सिर दर्द हो या थकान, गले में खराश हो फिर खांसी जुकाम, एक गर्म प्याला चाय का सब कुछ ठीक कर देता है। लेकिन क्या आपको मालूम है कि आपके दर्द भरे मेंस्ट्रुअल क्रैंप्स में भी चाय आपके लिए जादू जैसे काम कर सकती है। महीने के पांच से सात दिन हर महिला के लिए चिड़चिड़ापन, शरीर में ऐंठन, कमर दर्द और तरह-तरह के मूड स्विंग लाते हैं। इन दिनों में अगर आप कुछ खास तरह की चाय का एक कप पी लें, तो आपको इन सब परेशानियों में आराम मिल सकता है। आइए जानें ऐसी ही कुछ खास किस्म की चाय के बारे में, जो आपके क्रैंप्स के लिए रामबाण साबित हो सकती हैं।

अदरक वाली गर्मागरम चाय

Ginger tea

अदरक वाली चाय तो हर घर में बनती है। यह चाय का स्वाद दोगुना बढ़ा देती है। अदरक गुणों से भरपूर है। अदरक में एंटी-इंफ्लामेट्री गुण होते हैं। अगर आप मेंस्ट्रुअल क्रैंप से जूझ रही हैं, तो आप अपनी चाय बनाते वक्त उसमें अदरक जरूर डालें। पीरियड्स के दौरान होने वाली ऐंठन में अदरक वाली चाय पीने से आराम मिलता है। यह कमर दर्द और मूड स्विंग में भी राहत पहुंचाती है।

इसे भी पढ़ें:Period Hacks: महीने के उन दिनों में आपके काम आ सकती हैं ये 6 आसान टिप्स 

सौंफ वाली चाय

fennel

क्या आपने कभी सोचा कि सौंफ वाली चाय भी आपको क्रैंप्स में कितना आराम दे सकती है। जी हां, पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द में सौंफ वाली चाय पीने से काफी आराम मिलता है। यह मसल को रिलैक्स करती है। इतना ही नहीं सौंफ वाली चाय पीने से आपके अनियमित पीरियड भी नियमित होते हैं। इसमें एंटी-कार्मिनेटिव और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो पीरियड में होने वाले दर्द में आपको राहत देते हैं। यह आपको तरो-ताजा रखने में भी मदद करती है।

इसे भी पढ़ें:पीरियड्स के दौरान bed sheet पर लग गया है दाग तो आजमाएं ये 9 cleaning hacks

कैमोमाइल चाय

chamomile chai

कैमोमाइल फूल से बनी कैमोमाइल हर्बल चाय पीने के बहुत से लाभ हैं। यह पोषक तत्वों से भरपूर है। कैमोमाइल टी एंग्जायटी में काफी राहत देती है। कई बार मेंस्ट्रुअल दर्द इतना होता है कि आपको नींद भी नहीं आती। ऐसे में कैमोमाइल चाय पीने से आपके दर्द में आराम होगा और इससे आपको नींद भी अच्छी आएगी। इसके एंटी-इंफ्लामेट्री और एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों के कारण मेंस्ट्रुअल क्रैंप के दौरान होने वाली ब्लोटिंग, ऐंठन, थकान आदि में बहुत राहत मिलती है।

Recommended Video

लेमनग्रास टी

lemongrass tea

कई सारे लोग अपनी चाय में लेमनग्रास की पत्तियों का इस्तेमाल करते हैं। नींबू की खूश्बु के कारण इसे पसंद किया जाता है। यह चाय के स्वाद को तो बढ़ाती ही है, साथ ही आपके मूड को फ्रेश भी रखती है। यह विटामिन ए और सी, मैग्नीशियम, जिंक, आयरन, पोटैशियम, मैगनीज़ और कई पोषक तत्वों से भरपूर है। पीरियड्स के दौरान जब पैरों में दर्द और सूजन हो जाती है, तो इसके सेवन से उसमें आराम मिलता है। शरीर में किसी तरह की ऐंठन और जकड़न में भी इसका सेवन उपयोगी है।

पेपरमिंट चाय

peppermint

पेपरमिंट यानी पुदीना वाली चाय के भी कई लाभ हैं। इसके सेवन से आप तरोताजा महसूस करती है। इसकी चुस्की से आपके मूड स्विंग, और मेंस्ट्रुअल दर्द में काफी आराम मिलता है। इतना ही नहीं आपकी मांसपेशिया को आराम मिलता है। इसमें एंटीसेप्टिक, दर्द निवारक गुण होते हैं। क्रैंप्स के दौरान इसका सेवन करने से हाजमा भी दुरुस्त रहता है। कई बार पीरियड के दौरान बार-बार होने वाली मिचली में इसकी चाय काफी सहायक होती है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image credit : Freepik Images