाम से भी जानते हैं। अगर आप यहां घूमने का प्लान बना रहे हैं, तो आपको बता दें कि यहां करने के लिए कई एडवेंचर गतिविधियों हैं। आप यहां जंगलों में ट्रेकिंग भी कर सकते हैं। साथ ही, आप यहां टाइगर वाइल्ड्स जंगल कैंप रोमांचक कैंपिंग का भी लुत्फ उठा सकते हैं। इसके अलावा, आपको यहां कई खाने-पीने की भी चीजें मिलेंगी। साथ ही, यहां आप शॉपिंग भी खूब कर सकते हैं। 

आलमपुर

Alampur

महबूबनगर में घूमने के अलावा आप कुछ प्रसिद्ध धार्मिक स्थलों का दर्शन भी कर सकते हैं। वह स्थल है आलमपुर। यह स्थल आपके सांस्कृतिक महत्व के साथ श्रद्धालुओं के लिए भी बहुत प्रसिद्ध है। आलमपुर आस्था प्रेमी को खूब आकर्षित करता है। श्रीशैलम की तीर्थ यात्रा करने काफी बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं, इसलिए यहां चार प्रवेश द्वार हैं वह हैं दक्षिण में सिद्धावतम, पूर्व में त्रिपुरान्तक उत्तर में उमा महेश्वर और पश्चिम में आलमपुर। इसके अलावा, आपको यहां कई वास्तुकला की शैलियां भी देखने को मिलेंगी। यहां 7 वीं शताब्दी से संबंधित नव ब्रह्मा मंदिर भी मौजूद है, जहां चालुक्य वास्तुकला शैली की कई देवी-देवताओं की खूबसूरत मूर्तियां रखी हुई हैं। आप एक बार यहां जरूरी जाएं। 

इसे ज़रूर पढ़ें-कुल्लू की इन बेहतरीन जगहों पर घूमने का है असल मज़ा, आप भी पहुंचें

पिल्ललमारी

shigarpur

अब हम आपको बताते हैं महबूबनगर पिल्ललमारी स्थाल के बारे में। यह सैर करने के लिए तेलंगाना की खास जगहों की सूची में शामिल है। आपको बता दें कि पिल्ललमारी विशाल बरगद का पेड़ है, जो लगभग 800 साल पुराना है। एक पेड़ इतना बड़ा है कि इस पेड़ की शाखाएं 3 एकड़ के क्षेत्र में फैली हुई हैं। साथ ही, इस पेड़ की खासियत है कि यह पेड़ लगभग 1000 लोगों को छाया प्रदान करता है। इसलिए इस पेड़ को लोग दूर-दूर से देखने आते हैं। इसके अलावा, आपको यहां कई संस्कृतिक और धार्मिक चीजों के कई नमूने भी देखने को मिलेंगे। इस स्थल के आसपास के दो मुस्लिम सूफी संत जमाल हुसैन और कमाल हुसैन की कब्रें हैं लेकिन कुछ लोगों की धारणा है कि यह कब्रें पेड़ के नीचे हैं। वहीं दूसरी ओर, परिसर में एक खूबसूरती से पुनर्निर्मित श्री राजराजेश्वर मंदिर भी मौजूद है लेकिन मंदिर पेड़ के स्थल से थोड़ी दूरी पर है। इसका अलग प्रवेश द्वार है, जहां से आप आसानी से प्रवेश कर सकते हैं। 

Recommended Video

श्रीरंगपुर

pallalmeri

वानापार्थी के पास स्थित श्रीरंगपुर 18 वीं शताब्दी ईस्वी में निर्मित श्री रंगनाथस्वामी मंदिर का घर है, इसे श्री कृष्णदेव राय ने राम पुष्प करणी झील के पास बनवाया था। यह कई शिल्पकलाओं से समृद्ध है, यहां पर्यटकों को कई खूबसूरत सुंदरत कृत्यां देखने को मिलेंगी। इसके अलावा, आप जुराला दामो, जेटप्रोलु, गडवाल किला, सोमेश्वर स्वामी मंदिर, कोल्हापुर आदि स्थलों को भी घूमने का लुत्फ उठा सकते हैं। 

इसे ज़रूर पढ़ें-कूचबिहार पैलेस: भारतीय वास्तुकला का एक बेजोड़ नमूना, जानें इसके बारे में

आप भारत के तेलंगाना राज्य का महबूबनगर के इन राज्यों की सौर करने जरूरी जाएं। आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- Freepik