मानसून में बच्चों की सेहत का ख्याल रखना माता-पिता के लिए सबसे बड़ा टास्क होता है। इससे भी जरूरी है उनकी आंखों को इंफेक्शन से बचाना। बता दें कि बारिश का मौसम अपने साथ वायरल और बैक्टीरियल इंफेक्शन भी लेकर आता है। यही वजह है कि सेहत के साथ-साथ उनकी नाजुक आंखों का भी ध्यान रखना जरूरी है। दरअसल मानसून बड़ों को ही नहीं बच्चों को भी काफी पसंद होता है।

वहीं इस मौसम में बाहर खेलने के लिए बच्चे सबसे पहले घर से भागते हैं। हालांकि, खेलते समय कब उनके गंदे हाथ आंखों तक पहुंच जाते हैं, इसका अंदाजा उन्हें खुद भी नहीं होता है। जिसकी वजह से इंफेक्शन फैलने का डर रहता है। बच्चों की आंखें सुरक्षित और हेल्दी रहें, इसके लिए स्पेशलिस्ट शिबल भारतीय बता रही हैं कुछ ऐसे टिप्स, जिसे ध्यान में रखें तो बच्चों की आंखों को सुरक्षित रखा जा सकता है। 

जलभराव वाले क्षेत्रों में बच्चों को खेलने से रोकें

children eye care tips

मानसून में जगह-जगह पर जलभराव हो जाता है और इसमें बैक्टीरिया और फंगस पनपनी शुरू हो जाती हैं। इससे बच्चों(बच्चों के आंख कमजोर) की सेहत के साथ-साथ उनकी आंखों को भी नुकसान पहुंच सकता है। कुछ कीड़े ऐसे होते हैं जो आंखों के अंदर जा सकते हैं, जिससे दर्द और सूजन जैसी समस्या हो सकती है। इसलिए बेहतर है कि ऐसी जगहों पर बच्चों को खेलने की इजाजत ना दें। अगर गंदे पानी की छींटें उनकी आंखों में चली जाती हैं तो उसे पीने वाले साफ़ पानी से धो लें। ध्यान रखें कि आंखें धोते वक्त पानी की छींटें आंखों में तेजी से ना मारे बल्कि आराम से साफ करें।

इसे भी पढ़ें:इस आयुर्वेदिक तरीके से करेंगी मसाज तो तेजी से बढ़ेंगे बाल

निजी सामान किसी के साथ शेयर ना करें

बच्चों के निजी सामान जैसे रूमाल, चश्मा आदि चीजों को किसी के साथ शेयर ना करने दें। इसके अलावा जब वह चश्मा लगाकर खेलने जाते हैं तो उसे निकालकर कहीं भी न रखने दें। अगर बच्चा बाहर खेलने जा रहा है तो उसे चश्मा लगाने की सलाह जरूर दें। कोशिश करें कि चश्मे को किसी साफ कपड़े से ही साफ करें और आंखों को पोंछने के लिए भी साफ तौलिये का ही इस्तेमाल करें।

हेल्दी डाइट भी है बेहद जरूरी

healthy diet for children eyes

बारिश के मौसम में बच्चों की आंखें सुरक्षित रहें इसके लिए बेहद जरूरी है कि वह हेल्दी डाइट का सेवन करें। इसके अलावा उनकी डाइट में उन चीजों को शामिल करें जो उनकी आंखों को हेल्दी रखें, जैसे आंवला, गाजर, शकरकंद, बादाम, और कद्दू जैसी चीजें। इसके अलावा पीले, लाल और नीले फलों और हरी सब्जियों का सेवन करवाएं। इसके साथ रोजाना दूध पीने के लिए दें, यह उनकी आंखों के लिए फायदेमंद होता है।

Recommended Video

बिना हाथों को साफ किए आंख को टच न करें

जब भी बच्चों की आंखों में कुछ चला जाता है तो वह तुरंत खुजली करना शुरू कर देते हैं। इससे इंफेक्शन होने का डर रहता है। इसलिए बहुत जरूरी है कि वह समय-समय पर हैंड वॉश करते रहें और जितना हो सके अपनी आंखों को कम टच करें। वहीं आंखों की सुरक्षा के अलावा सेहत के लिए भी यह बेहद जरूरी है। इसलिए उन्हें बार-बार हैंड वॉश करने की सलाह दें।

इसे भी पढ़ें: Expert Tips: दांतों की कई समस्याओं से छुटकारा दिलाएगी फिटकरी, जानें इस्तेमाल के तरीके

इंफेक्शन होने पर डॉक्टर से परामर्श करें

children eyes

अगर बच्चे की आंख में किसी तरह की समस्या नजर आए तो तुरंत डॉक्टर से परामर्श करें। किसी भी दवा का सेवन या फिर खुद से कोई भी दवा आंखों में ना डालें, इससे परेशानी और बढ़ सकती है। वहीं अगर आंखों के आसपास किसी तरह की समस्या दिखे तो उसे ठंडे पानी से सिकाई करें। अगर ठीक नहीं हो रहा है तो डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

बच्चों की आंखों का ख्याल यहां बताए गए टिप्स की मदद से रख सकते हैं। साथ ही, आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।