Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    क्या होता है रिलेशनशिप टर्म रेड फ्लैग का मतलब? इंटरनेट पर होता है बहुत इस्तेमाल

    किसी रिश्ते में रेड फ्लैग्स का मतलब क्या होता है और किन रेड फ्लैग्स से बचना चाहिए चलिए आज आपको बताते हैं। 
    author-profile
    Updated at - 2022-12-15,13:22 IST
    Next
    Article
    What do you mean by red flags

    'अरे देखिए-देखिए तो वो सामने रेड फ्लैग है... आपने ध्यान नहीं दिया? तभी तो रिलेशनशिप में इतनी सारी समस्या हो रही है।' आजकल रेड फ्लैग्स के नाम पर इस तरह की बातें गाहे-बगाहे बहुत सुनने को मिलती हैं। रेड फ्लैग्स की बात करें तो अधिकतर इन्हें डेंजर या खतरे का संकेत माना जाता है, लेकिन पिछले कुछ समय में इन्हें रिलेशनशिप के खतरों को बताने के लिए इस्तेमाल किया जाने लगा है। 

    रिलेशनशिप रेड फ्लैग्स असल में क्या हैं और किस तरह से इन्हें पहचाना जाता है इसके बारे में आज हम खुलकर बात करते हैं। अधिकतर लोग किसी ब्रेकअप के बाद ये समझाने आते हैं कि आपको पहले ही रेड फ्लैग्स नहीं दिखे, पर प्यार में क्या भला कोई आसानी से रेड फ्लैग देख सकता है?

    क्या होते हैं रिलेशनशिप रेड फ्लैग्स?

    किसी इंसान की टॉक्सिक पर्सनैलिटी को रेड फ्लैग कहा जा सकता है। रिलेशनशिप की बात करें तो उसकी ऐसी आदतें जिनकी वजह से वो पार्टनर के लिए सही ना हो या फिर वो किसी तरह से पार्टनर को चीट करे, उस पर रौब जताए, उसे अपने मन मुताबिक काम करने से रोके या फिर रिलेशनशिप में किसी भी तरह का गलत काम करे या फिर रिलेशनशिप में अग्रेशन दिखाए तो उसे रेड फ्लैग कहा जा सकता है। 

    relationships and red flags

    नार्सिसिस्ट क्वालिटी, टॉक्सिक बिहेवियर, किसी तरह का मेनिपुलेशन, गैसलाइटिंग जैसे बड़े-बड़े शब्द अधिकतर रेड फ्लैग्स के रूप में दिए जाते हैं। 

    इसे जरूर पढ़ें- आखिर कैसे-कैसे झूठ बोलते हैं बॉयफ्रेंड? 5 लड़कियों ने बताए अजीबोगरीब किस्से

    किसी एक इंसान में कई सारे रेड फ्लैग्स हो सकते हैं। पर ये आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप किस चीज को रेड फ्लैग समझें और किसे नहीं। 

    आमतौर पर रेड फ्लैग्स को कभी भी पहली या दूसरी मुलाकात में नहीं समझा जा सकता है क्योंकि अगर ऐसा हो तो शायद रिलेशनशिप शुरू ही ना हो। रिलेशनशिप के शुरू होने के लिए कई सारी चीज़ों का ध्यान रखना जरूरी है। पर अगर बात करें किस तरह के रेड फ्लैग्स को बिल्कुल भी इग्नोर नहीं करना चाहिए वो हम जान लेते हैं। 

    1. बार-बार झूठ बोलना

    अगर रिलेशनशिप में कोई इंसान बार-बार झूठ बोल रहा है तो उसे रेड फ्लैग ही माना जाएगा। किसी भी रिलेशनशिप में छोटे से लेकर बड़ा कोई भी झूठ खराब ही होता है और इसलिए ये जरूरी है कि इस तरह के रेड फ्लैग को आप पहचानें। 

    red flags defining a relationshi

    2.  लगातार आपका मजाक उड़ाना

    ये किसी भी तरह से हो सकता है जैसे आपके करियर को इग्नोर करना, आपको बार-बार दूसरों के सामने नीचा दिखाना, आपकी बातों का मजाक उड़ाना या आपको लकी कहना क्योंकि वो आपके साथ हैं ये सब कुछ गलत है।  (पार्टनर के इग्नोर करने के पीछे हो सकते हैं ये कारण)

    3. आपके साथ एडजस्ट ना करना 

    आपको हर बात के लिए मना लेना, लेकिन आपके साथ एडजस्ट करने की बात पर बिल्कुल ध्यान ना देना। अगर मिलने का दिन भी तय करना है तो वो करेंगे आप नहीं। अगर किसी चीज के बारे में बात करनी है तो वो करेंगे आप उन्हें कभी खुद से कॉल करें तो वो नाराज हो जाएंगे। ऐसा व्यवहार रेड फ्लैग्स में ही गिना जाता है।  

    4. कंट्रोलिंग व्यवहार और जलन

    रिलेशनशिप में दो लोग हैं तो उन दोनों को साथ ही बात करनी चाहिए, लेकिन अगर कोई एक दूसरे पर हावी होने की कोशिश कर रहा है तो ये गलत है। किसी एक इंसान को दूसरे पर हावी होने की कोशिश बिल्कुल नहीं करनी चाहिए।  

    साथ ही अगर किसी एक इंसान को हमेशा दूसरे से जलन हो रही है या फिर पार्टनर का किसी और से मिलना-जुलना पसंद नहीं है तो ये कंट्रोलिंग व्यवहार और जलन की भावना रेड फ्लैग कही जा सकती है।  

    red flags in a relationship

    इसे जरूर पढ़ें- 'हैप्पी कपल' बनना चाहते हैं तो ये पांच गलतियां कभी ना करें 

    5. रिलेशनशिप में कोई सपोर्ट ना होना 

    वो ना ही आपको अपने घर वालों से मिलवाना पसंद करते हैं, ना ही वो अपने किसी रिश्तेदार से मिलवाना पसंद करते हैं, ना ही उन्हें ये लगता है कि वो आपके किसी रिश्तेदार या दोस्त से मिलें तो ये गलत है। रिलेशनशिप को आगे बढ़ाने के लिए अगर किसी भी तरह का सपोर्ट नहीं मिल पा रहा है तो इसे रेड फ्लैग ही माना जाएगा।  

    वैसे तो ऐसी कई चीजें होती हैं जिन्हें रेड फ्लैग में गिना जा सकता है, लेकिन अगर इन्हें ज्यादा दिनों तक इग्नोर किया गया तो ये आपके लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है। रेड फ्लैग्स को बिल्कुल इग्नोर ना करें। रिलेशनशिप रेड फ्लैग्स के मामले में आपका क्या ख्याल है? इसके बारे में हमें आर्टिकल के नीचे दिए कमेंट बॉक्स में बताएं। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।