Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    काम के चक्कर में पार्टनर रहता है घर से दूर तो बच्चों को कुछ इस तरह करें हैंडल

    अगर आपका पार्टनर काम के चक्कर में घर से दूर रहता है तो आप इन आसान तरीकों से बच्चों को हैंडल कर सकती हैं। 
    author-profile
    • Mitali Jain
    • Editorial
    Updated at - 2019-11-28,17:02 IST
    Next
    Article
    how to handle kids when alone m

    एक बच्चे का पालन-पोषण माता-पिता दोनों की जिम्मेदारी होती है और दोनों ही इसमें अपना योगदान देते हैं। फिर चाहे बात बच्चे की आर्थिक जिम्मेदारी की हो या फिर बच्चों को समय देने और उसकी छोटी-छोटी जरूरतों को पूरा करने की। आज के समय में मम्मी ही नहीं, पापा भी हर जिम्मेदारी निभाते हैं। लेकिन अगर घर परिवार की आर्थिक जिम्मेदारी उठाने के लिए या फिर अपने परिवार को बेहतर सुविधाएं देने के लिए अगर आपका पार्टनर घर से दूर है तो यकीनन बच्चों को संभालना इतना भी आसान नहीं होता। ऐसे में आपको उस समय सिर्फ मां ही नहीं, बल्कि पिता की भूमिका भी निभानी पड़ती है। इसके साथ-साथ आपको अतिरिक्त धैर्य के साथ व्यवहार करना पड़ता है।

    इसे जरूर पढ़ें- ऑफिस के माहौल से बदल सकता है आपकी परवरिश का तरीका, रहें जरा संभलकर

    जब आपका पार्टनर दूर होता है तो आपके लिए चीजें मैनेज करना इतना भी आसान नहीं होता। खासतौर से, अगर आपके बच्चे हों तो कई बार वह अपने पापा को मिस करते हैं तो कभी आपसे तरह-तरह की जिद करते हैं। ऐसे में आप उन्हें जितनी समझदारी से हैंडल करेंगी, बच्चे उतने ही अच्छा व्यवहार करेंगे। इतना ही नहीं, कई बार जब बच्चे बीमार पड़ जाते हैं तो यकीनन उस समय आपका धैर्य टूटने लगता होगा। तो चलिए आज हम आपको उन टिप्स के बारे में बता रहे हैं, जिनकी मदद से आप पार्टनर के दूर रहते हुए भी बच्चों को आसानी से मैनेज कर सकती हैं-

    बताएं सच्चाई

    tips to handle kids when alone ()

    यह सच है कि बच्चे अपनी मां से बेहद प्यार करते हैं, लेकिन वहीं दूसरी ओर वह अपने पापा से भी उतना ही इमोशनली जुड़े होते हैं। ऐसे में बच्चे बार-बार उनके पास जाने या पापा से वापिस लौटने की जिद करते हैं। कुछ पैरेंट्स बच्चे का मन बहलाने के लिए कह देते हैं कि पापा जल्दी आएंगे, लेकिन जब उसके पापा घर नहीं आते तो इससे बच्चे को बेहद बुरा लगता है। 

    Recommended Video

    इसलिए यह जरूरी है कि आप बच्चे को सच बताएं। मसलन, अगर आपका पार्टनर इंडिया से बाहर है और उसे आने में वक्त लगेगा तो आप बच्चे से इसे छिपाएं। उसे प्यार से व सही कारण बताते हुए सच बता दें। हो सकता है कि शुरूआत में बच्चे को थोड़ा बुरा लगे, लेकिन बाद में बच्चा सच्चाई को स्वीकार कर लेता है और इस तरह वह इमोशनली मजबूत भी बनता है।

    फेस कॉलिंग

    tips to handle kids when alone ()

    आज के समय में स्मार्टफोन की मदद से पार्टनर के दूर होते हुए भी उसके दूर होने का अहसास नहीं होता। आप खुद तो अपने पार्टनर से बात करती हैं ही, साथ ही कुछ वक्त के लिए बच्चों को भी पार्टनर से फेस कॉल करवाएं। इससे बच्चा अपने पापा से दूर नहीं होगा। वह फोन पर भी अपने पापा से जुड़े होने का अहसास करता है और पहले की ही तरह अपनी सारी बातें अपने पापा से शेयर कर पाता है।

    ना करें ओवर पैम्पर

    tips to handle kids when alone

    यह गलतियां अक्सर महिलाएं करती हैं। जब पार्टनर दूर होता है तो बच्चों को हैंडल करने के लिए महिला बच्चे की सारी बातें आसानी से मान लेती हैं और उन्हें जरूरत से ज्यादा पैम्पर करती हैं। आपको भले ही लगता हो कि ऐसा करके आप बच्चों को खुश कर रही हैं, लेकिन वास्तव में आप उन्हें जिद्दी बना रही हैं। इसलिए घर मंे कुछ नियम जरूर तय करें और सिर्फ बच्चे ही नहीं, आप भी उन्हें मानें।

    इसे जरूर पढ़ें- इन एक्सरसाइज की मदद से दौड़ने लगेगा बच्चे का दिमाग

    मसलन, अगर आपने यह डिसाइड किया है कि बच्चे घर में नौ बजे तक सो जाएंगे, तो आप भी उनके साथ सोएं। अगर आपको सोना नहीं है तो भी उनके साथ कम से कम तब तक लेटें, जब तक वह सो ना जाएं।

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।