इस बात पर ध्यान देना होगा कि यह जानकारी वाइन या शराब जैसे मादक पेय को बढ़ावा देने के लिये नहीं लिख जा रहा है, बल्कि वाइन के बारे में समाज के लोगों में जो गलत धारणाएं हैं, उसे बदलने की कोशिश हैं,और इसके हेल्थ लाभ की जानकारी दे रहे हैं। हो सकता है रेड वाइन के इस जानकारी को पढ़ने के बाद आप वाइन अधिक पीने लगें लेकिन इस लेख की सच्चाई कुछ और है। अमेरिका में यूनिवर्सिटी ऑफ बफेलो में सहायक प्राध्यापक यिंग जू के अनुसार, "डिप्रेशन और थकान से पीड़ित रोगियों के लिए रेसवेराट्रोल एक महत्वपूर्ण दवा होता है और रेड वाइन में रेसवेराट्रोल प्रचुर मात्रा में मिलता है। अमेरिका की पत्रिका 'न्यूरोफार्माकोलॉग' में प्रकाशित रेसवेराट्रोल के निष्कर्ष को लेकर कहती है कि रेसवेराट्रोल द्वारा न्यूरोलॉजिकल प्रक्रियाओं को प्रभावित किया जाता है।  रेड वाइन एक ऐसा तत्व है, जिसके असंख्य रेसवेराट्रोल हेल्थ लाभ हैं। यह अंगूर और बेरी के बीज और उनकी त्वचा में पाया जाता है। इसी कारण रेड वाइन डिप्रेशन जैसी बीमारियों में लाभदायक होता है। रेड वाइन डिप्रेशन के साथ साथ और भी बीमारियों के सही माना जाता है।

इसे भी पढ़े: Health Tips: इन 5 बीमारियों में आपके बच्चों के लिए फायदेमंद है शहद

डिप्रेशन कम करने के लिए 

health  benefits red Wine inside

स्पेरन ने 2013 के एक रिसर्च में पाया कि रेड वाइन के कम मात्रा में सेवन करने से डिप्रेशन कम किया जा सकता है। रिसर्च के दौरान 55 से 80 वर्ष की आयु वाले पुरुष और महिलाओं को रेगुलर रेड वाइन का सेवन कराया गया। उनमें कुछ वर्षों बाद यह देखा गया कि रेगुलर रेड वाइन के सेवन करने से उनके डिप्रेशन में कमी आई है।   

दिमाग करें तेज

health  benefits red Wine inside

ऐसे लोग जिनकी उम्र ज्यादा हो गई है और याददाश्त कमजोर हो चली है, उन्हें रेड वाइन पीने की सलाह दी जाती है। विदेशों में डिमेंशिया, अल्‍जाइमर और पर्किंसन जैसी दिमागी बीमारियों के लिये डॉक्टर मरीज को रेड वाइन पीने को कहते हैं, क्योंकि यह एक प्राकृतिक दवाई है।

इम्यूनिटी बढ़ाने में मददगार 

health  benefits red Wine inside

रेड वाइन में आयरन, मैग्नीशियम, विटामिन बी 6 और विटामिन सी जैसे पोषक तत्व पाए जाते है। साथ ही रेड वाइन में प्रोएंथोसायनीडीन्स और रेस्वेरट्रोल जैसे एक्टिव एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो आपकी इम्यूनिटी बढ़ाते हैं और सुरक्षित भी रखते हैं। 

मुंहासों को रोकता हैं-

रेड वाइन एंटीसेप्टिक की तरह भी काम करती हैं। आपकी त्वचा पर मौजूद मुंहासों को इससे कम किया जा सकता हैं। कॉटन में रेड वाइन को भिगोकर अपने चेहरे पर लगाएं और कम से कम 10 मिनट के लिए उसे सूखने दें। 10 मिनट बाद गुनगुने पानी से इसे धो लें। इस प्रक्रिया को रोज सोने से पहले करें। इससे आपके चेहरे के मुंहासे काफी हद तक ठीक हो जाते हैं। 

इसे भी पढ़े: किचन में खाना बनाते वक्त स्किन जले तो तुरंत करें ये काम, नहीं बनेगा घाव

(यूवी रे) पराबैंगनी किरणों से 

health  benefits of red Wine inside

रेड वाइन में फ्लेवोनॉयड्स और एमिनो एसिड होता है जो कि सूरज की किरणों से आपके स्किन को बचाता है। फ्लेवोनॉयड्स और एमिनो एसिड आपकी स्किन पर एक रक्षा परत बनाती है जो सूरज की पराबैंगनी किरणों से बचाती है। 

  • कुछ और भी लिस्ट है जिसमें रेड वाइन फायदेमंद माना जाता है। 
  • ब्लड प्रेशर के लिए
  • लिवर के सही माना जाता है।
  • वेट कम करने के लिए।
  • डाइजेशन सिस्टम को ठीक करता है।
  • ब्लड क्लॉटिंग और कोलेस्ट्रॉल की परेशानी को भी कम करती है।

फिर से इस जानकारी को दौहराया जा रहा है कि रेड वाइन को नशे के रुप में कतई इस्तेमाल की सलाह नहीं है।