कई बार हम सुंदर बनने के चक्कर में ऐसा कुछ कर बैठते हैं कि हमारी स्किन और बाल दोनों को ही नुकसान पहुंचता है। ज्यादा केमिकल वाले स्किन केयर प्रोडक्ट से लेकर किसी एक स्किन केयर रूटीन को बहुत ज्यादा फॉलो करना भी नुकसान दायक हो सकता है। कई बार हम अनजाने में ही ऐसे प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल कर लेते हैं जो दिखते तो अच्छे हैं, लेकिन काम नहीं करते हैं। कई प्रोडक्ट्स ऐसे होते हैं जिन्हें रोज़ाना इस्तेमाल भी नहीं करना चाहिए। आज हम ऐसे ही प्रोडक्ट्स की बात करने जा रहे हैं।

1. ड्राई शैम्पू-

ड्राई शैम्पू का इस्तेमाल वैसे तो बहुत आसान लगता है और जल्दबाज़ी के समय ड्राई शैम्पू बहुत मददगार भी साबित हो सकते हैं, लेकिन क्या आप जानती हैं कि इसे जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल करने से स्कैल्प से जुड़ी कई समस्याएं हो सकती हैं। दरअसल, ड्राई शैम्पू डैंड्रफ और ऑयल को साफ नहीं करते हैं बल्कि ये उसे स्कैल्प पर ही जमा देते हैं ताकि बाल साफ दिखें। ऐसे में स्कैल्प इन्फेक्शन का खतरा बहुत ज्यादा हो सकता है।

न सिर्फ स्कैल्प इन्फेक्शन बल्कि इसे ज्यादा इस्तेमाल करने से आपको हेयर फॉल की समस्या भी हो सकती है।

dry shampoo and side effects

हफ्ते में कितनी बार इस्तेमाल करना चाहिए-

ड्राई शैम्पू को हफ्ते में एक या दो बार से ज्यादा इस्तेमाल न करें। इसके बाद बालों को धो लें।

इसे जरूर पढ़ें- रात की बची हुई रोटी से बनाया जा सकता है स्क्रब, ड्राई स्किन वालों के लिए है रामबाण उपाय

2. डीप कंडिश्नर-

मॉइश्चराइजिंग हेयर पैक और डीप कंडिश्नर यकीनन बहुत अच्छे साबित हो सकते हैं, लेकिन हर रोज़ नहीं। अगर आपको अपने बालों की रूट्स से प्यार है तो इन्हें ज्यादा इस्तेमाल न करें। डेली केमिकल वाला हेयर पैक या डीप कंडिश्नर लगाने से आपके बालों की जड़ें कमजोर हो जाती है। इतना ही नहीं इनका बहुत ज्यादा इस्तेमाल बालों को सॉफ्ट नहीं बनाता बल्कि इससे बालों की ड्राइनेस भी बढ़ती है। बालों के डैमेज होने का खतरा बढ़ जाता है।

हफ्ते में कितनी बार इस्तेमाल करना चाहिए-

हफ्ते में इसे तीन बार से ज्यादा इस्तेमाल न करें।

3. मेडिकेटेड लिप बाम-

लिप बाम का इस्तेमाल तो दिन में कई बार करना होता है, लेकिन मैं आपको बता दूं कि मेडिकेटेड लिप बाम का इस्तेमाल अगर आप ज्यादा करेंगी तो आपके होठों को इसकी आदत हो जाएगी। ऐसे में न तो रेग्युलर लिप बाम काम करेगा और न ही इससे एक समय के बाद फायदा होगा। मेडिकेटेड लिप बाम सिर्फ तभी तक इस्तेमाल करें जब तक डॉक्टर ने रिकमेंड किया है, इससे ज्यादा नहीं।

कब तक इस्तेमाल करें-

जब तक आपके होठों को इसकी जरूरत है सिर्फ तभी तक, इसके बाद रेग्युलर लिप बाम की ओर स्विच कर लें।

