इन्वर्टर की बैटरी अधिक देर नहीं चलने की कई वजह हो सकती है लेकिन, अगर सही से उसकी देखभाल की जाए तो एक नहीं बल्कि कई घंटों तक आसानी से चलती है। अगर आपके इन्वर्टर की बैटरी आधे-एक घंटे से अधिक नहीं चलती है, तो फिर आपको सही से देखभाल करने की ज़रूरत है। एक अनुमान के तरह हर दूसरे महीने में बैटरी का पानी और करंट सप्लाई स्थान को चेक करते रहना चाहिए। अगर पानी सामान्य नहीं रहता है, तो बैटरी को आप कितना भी चर्च कर लें अधिक से अधिक एक-दो घंटे बाद नहीं चलती है। ऐसे में हम आपके साथ कुछ टिप्स शेयर करने जा रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप आसानी से बैटरी के लॉन्ग लाइफ को बढ़ा सकती हैं, तो आइए जानते हैं-

बैटरी का पानी लेवल चेक करें

proper working inverter battery

इन्वर्टर की बैटरी अधिक देर तक नहीं चलने की वजह में सबसे पहली वजह है डिस्टिल्ड वाटर (एसिड) का सही से इस्तेमाल नहीं करना। बैटरी के लॉन्ग लाइफ के लिए एक से दो महीने के अंदर इस पानी को बदलना बहुत ज़रूरी है। इस पानी की वजह से बैटरी में मौजूद कार्बन प्लेट्स जल्दी खराब नहीं होते हैं, जिसकी वजह से एक नहीं बल्कि कई घंटों तक बैटरी चलती रहती है। ध्यान रहें बैटरी में डिस्टिल्ड वाटर अधिक डालना भी सही नहीं होता है।  

इसे भी पढ़ें: इन्वर्टर का इस तरह रखें ख्याल, बैटरी भी ख़राब नहीं होगी सालों तक

न करें ये गलतियां इन्वर्टर के साथ 

inverter battery tips care

अगर आपको इन्वर्टर के बारे में अधिक जानकारी नहीं तो फिर आपको बैटरी के साथ छेड़छाड़ करने से बचना चाहिए। कई लोग ऐसे होते हैं, जो नार्मल पानी को गरम करके बैटरी के अंदर डाल देते हैं। ऐसे में एक घंटा क्या आधे घंटे भी बैटरी नहीं चलती है। कई लोग ऐसे होते है कि लाइट नहीं रहने पर मिक्सर, आयरन आदि चीजों का इस्तेमाल इन्वर्टर से ही करने लगते हैं। (सोलर इन्वर्टर की देखभाल के टिप्स) आपको बता दें कि इन चीजों के इस्तेमाल से भी बैटरी पर बुरा असर पड़ता है। इन्वर्टर को दीवार से एकदम करीब ना रखकर कुछ इंच की दूरी पर ही रखें। अधिक लोड देने से बचे। 

Recommended Video

पहुंचें मैकेनिक के पास

know tips for proper working inverter battery

खुद से किसी भी चीज का मास्टर बनान कभी-कभी नुकसान भी पहुंचा सकता है। इसलिए, अगर इन्वर्टर की बैटरी आधे-एक घंटे से अधिक नहीं चलती है, तो उसे ठीक करने के लिए आपको मैकेनिक के पास ज़रूर पहुंचना चाहिए। कई बार लाइट उप-डाउन करने की वजह बैटरी की कार्बन प्लेट पर बुरा असर पड़ता है, जिकसी वजह से बैटरी जल्दी ही खत्म हो जाती है। एक बैटरी में तक़रीबन 10-12 कार्बन प्लेट होते हैं। अगर बैटरी में मौजूद एक भी प्लेट ख़राब होता है तो आपको  मैकेनिक के पास लेकर ज़रूर जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: फ्रिज का ठीक से इस्तेमाल न करने से लग गई है फंगस तो इन टिप्स से मिनटों में करें साफ़

इन बातों का भी रखें ध्यान 

tips for proper working inverter battery and clean

  • लाइट उप-डाउन के दौरान इन्वर्टर को बंद करके ही रखें।
  • बैटरी में मौजूद टर्मिनल (जहां से बिजली सप्लाई होती है) की नियमित सफाई करें।
  • इसके अलावा आप बैटरी को जमीन पर न रखकर किसी लकड़ी, पत्थर या फिर टेबल पर रखें, क्योंकि नमी की वजह से भी बैटरी पर बुरा असर पड़ता है।
  • अगर आप घर से कुछ दिनों के लिए बाहर जा रहे हैं तो इन्वर्टर को बंद करके ही निकले।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।Credit

Image Credit:(@hz,i.ytimg.com)