कई लोगों की ये बहुत बड़ी दिक्कत होती है कि उन्हें रात में बहुत देर से नींद आती है और दूसरा दिन भी इसके कारण बर्बाद हो जाता है। कई बार तो लोग इतना कम सोते हैं कि उनके दिमाग पर भी इसका असर होने लगता है। जहां इन्सॉम्निया एक बीमारी है और उसे मेडिकल हेल्प की जरूरत पड़ सकती है वहीं कुछ खास टिप्स भी हो सकते हैं जिनकी मदद से हमारी नींद की समस्या हल हो जाए। 

दरअसल, रात को जल्दी सोने के लिए ये जरूरी है कि आपका दिमाग खाली रहे और ऐसे में हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहे हैं जो आपको रात में जल्दी सोने में मदद कर सकते हैं। ये सभी टिप्स मानसिक तनाव को भी दूर करेंगे और आपको भरपूर नींद देंगे।

इसे जरूर पढ़ें- World Sleep Day: हेल्‍दी रहने की सबसे अच्‍छी दवा है भरपूर नींद, जानिए कैसे 

1. तापमान रखें कम-

हो सकता है कि आपको ये थोड़ा अजीब लगे, लेकिन अगर आप रोज़ाना से 1 डिग्री कम तापमान में कंबल ओढ़ के सोते हैं तो ये आपकी नींद के लिए ज्यादा बेहतर है। दरअसल, इसके पीछे की साइंस ये है कि शरीर सोते समय ठंडा और उठते वक्त गर्म हो जाता है और अगर आप ज्यादा गर्म होंगे तो नींद आने में दिक्कत होगी। यही कारण है कि सर्दियों में हमें जल्दी नींद आ जाती है। 

sleeping problems in middle aged women

2. पैरों का रखें ख्याल-

यकीनन हम यहां कह रहे हैं कि कमरे का तापमान आप थोड़ा कम रखें और इसे ठंडा कर सकें, लेकिन एक बात ये भी जानने वाली है कि अगर आप पैरों को और खास तौर पर तलवों को ठीक तरह से गर्म नहीं रखेंगी तो नींद नहीं आएगी। इसलिए पैर ठंडे रहते हैं तो आपको नींद आने में समस्या होती है। 

not sleeping easily

3. ब्रीदिंग एक्सरसाइज-

4-7-8 ब्रीदिंग टेक्नीक मानसिक शांति के लिए बहुत अहम है और अगर आप इस तकनीक का इस्तेमाल कर रही हैं तो यकीनन आपको जल्दी नींद आ जाएगी। ये सांस को कंट्रोल करने की तकनीक है जिसे योगा के आधार पर बनाया गया है। इसे अमेरिकन सिलेब्रिटी डॉक्टर एंड्रियू वेल ने डेवलप किया है।

क्या करना है-

1. सबसे पहले अपनी जीभ की टिप को ऊपरी दांतों के पीछे रख दें। 

2. अब मुंह से जोर से सांस छोड़ें कि आवाज आए। 

3. अब मुंह बंद करें और नाक से सांस लेकर मन में 4 तक गिनें। 

4. अब अपनी सांस को होल्ड करना है और मन में 7 तक गिनना है। 

5. अब अपना मुंह खोलकर सांस छोड़नी है और मन में 8 तक गिनना है। 

6. इस तकनीक को तीन बार करना है जिससे शरीर रिलैक्स हो जाए।  

नोट: अगर आपको सांस लेने में दिक्कत हो रही है तो इसे न करें। 

 4. लाइट से न करें परहेज- 

यहां शरीर को ये बताना है कि लाइट के सामने उसे अलर्ट रहना है और अंधेरे में सोना है। दिन भर कमरे में बैठे रहने की जगह अगर आप सही वेंटिलेशन और नेचुरल लाइट में ज्यादा रहेंगी तो रात में आपको नींद जल्दी आएगी।  

sleeping problems in women

5. रात को नींद टूटने पर फोन या घड़ी की तरफ न देखें- 

अक्सर लोगों की आदत होती है कि अगर वो रात में किसी कारण उठ जाते हैं तो बार-बार घड़ी या फोन को देखने लगते हैं। ऐसा नहीं करना चाहिए, इससे हमारा ध्यान भटक जाता है और नींद भी टूट जाती है। इसकी जगह अगर आप नींद टूटने पर ध्यान इस बात पर रखेंगी कि कितनी आरामदायक स्थिति में आप सो रही हैं तो ये बेहतर होगा।  

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- अगर लेती हैं अधूरी नींद तो जान लें 1 वजह, जिसे जानने के बाद आप जरूर सोएंगी 8 घंटे  

6. 6 घंटे पहले से कॉफी न पिएं- 

कई लोगों को कॉफी पीने की आदत होती है, लेकिन अगर आप सोने के 6 घंटे पहले से ही कॉफी पीना छोड़ देंगी तो ये आपकी नींद के लिए सही है। शाम में 7-8 बजे कॉफी पीना सही नहीं है। इससे नींद उड़ जाएगी।  

7. हाई कार्ब मील लेना है तो 4 घंटे का नियम याद रखें- 

अगर आप रात में हेवी डिनर करने वाली हैं तो कम से कम 8 बजे तक इसे कर लें। शरीर को ऐसे में सोने से पहले पर्याप्त समय मिलेगा खाना पचाने के लिए। अन्यथा पाचन संबंधित समस्याएं हो सकती हैं और रात में सोते समय गैस आदि के कारण नींद में खलल पड़ सकता है। 

 8.  अरोमा थेरेपी आएगी काम- 

एसेंशियल ऑयल्स का इस्तेमाल कई मामलों में बेहतर हो सकता है अगर कमरे में एसेंशियल ऑयल्स की महक हो या फिर अरोमा थेरेपी कैंडल्स हों तो नींद आने में भी सहायता मिलेगी। ये शरीर को रिलैक्स करने में मदद करेगा।  

9.  अगर निगेटिव ख्याल आते हैं तो करें ये काम- 

ये एक साइकोलॉजिकल ट्रिक है जो 41 कॉलेज स्टूडेंट्स पर की गई एक स्टडी के आधार पर बनाई गई है। अगर आपको कई निगेटिव थॉट्स आती हैं तो सोने से पहले उन्हें लिखने की कोशिश करें। अगर आप अपने दिन की स्ट्रेसफुल चीज़ों को लिख लेंगी तो आपका स्ट्रेस थोड़ा कम होगा और इससे नींद आने में सहायता मिलेगी। 

10. स्लीपिंग पोजीशन बदलें- 

अगर आपको किसी एक पोजीशन में लंबे समय से नींद नहीं आ रही है तो आप अपनी स्लीपिंग पोजीशन बदल भी सकती हैं। तकिया और मैट्रेस को भी बदलने की कोशिश करें।  

इन सभी टिप्स को आजमाएंगी तो आपकी नींद बेहतर होगी और नींद बेहतर होने से कई स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं भी कम होंगी।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।