जिस प्रकार वास्तु के नियम को फॉलो करते हुए आप घर में प्रत्येक चीज़ रखते हैं और घर का हर एक कोना उसी हिसाब से सजाते हैं। उसी तरह आपकी हाथ वाली घड़ी यानी कि रिस्ट वॉच के लिए भी वास्तुशास्त्र में कुछ नियम बनाए गए हैं। कहा जाता है कि यदि उन नियमों को फॉलो करते हुए आप अपनी रिस्ट वॉच पहनती हैं तो ये आपकी प्रगति का कारण बन सकती है और आपकी किस्मत को भी बदल सकती है। वहीं इसके कुछ नियम न फॉलो करने पर आपको जीवन में असफलताओं का सामना भी करना पड़ सकता है। 

कहा जाता है कि जीवन में अनुशासन बहुत जरूरी है और समय का पालन हमें अनुशासन का पालन करने में मदद करता है। समय की जानकारी के लिए पुराने जमाने के लोग, आकाश में सूरज को देख कर करते थे। इस आधुनिक यांत्रिक युग में घड़ी को देखकर हम समय  का पता लगा सकते हैं। आज के जमाने में घड़ी हमारे जीवन का एक बहुत मुख्य हिस्सा बन गई है। हम घड़ी को अपने हाथ में पहनते है और ऐसा अनुभव करते है कि घड़ी बोलती है कि  समय प्रगतिशील रहता है और किसी के लिए भी नहीं रुकता है। इसलिए जब भी आप रिस्ट वॉच पहनें वास्तु के कुछ नियमों को जरूर फॉलो करें। 

कैसा हो घड़ी का डायल 

wrist watch dial

वास्तु के हिसाब से जब भी आप रिस्ट वॉच पहनें आपको ध्यान में रखना चाहिए कि इसका डायल जरूरत से ज्यादा बड़ा न हो। बड़े डायल की घडी पहनने से आपको जीवन में और करियर में कुछ मुसीबतों का सामना करना पड़ सकता है। बहुत छोटे डायल की घड़ी जिसमें समय ठीक से न दिखे, ऐसी रिस्ट वॉच भी नहीं पहननी चाहिए। हमेशा हाथ वाली घड़ी का डायल एक सामान्य आकार का होना चाहिए। घड़ी का डायल गोल या चक़ोर ज्यादा शुभ माना जाता है।

इसे जरूर पढ़ें:Vastu Tips: घर में दीवार घड़ी की दिशा ही नहीं बल्कि आकार भी बदल सकता है आपकी किस्मत, जानें कैसे

किस हाथ में पहनें घड़ी 

वास्तु की मानें तो आरती जी बताती हैं कि हाथ में घड़ी पहनते समय ऐसा कोई कठोर नियम नहीं है जो आपको इस बात के लिए बाध्य करे कि किस हाथ में घडी पहनना ज्यादा अच्छा होगा। वास्तविकता है कि आप किसी भी हाथ में अपनी सुविधानुसार घड़ी पहन सकती हैं। यदि आपको दाहिने हाथ में घड़ी पहनना सुविधाजनक लगे तो उसमें ही पहनें। (सुख समृद्धि के लिए वास्तु टिप्स )

vastu tips wrist weatch aarti dahiya

कैसा होना चाहिए घड़ी का पट्टा

रिस्ट वॉच पहनते समय आपको घड़ी के पत्ते का ध्यान भी रखना चाहिए। कोशिश करें कि घड़ी हमेशा अपने हाथ की फिटिंग की ही पहनें। कभी भी ढीले पट्टे वाली रिस्ट वॉच न पहनें क्योंकि ये पहनने में तो असुविधाजनक है ही इसके अलावा इस तरह की घड़ी आपके ध्यान को एक जगह पर केंद्रित भी नहीं होने देती है। वास्तु के हिसाब से ऐसी घड़ी आपकी किसी भी क्षेत्र में आफलता का कारण भी बन सकती है। रिस्ट वॉच पहनते समय ध्यान रखें की इसका पट्टा कलाई की हड्डी के पास ही होना चहिए। 

इसे जरूर पढ़ें:Vastu Tips: गुड लक को घर से दूर कर सकती हैं रुकी हुई और बंद घड़ियां, अपनाएं ये वास्तु टिप्स

कैसा हो रिस्ट वॉच का रंग 

wrist watch colour

आरती जी बताती हैं कि गोल्डन और सिल्वर रंग की घड़ी आपके लिए सामान्य रंगो की तुलना में ज़्यादा फ़ायदेमंद मानी जाती है। कोशिश करें कि आप जब भी किसी जॉब इंटरव्यू या परीक्षा के लिए जाएं तब इस तरह की गोल्डन या सिल्वर घड़ी पहनें जिससे सफलता मिले। घड़ी का डायल गोल या चौकोर शुभ रहता है।

Recommended Video

तकिये के नीचे न रखें रिस्ट वॉच 

अक्सर देखा जाता है कि लोग अपनी रिस्ट वॉच को रात्रि में उतार कर कहीं भी रख देते हैं। खासतौर पर बिस्तर में या तकिये के नीचे भी इसे रख देते हैं। लेकिन कभी भी इसे तकिए के नीचे ना रखें क्योंकि यह मस्तिष्क में नेगेटिव ऊर्जा भर सकती है और आपकी नींद को भी बाधित कर सकती है। 

वास्तुशास्त्र के इन नियमों से अगर आप रिस्ट वाच पहनेंगी तो आपको जीवन में सफलता जरूर मिलेगी। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: pixabay and unsplash