4. मेकअप प्राइमर-

स्किन को फ्लॉलेस और पोर्स को गायब करने वाला इफेक्ट देने के लिए प्राइमर का इस्तेमाल किया जाता है। इससे मेकअप ज्यादा देर तक भी टिकता है और साथ ही साथ स्किन बहुत ही अच्छी दिखती है, लेकिन ये ध्यान रखना चाहिए कि मेकअप प्राइमर का ज्यादा इस्तेमाल आपके लिए बहुत नुकसानदायक साबित हो सकता है। हर दिन इसे इस्तेमाल करने से आपके पोर्स बंद हो जाएंगे और साथ ही साथ इससे एक्ने की समस्या हो सकती है।

skin careprimer

हफ्ते में कितनी बार इस्तेमाल करना चाहिए-

हफ्ते में एक या दो बार से ज्यादा इसे इस्तेमाल न करें और साथ ही साथ जब आप मेकअप हटाएं तो स्किन को एक्सफोलिएट करना न भूलें।

5. वाटरप्रूफ मस्कारा-

यकीनन कई लोग मस्कारा का इस्तेमाल रोज़ाना करते हैं, लेकिन आपको वाटरप्रूफ मस्कारा से थोड़ा सा बचना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि वाटरप्रूफ मस्कारा पलकों को ड्राई कर देता है। न सिर्फ इससे आपकी पलकें झड़ेंगी बल्कि इससे उनकी शाइन भी जाएगी। यकीनन कई बार वाटरप्रूफ मस्कारा का इस्तेमाल बहुत जरूरी हो जाता है, लेकिन हर बार ऐसा न करें। नॉर्मल मस्कारा पर ज्यादा भरोसा करें।

हफ्ते में कितनी बार इस्तेमाल करना चाहिए-

हफ्ते में तीन-चार बार से ज्यादा वाटरप्रूफ मस्कारा को इस्तेमाल न करें।

Recommended Video



इसे जरूर पढ़ें- मानसून में चाहिए Anti Ageing Glow तो घर पर बनाएं ये महंगी वाली नाइट क्रीम

6. स्क्रब-

ये सभी को पता है कि स्क्रब स्किन को एक्सफोलिएट करने का काम करते हैं, लेकिन शायद आप ये नहीं जानती होंगी कि इसका इस्तेमाल अगर जरूरत से ज्यादा किया जाए तो इससे न सिर्फ स्किन का टेक्शचर खराब होता है बल्कि स्किन में कई अन्य तरह की समस्याएं भी होती हैं। कई मामलों में तो ये रिंकल्स का कारण भी बन सकता है। इसलिए ध्यान रहे कि स्क्रब का इस्तेमाल कम ही करें।

scrub and its side effects

हफ्ते में कितनी बार इस्तेमाल करना चाहिए-

ऑयली स्किन के लिए हफ्ते में 2 बार और ड्राई या कॉम्बिनेशन स्किन के लिए हफ्ते में 3 बार स्क्रब करना काफी होगा।

7. फाउडेशन या टैनिंग स्प्रे-

यकीनन टैनिंग स्प्रे का इस्तेमाल भारत में ज्यादा लोग नहीं करते हैं, लेकिन फाउंडेशन स्प्रे का इस्तेमाल तो अक्सर होता है। पैरों को परफेक्ट और फ्लॉलेस दिखाने के लिए इनका इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन ये स्किन को ड्राई भी बनाते हैं। अगर आपको पैरों पर फाउंडेशन इस्तेमाल भी करना है तो लिक्विड फाउंडेशन को मॉइश्चराइजर में मिलाकर लगाएं।

हफ्ते में कितनी बार इस्तेमाल करना चाहिए-

एक या दो बार से ज्यादा हफ्ते में ऐसे स्प्रे का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

तो अगली बार अपने स्किन केयर रूटीन के बारे में जब भी सोचें तब इस बात का ध्यान जरूर रखें कि कहीं ये प्रोडक्ट रोज़ाना इस्तेमाल करने से आपकी स्किन या बालों को नुकसान तो नहीं पहुंचा रहा। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।