मुंबई से लगभग 110 किलोमीटर की दूरी पर स्थित, कोलाड महाराष्ट्र के खूबसूरत रायगढ़ जिले में स्थित है। इसे अक्सर महाराष्ट्र का ऋषिकेश कहा जाता है। इस गांव में आपको सुंदर घाटियों से लेकर धुंध से भरी पहाड़ियों और घने सदाबहार जंगलों का शानदार नजारा देखने को मौका मिलेगा। यह स्थान भले ही छोटा सा है, लेकिन यहां पर दर्शनीय स्थलों की कोई कमी नहीं है। कोलाड के कुछ बेहतरीन आकर्षणों में कुंडलिका नदी शामिल है, जो इस क्षेत्र में सफेद पानी राफ्टिंग का सेंटर है। इसके अलावा, आप भीरा डैम में एक मस्ती से भरे और यादगार पिकनिक का आनंद ले सकते हैं। इसके अलावा आप शांत सुतारवाड़ी झील में कैंपिंग और बर्ड वाचिंग का आनंद ले सकते हैं। इसके अलावा यहां पर  ट्रेकिंग जैसी एक्टिविटीज भी की जा सकती हैं। वाटर स्पोर्ट्स जैसे व्हाइट वाटर राफ्टिंग और बोटिंग से लेकर हाइकिंग, कैंपिंग, नेचर वॉक और ट्रेकिंग जैसी एडवेंचर्स एक्टिविटीज के कारण यह समर हॉलिडे के लिए एक डेस्टिनेशन है। तो चलिए आज हम आपको कोलाड में घूमने की कुछ बेहतरीन जगहों के बारे में बता रहे हैं, जो यकीनन आपको भी काफी पसंद आएंगी-

कुंडलिका नदी

inside , summer travel

सियादरी पहाड़ियों से बहकर और भीरा नामक एक छोटे से शहर से निकलकर, कुंडलिका नदी रिवर राफ्टिंग के लिए बेहद लोकप्रिय है। यह भारत की सबसे फास्टेस्ट नदियों में शामिल होने के कारण राफ्टिंग का एक अलग ही अनुभव करवाती है। यह न केवल राफ्टिंग एक्टिविटीज में भाग लेने के लिए बल्कि प्रकृति और बहते पानी के बीच आराम करने के लिए पर्यटकों द्वारा कोलाड में घूमने के लिए सबसे फेवरिट जगहों में से एक बन चुकी है।

सुतारवाड़ी झील

inside , kolad river place

यह झील प्रकृति प्रेमियों के लिए एक स्वर्ग है और कोलाड में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है। लोग यहां शहर के शोर-शराबे से दूर शांति का आनंद ले सकते हैं। यह स्थान बर्ड वॉचिंग के लिए भी काफी अच्छा माना जाता है, क्योंकि आप यहां पर कई तरह के पक्षियों को उड़ते हुए देख सकती हैं। यह झील महाराष्ट्र के कोंकण क्षेत्र में स्थित है जो चारों ओर से पहाड़ों से घिरा हुआ है।

तम्हिनी फॉल्स

inside , river travel

तम्हिनी फॉल्स कोलाड में देखने लायक खूबसूरत जगहों में से एक है। मानसून के मौसम में पर्यटकों द्वारा इस जगह को बार-बार देखा जाता है क्योंकि चट्टानों के माध्यम से पानी बहता है और यह देखने में बेहद ही अच्छा व सुखदायक लगता है। यह जगह मनमोहक दृश्य प्रदान करती है। आप यहां पर स्विमिंग कर सकती हैं और पानी के साथ खेल सकती हैं। इस झरने के पास कंसाई झरना भी काफी लोकप्रिय पर्यटन स्थल है।

इसे ज़रूर पढ़ें- दिल्ली के करीब कैंपिंग के लिए यह हैं बेहतरीन जगहें, जानिए इनके बारे में

कुडा गुफाएं

inside , Rafting

यह जंजीरा पहाड़ियों में स्थित है जो मुरुद से लगभग 27 किमी दूर है और समुद्र तल से 200 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह 15 रॉक-कट बौद्ध गुफाओं का एक समूह है जो आपको यहां प्रवेश करते ही लोकप्रिय अजंता और एलोरा की गुफाओं की याद दिलाएगा। प्रवेश द्वार पर आप दो हाथियों की मूर्ति देख सकते हैं। इसके अलावा, भगवान बुद्ध के चित्रों और स्तूपों की एक श्रृंखला को भी कुडा गुफाओं की यात्रा के दौरान देखा जा सकता है। 

Recommended Video

कोलाड म्यूजियम

inside , , travel tips in hindi

यदि आप आर्ट और क्राफ्ट  में रूचि रखती हैं तो कोलाड म्यूजियम यकीनन आपको बेहद पसंद आएगा। आप यहां पर विभिन्न प्रकार की लकड़ियों से खूबसूरती से उकेरी गई विभिन्न आकृतियों को निहार सकती हैं। इस स्थान को कोलाड के काश्त् शिल्प के रूप में भी जाना जाता है और इसमें सबसे प्रतिभाशाली रमेश गोन के काम को प्रदर्शित किया गया है।

इसे ज़रूर पढ़ें-गर्मियों में कैंपिंग पर जाने का कर रहीं हैं प्लान तो ध्यान रखें ये बातें

भीरा डैम

inside ,  travel tips

यह कुंडलिका नदी पर स्थित है और लोकप्रिय रूप से टाटा पावरहाउस डैम के रूप में जाना जाता है। यह डैम गांव के स्थानीय लोगों के लिए बिजली पैदा करने में मदद तो करता है ही, साथ ही आप यहां पर कुछ एडवेंचर्स एक्टिविटीज भी कर सकती हैं। पानी की राफ्टिंग जैसी एक्टिविटीज का यहां पर आनदं लिया जा सकता है, क्योंकि नदी का प्रवाह बहुत अच्छा है। साथ ही लोग बोटिंग करने के लिए भी इस जगह पर जाते हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image credit- Social Media and travel websites