उम्र के साथ हमारे स्किन में कई तरह के बदलाव होते हैं जैसे कोलेजन के प्रोडक्शन में कमी आने लगती है, नेचुरल ऑयल और इलास्टिन में भी कमी आ जाती है। यह स्किन को और ज्यादा ड्राई बनाता है। 40 की उम्र के बाद रिंकल्स, फाइन लाइन्स और एज स्पॉट्स होने लगते हैं। इसलिए 40 के बाद हमें कुछ ज़रूरी स्किन केयर टिप्स को फ़ॉलो करना चाहिए। 

इन टिप्‍स को अपनाने से 40 की उम्र के बाद भी लटकती त्‍वचा में कसाव बना रहेगा। इन टिप्‍स की सबसे अच्‍छी बात यह है कि इसके बारे में हमें इन टिप्‍स के बारे में हमें प्रसिद्ध डर्मेटोलॉजिस्ट और संस्थापक और अध्यक्ष, डॉ. निवेदिता दादू के डर्मेटोलॉजी क्लिनिक की डॉक्‍टर निवेदिता दादू जी बता रही हैं।

एक्‍सफोलिएशन करें

exfoliate after

अपने डेली स्किन केयर और ब्यूटी रिजीम में एक्सफोलिएशन को शामिल करें। इसके लिए अपने स्किन टाइप के हिसाब से स्क्रब को चुने। अगर आपकी स्किन ड्राई है तो आप क्रीम बेस्ड स्क्रब से क्लींस करें, लेकिन हर दिन मॉश्चराइज जरूर करें। अगर आपकी स्किन ऑयली है तो जेल बेस्ड स्क्रब को चुने।

इसे जरूर पढ़ें:एंटी-एजिंग के लिए 30 साल की महिलाएं ये 3 होममेड प्रोडक्‍ट्स आजमाएं

विटामिन-सी से भरपूर प्रोडक्‍ट्स

उम्र बढ़ने के बाद एज स्पॉट्स, पिग्मेंटेशन, ब्लेमिशेस बहुत आम समस्या है। इसलिए ऐसे स्किन केयर का इस्‍तेमाल करें जिसमें विटामिन-सी जैसे इंग्रीडीयंट्स हो, इनको अपने डॉक्टर के अनुसार ही इस्तेमाल करना चाहिए।

आप अपने स्किन केयर रिजीम में एंटी-ऑक्सीडेंट्स से युक्त विटामिन-सी को रख सकती हैं। आप चाहे तो एंटी-एजिंग रेटिनॉल सिरम जिसमें विटामिन-ए होते हैं वह भी इस्तेमाल कर सकते हैं। यह स्किन के टेक्सचर को सही करने और एजिंग साइन्‍स को कम करने में मदद करता है।

अच्छे मॉइश्चराइजर का इस्‍तेमाल करें

expert tips for firmer skin after

उम्र के साथ हमारी स्किन मॉइश्चर और इसके साथ-साथ बहुत सारे हेल्दी फैट्स भी खोने लगती है, जिसके कारण स्किन बहुत ज्यादा ड्राई, इरिटेटेड और कम लचीली हो जाती है। इसलिए हमेशा जेंटल क्लींजर और एक अच्छे मॉश्चराइजर का इस्‍तेमाल करें। क्योंकि यह स्किन में मॉइश्चर को लॉक कर देता है।

उम्र के साथ हमारी स्किन और ज्यादा ड्राई हो जाती है क्योंकि उम्र के साथ हमारी स्किन की ऑयल प्रोड्यूसिंग ग्लैंड्स भी कम एक्टिव हो जाते हैं। इसलिए आप लाइट ऑयल बेस्ड मॉश्चराइजर का इस्‍तेमाल करें जो स्किन को सॉफ्ट और हेल्दी बनाता है। आप अपनी स्किन टाइप के हिसाब से मॉश्चराइजर इस्तेमाल करें।

नाइट क्रीम का इस्‍तेमाल

सोने से पहले डर्मटॉलॉजिस्ट द्वारा प्रिस्क्राइब्ड नाइट क्रीम का इस्‍तेमाल करें। सोने से पहले एक माइल्ड क्लींजर का इस्‍तेमाल करें। नाइट क्रीम स्किन पर हो रहे एजिंग स्पॉट्स को बेहतर करता है और स्किन को सॉफ्ट और ग्लोइंग बनाता है।

Recommended Video

आई जेल का इस्‍तेमाल

आंखों के आस-पास फाइन लाइन्स और रिंकल्स एजिंग के सबसे आम लक्षण हैं। इसके लिए एक अच्छे आई जेल या क्रीम का इस्‍तेमाल करें जो आंखों के आस-पास की स्किन को नॉरिश करता है और फाइन लाइन्स और रिंकल्स से बचाता है।

इसे जरूर पढ़ें:घर में सिर्फ 50 रुपये में एंटी-एजिंग क्रीम तैयार करें और झुर्रियों से छुटकारा पाएं

सनस्‍क्रीन का इस्‍तेमाल

sunscreen for firmer skin

सनस्क्रीन किसी भी स्किन टाइप और किसी भी उम्र के लोगों के लिए बेस्ट स्किन केयर टिप है। यह स्किन को सूरज की हानिकारक अल्ट्रावायलेट रेज से बचाता है, जो प्रीमेच्योर एजिंग का मुख्य कारण होते हैं। इसके लिए आप एसपीएफ 30 और इससे अधिक के सनस्क्रीन का इस्‍तेमाल करें। ऐसे सनस्क्रीन का इस्‍तेमाल करें जिसने जिंक ऑक्साइड की मात्रा हो, जो स्क्रीन के आर्टिफिशियल लाइट से होने वाले स्किन डैमेज से भी बचाता है।

इसके अलावा, दिन में अधिक से अधिक पानी पिएं और हेल्दी डाइट लें। इसके लिए आप फ्रेश फ्रूट्स और वेजिटेबल्स को अपनी डाइट में शामिल करें जो आपको ज़रूरी एंटी ऑक्सीडेंट्स दें। इस तरह आप भी 40 की उम्र के बाद अपनी त्‍वचा को फर्म बनाए रख सकती हैं। ब्‍यूटी से जुड़ी और जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।  

 Image Credit: Freepik & Shutterstock.com