मिस यूनिवर्स रह चुकीं लारा दत्ता अपनी उम्र के 40वें पड़ाव पर हैं लेकिन, आज भी बेहद फिट नज़र आती हैं। परफेक्ट डाइट, वर्कआउट और माँ बनने के बाद बेटी के पीछे भागने की मेहनत को वो अपना फिटनेस मंत्र मानती हैं। हमसे बातचीत के दौरान लारा ने बताया कि माँ बनना किसी वर्कआउट से कम नहीं है और इस वर्कआउट को वो बहुत एन्जॉय भी कर रही हैं।

इसके अलावा लारा ने हमसे यह भी कहा कि वो अपनी बढ़ती उम्र से नहीं डरतीं। उनका मानना है कि हर उम्र का अपना मज़ा है, झुर्रियां तो आएंगी ही और वो इसके लिए तैयार हैं। अभिनेत्रियों द्वारा करवाई जाने वाली ब्यूटी सर्जरी के बारे में भी लारा की अपनी राय है, आइये जानते हैं-

lara dutt fitness tips inside

सप्ताह में 5 दिन करती हूँ जिम और योग

20 जनवरी 2012 को लारा ने बेटी सायरा भूपति को जन्म दिया था और ज़ाहिर सी बात है कि आफ्टर प्रेगनेंसी उन्हें अपना वज़न घटाने में अच्छी खासी मेहनत करनी पड़ी होगी। इस बारे में बात करते हुए लारा कहती हैं कि मैंने अचानक से वर्कआउट शुरू नहीं किया। धीरे धीरे आराम से अपने वज़न पर ध्यान दिया। और अब सायरा बड़ी हो गई हैं, उनके स्कूल जाने, उनके लिए खाना बनाने और उन्हें खिलाने के बीच मैं इतना भागती हूँ कि यही मेरा वर्कआउट बन गया है। लेकिन मैं सप्ताह में 5 दिन जिम और योग जरूर करती हूँ। जैसे ही सायरा स्कूल बस में जाती हैं मैं तुरंत जिम या योग करती हूँ।

lara dutt fitness tips inside

ब्यूटी सर्जरी जिसे करवानी है वो करवा सकते हैं, इसमें कुछ गलत नहीं है

लारा ने कहा कि हम अपनी ब्यूटी पर बहुत ध्यान देते हैं, कैसे लग रहें हैं यह हम दिनभर सोचते रहते हैं। लेकिन, मैं ऐसा नहीं सोचती, मुझे नहीं लगता की सर्जरी करवानी चाहिए लेकिन जो करवा रहे हैं ये उनकी अपनी मर्ज़ी है। बोटॉक्स करवाना, नए नए ब्यूटी प्रोडक्ट्स और क्लिनिकली भी कितना कुछ आ गया है लेकिन मेरा मानना है कि आपको अपनी स्किन से प्यार करना चाहिए। मेरी उम्र 40 हो गई है और अब झुर्रियां भी दिखती हैं लेकिन, मैं इस बारे में नहीं सोचती। ये तो होंगी ही, अभिनेत्रियाँ अपने लुक्स को लेकर हमेशा प्रेशर में रहती हैं। सच कहूँ तो ये सब नहीं सोचना चाहिए। आम जनता आज मैगज़ीन खोलेगी और आपकी तस्वीर देखकर कहेगी कि यार ये मोटी हो गई है, फिर मैगज़ीन बंद करके वो अपनी दुनिया में चली जाएगी। फिर थोड़े दिन बाद कहेगी कि यार इसने तो वज़न घटा लिया, और फिर वही उनकी दुनिया में चली जाएगी। तो क्या फर्क पड़ रहा है, अपने उम्र के हर पड़ाव को एन्जॉय करना चाहिए।

Recommended Video