• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

पूजा पाठ के लिए कौन सी धातुएं होती हैं शुभ, किन बर्तनों का न करें इस्तेमाल

घर में यदि आप पूजा पाठ करते हैं तो ज्योतिष के अनुसार आपको कुछ विशेष धातुओं का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।   
author-profile
Published -20 Jun 2022, 17:29 ISTUpdated -20 Jun 2022, 17:47 IST
Next
Article
which metal can be use for puja by expert

हम सभी लोग नियमित रूप से पूजा पाठ करते हैं और ऐसा माना जाता है कि पूजा पाठ से सुख समृद्धि मिलती है। यही नहीं पूजा से मानसिक शक्ति बढ़ती है जिससे हम आने वाले समय में और वर्तमान में चल रही कई समस्याओं का समाधान निकालने में सक्षम होते हैं। इससे हमारी जिंदगी आगे बढ़ती है और हमें ख़ुशी महसूस होती है। इसलिए मुख्य रूप से प्रत्येक व्यक्ति पूजा पाठ में मन जरूर लगाता है। जब बात आती है पूजा में इस्तेमाल होने वाली धातुओं की तो पूजा पाठ में कुछ विशेष धातुओं के बर्तनों का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।

वहीं पूजा की मूर्तियां भी कुछ विशिष्ट धातुओं की ही बनी होती हैं। दरअसल ऐसा माना जाता है कि ये सभी धातुएं हमारी सकारात्मक ऊर्जा को अब्सॉर्ब करती हैं। इसके अलावा कुछ ऐसी धातुएं भी हैं जिनसे कुछ नकारात्मक ऊर्जा निकलती है इसलिए पूजा में भूलकर भी इनका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। आइए नारद संचार के ज्योतिष अनिल जैन जी से जानें कि पूजा में आपको किन धातुओं का इस्तेमाल करना चाहिए और किनके इस्तेमाल से बचें। 

पूजा में सोने और पीतल का इस्तेमाल शुभ है 

पूजा पाठ के लिए और मूर्तियों के लिए सोना, चांदी, पीतल और तांबे की मूर्तियां और पात्र सबसे ज्यादा शुभ माने जाते हैं। ऐसा माना जाता है कि ये सभी धातुएं सकारात्मक ऊर्जा को अवशोषित करती हैं। ये सभी धातुएं अत्यंत शुभ मानी जाती हैं। सोना और पीतल को गुरु ग्रह की धातु (कुंडली में बृहस्पति को मजबूत बनाने के टिप्‍स) माना जाता है। गुरु हमें ईश्वरीय शक्ति प्रदान करता हैं और सुख समृद्धि का कारक होता है। इससे जुड़ी किसी भी धातु का इस्तेमाल करने से ईश्वर का हाथ हमेशा हमारे सिर पर बना रहता है। इसलिए पूजा पाठ में सोने और पीतल की धातु का इस्तेमाल सर्वोच्च माना जाता है। 

पूजा में चांदी के बर्तनों का करें इस्तेमाल 

silver use in puja is auspicious

जब बात पूजा पाठ में चांदी के बर्तनों की आती है तो इसे भी अत्यंत शुभ माना जाता है क्योंकि चांदी को चन्द्रमा का कारक माना गया है और यह हमारे मन का कारक है। चन्द्रमा को सुख समृद्धि का कारक भी माना जाता है, ज्योतिष के अनुसार यह अत्यंत उपयोगी ग्रह है। जो लोग मानसिक रूप से शक्तिशाली होते हैं वही सफलता प्राप्त करते हैं और यह चंद्रमा के शक्तिशाली होने से जुड़ा हुआ है। यदि आप चन्द्रमा को अपने जीवन में शक्तशाली बनाना चाहते हैं तो आपके लिए जरूरी है कि आप पूजा पाठ में चांदी के बर्तनों का इस्तेमाल करें और चांदी की मूर्तियों की पूजा करें। 

इसे जरूर पढ़ें:Vastu Tips: घर की सुख समृद्धि के लिए पूजा स्थान पर भूलकर भी न करें इन रंगों का इस्तेमाल

Recommended Video


पूजा में तांबे का इस्तेमाल भी शुभ है 

copper use in puja

तांबा धातु को सूर्य का कारक माना जाता है। सूर्य को आत्मा का कारक माना जाता है और यह आध्यात्मिक ऊर्जा प्रदान करता है। यदि पूजा पाठ में इस धातु का इस्तेमाल किया जाता है तो आध्यात्मिक बल बढ़ जाता है। तांबे के बर्तनों का इस्तेमाल करने से मन में सूर्य मजबूत होता है और पूजा का संपूर्ण फल भी मिलता है। 

पूजा में इन धातुओं का न करें इस्तेमाल 

iron metal is not good in puja

पूजा में मुख्य रूप से स्टेनलेस स्टील, एल्युमिनियम, लोहा इन सभी धातुओं के इस्तेमाल से बचना चाहिए। दरअसल एल्युमिनियम को रगड़ने से एक काला पदार्थ निकलता है और स्टेनलेस स्टील एक प्राकृतिक धातु नहीं है और ज्योतिष के अनुसार पूजा पाठ में सिर्फ प्राकृतिक धातुओं का इस्तेमाल करने की ही सलाह दी जाती है। जब बात लोहे की आती है तो ऐसा माना जाता है कि जब लोहा पानी और हवा के संपर्क में आता है तब इसमें जंग लगने लगता है जो कि पूजा के लिए उपयुक्त नहीं है। ज्योतिष शास्त्र इन सभी धातुओं के इस्तेमाल से बचने की सलाह देता है और इसलिए ही इन धातुओं की मूर्तियों की पूजा भी वर्जित मानी जाती है। 

इसे जरूर पढ़ें:Expert Tips: घर में रखती हैं शालिग्राम, तो जरूर जानें पूजा के ये 7 नियम

पूजा पाठ में हमेशा प्राकृतिक धातुओं का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है और जो कृत्रिम रूप से बनने वाली धातुएं हैं उन्हें पूजा में शामिल न करना ही अच्छा माना जाता है। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:freepik.com 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।