लॉकडाउन के बाद से देश में स्थितियां पूरी तरह से बदल गई हैं। फैक्ट्रीज से लेकर कंस्ट्रक्शन तक, सबकुछ बंद हो गया है। अचानक लॉकडाउन होने से मजदूरों को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है और वे पैदल ही सड़कों पर अपने घर वापस जाने के लिए निकल पड़े हैं। इस बीच रेलवे ने अपनी पैसेंजर ट्रेन चलाने की शुरुआत कर दी है। मुमकिन है कि इससे देशभर में जगह-जगह फंसे मजदूरों को अपने घर पहुंचाने में मदद मिले। लेकिन हालात के मद्देनजर रेलवे ने अब नए नियम लागू किए हैं, जिनका कड़ाई से पालन किया जा रहा है।  अब ट्रेनों में बेडशीट्स या ब्लैंकेट नहीं मिलेंगे। खाना सिर्फ पैकेज्ड ही मिलेगा और हैंड सेनिटाइजर की उपलब्धता भी रहेगी। पीटीआई रिपोर्ट के अनुसार अब नए रूल्स फॉलो करने के लिए अब ट्रेन के टाइम से 90 मिनट पहले स्टेशन पर पहुंचना अनिवार्य कर दिया गया है। स्टेशन पर सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। टिकट खिड़की से लेकर प्लेटफॉर्म तक हर जगह लोगों के उचित दूरी बनाए रखने पर जोर दिया जा रहा है। 

बुकिंग के दौरान शेयर करनी होंगी पर्सनल डीटेल्स

train travel new rules

इसके अलावा अब यात्रियों को टिकट की बुकिंग कराते समय अपनी पूरी डीटेल्स जैसे कि उनका पता, गांव का नाम, गली, मोहल्ला, घर का नंबर आदि देने की जरूरत होगी, ताकि जरूरत पड़ने पर उनके घरवालों को सूचित किया जा सके। कुछ स्टेशन्स पर आने वाले यात्रियों के सामान को भी डिसइन्फेक्ट किया जा रहा है।

इसे जरूर पढ़ें: आगरा फोर्ट से जुड़ी ये 7 दिलचस्प बातें आपको जरूर जाननी चाहिए

कन्फर्म ई-टिकट वालों को ही मिलेगी एंट्री

जिन लोगों ई-टिकट कन्फर्म हो गया है, उन्हीं लोगों को रेलवे स्टेशन के भीतर प्रवेश की अनुमति मिलेगी। सभी पैसेंजर्स की स्टेशन के भीतर स्क्रीनिंग होगी। स्टेशन पर मौजूद हेल्थ वर्कर आने वाले यात्रियों का बॉडी टैंपरेचर चेक करेंगे। अगर किसी व्यक्ति में कोरोना वायरस के लक्षण मिलते हैं तो इसकी सूचना तुरंत ही प्रशासन को दी जाएगी। सिर्फ asymptomatic passengers यानी ऐसे यात्री, जिनमें बीमारी के लक्षण नहीं मिलेंगे, उन्हें ही ट्रेन में जाने की अनुमति मिलेगी। 

इसे जरूर पढ़ें: ये जंगल पूरी दुनिया में मशहूर है, आखिर क्यों कहते हैं इसे ‘सुसाइड फॉरेस्ट’

बीमारी से सुरक्षा के लिए बने ये नियम

train travel rules

एंट्री और एक्जिट पॉइंट्स के साथ कोच में भी हैंड सेनिटाइजर की उपलब्धता होगी। साथ ही सभी पेसेंजर्स के लिए ट्रेवल करते हुए फेस कवर या फेस मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। 

Recommended Video

इन जगहों के लिए चलेंगी ट्रेनें

रेलवे के अनुसार अब ट्रेनें नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बैंगलुरु, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सैंट्रल, अहमदाबाद और  Jammu Tawi के लिए चलेंगी। 

सिर्फ एसी कोच ही चलेंगे

नए रूल के अनुसार ट्रेनों में सिर्फ एसी कोच होंगे और इनमें स्टॉपेज कम होंगे। इन ट्रेनों के किराया राजधानी एक्सप्रेस के बराबर होगा। इन ट्रेनों के लिए तत्काल और प्रीमियम तत्काल जैसी सुविधाएं उपलब्ध नहीं होंगी। ट्रेनों में पैंट्री सर्विस उपलब्ध नहीं होगी। ट्रेन में आने वाले सभी यात्रियों के लिए आरोग्य सेतु ऐप का इस्तेमाल अनिवार्य होगा। 

साथ ही मजदूरों को उनके घर भेजने के लिए भी श्रमिक ट्रेन चलाए जाने की शुरुआत हुई है, जिसके जरिए देशभर में जगह-जगह फंसे मजदूर अपने परिवारों के साथ सकुशल अपने घर पहुंच सकेंगे। 

अगर आपको यह खबर काम की लगी तो इसे जरूर शेयर करें, ट्रेवल से जुड़ी अन्य अपडेट्स के लिए विजिट करती रहें हरजिंदगी

Image Courtesy: twitter(@RailMinIndia,pbs.twimg.com)