• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

जानिए क्यों लिखा होता है हर नोट पर 'मैं धारक को... रुपये अदा करने का वचन देता हूं'

हर इंडियन नोट पर यह वाक्य लिखा रहता है यह वाक्य है 'मैं धारक को..रुपये अदा करने का वचन देता हूं'।
author-profile
Published -23 Aug 2022, 15:17 ISTUpdated -27 Aug 2022, 13:57 IST
Next
Article
INDIAN CURRENCY NOTES HAVE THIS SENTENCE

आपने यह गाना जरूर सुना होगा 'आमदनी अठन्नी खर्चा रुपइया'। हर रोज आप कई नोटों का इस्तेमाल करते होंगे। लेकिन क्या आपको पता है कि हमारे देश में करेंसी नोट को छापने का काम साल 1935 के पहले भारत सरकार करती थी। पर 1 अप्रैल साल 1935 से करेंसी नोट को छापने का काम भारतीय रिजर्व बैंक करने लगा था। लेकिन कभी आपने यह गौर किया है कि हर इंडियन नोट पर यह वाक्य 'मैं धारक को ... रुपये अदा करने का वचन देता हूं' क्यों लिखा होता है? इस लेख में हम आपको बताएंगे इसके पीछे का कारण। 

 

इंडियन नोटों पर यह वाक्य क्यों लिखा रहता है? 

indian currency

  • आपको बता दें कि रिजर्व बैंक धारक को विश्वास दिलाने के लिए हर नोट पर यह वाक्य लिखता है। 
  • इसका अर्थ है कि जितने मूल्य का नोट आपके पास है उतने ही मूल्य का सोना रिजर्व बैंक के पास रिजर्व है और रिजर्व बैंक वो सोना उस नोट के बदले में आपको देने के लिए कमिटेड है। 
  • इसका मतलब यह भी है कि जिसके पास इंडियन नोटों में से कोई भी नोट होगा तो उसको उतना ही भुगतान करने की जिम्मेदारी रिजर्व बैंक की होती है।
  • यदि कोई व्यक्ति किसी सही नोट को लेने से इंकार करता है तो इसका यह मतलब है कि वह रिजर्व बैंक के गवर्नर यानि सरकार की आज्ञा का उल्लघंन कर रहा है और कानून तोड़ रहा है और इसकी वजह से उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की भी की जा सकती है।

इसे भी पढ़ें- भारत में चलता था 10 हज़ार रुपए का नोट, जानें कब और कैसे हुआ बंद

इस नोट पर नहीं होता है यह वाक्य

indian notes

  • आपको बता दें कि सारी इंडियन नोटों पर यह वाक्य लिखा होता है लेकिन सिर्फ एक रुपये के नोट पर यह वाक्य नहीं लिखा होता है।
  • एक रुपये के नोट पर भारत के वित्त सचिव के हस्ताक्षर होते हैं लेकिन अन्य नोटों पर भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर के हस्ताक्षर होते हैं।

इसे जरूर पढ़ें- 100, 200, 500 और 2000 रुपए के एक नोट को छापने में खर्च होते हैं इतने रुपए

क्या होता है 'ब्‍लीड मार्क्‍स'?

  • आपने 100, 200,  500 और 2000 की इंडियन नोटों पर टिल्टेड लाइन्स बनी हुई देखी होंगी हैं। इन्हें 'ब्‍लीड मार्क्‍स' कहते हैं।
  • ये ब्‍लीड मार्क्‍स लाइन्स नेत्रहीन लोगों के लिए बनाए जाते हैं। 
  • नोट्स पर बनी इन लाइन्स को छू कर वे बता सकते हैं की कौन सा नोट कितने रुपये का है।
  • आपको बता दें कि 100, 200, 500 और 2000 के नोटों पर अलग-अलग संख्या में लाइन्स बनी होती हैं।

तो यह थी इंडियन नोट्स के बारे में जानकारी। 

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हर जिंदगी से।

 

Image Credit- amazon/coinbazzar

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।