कोई भी इंसान कभी परफेक्ट नहीं होता और हम व्यक्ति में कुछ ना कुछ कमियां होती ही हैं। ऐसे में जब हम किसी के साथ एक रिश्ते में होते हैं तो हमें सामने वाले व्यक्ति की अच्छाईयों के साथ-साथ उसकी खामियां भी नजर आती हैं और हो सकता है कि उस बात को लेकर हम सामने वाले व्यक्ति से शिकायत भी करें। हालांकि इसमें कोई बुराई नहीं है। जब हम एक रिश्ते में हैं तो दोनों ही पार्टनर को एक-दूसरे को बेहतर इंसान बनाने के लिए काम करना चाहिए। लेकिन कुछ लोगों की आदत होती है कि वह हर व्यक्ति में सिर्फ कमियां देखकर शिकायत ही करते रहते हैं। इतना ही नहीं, उन्हें किसी भी चीज, व्यक्ति या स्थिति में कोई भी पॉजिटिव या अच्छी बात नजर ही नहीं आती। ऐसे लोग वास्तव में स्वभाव से एक शिकायतकर्ता होते हैं और अपनी आदत से मजबूर वे हरदम सिर्फ चिढ़-चिढ़ या शिकायत ही करते रहते हैं। कहीं आपका नाम भी तो इस लिस्ट में नहीं है, यह जानने के लिए आप इस लेख को पढ़ें। आज हम आपको ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में बता रहे हैं, जो यह बताते हैं कि आप एक बहुत बड़ी कंप्लेनर हैं और आपको इसका अहसास तक नहीं है-

हरवक्त चिढ़चिढ़ा महसूस करना

 complainer inside

एक कंप्लेनर का सबसे बड़ा लक्षण यह होता है कि वह हर चीज के बारे में चिढ़चिढ़ा महसूस करते हैं और उनके खिलाफ सवाल उठाते हैं। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि वह दूसरों में ही नहीं, बल्कि खुद से भी संतुष्ट नहीं होते। जिसके कारण उन्हें हर चीज में केवल खामियां ही नज़र आती हैं और धीरे-धीरे वे फ्रस्टेट होने लगते हैं।

परफेक्शन की चाहत

 complainer inside

जो लोग एक शिकायतकर्ता होते हैं, वे हमेशा एक परफेक्शन की चाहत रखते हैं। फिर भले ही वह खुद में हो या फिर उनसे जुड़े व्यक्ति के बारे में। यही कारण होता है कि वे हरदम हर चीज को लेकर शिकायत करते हैं। इतना ही नहीं, वह खुद में भी हरदम कमियां ही खोजते हैं और अगर कोई उनकी तारीफ भी करता है तो वे उसे भी हैंडल नहीं कर पाते हैं और उन्हें वह उनकी तारीफ कम और बल्कि आलोचना अधिक महसूस होती है।

इसे जरूर पढ़ें: रिश्ते को बेहतर और लॉन्ग लास्टिंग बनाने के लिए इन Emotional Needs को जरूर करें पूरा

दोस्तों से दूरी

 complainer inside

जो लोग स्वभाव से कंप्लेनर होते हैं, उनका फ्रेंड व सोशल सर्कल काफी कम होता है। उनके दोस्त उन्हें किसी भी गेट टू गेदर में बुलाना पसंद नहीं करते। यह शायद इसलिए है क्योंकि वे एक कंप्लेनर नॉनस्टॉप शिकायत को सुनकर थक गए हैं और अब इस चीज से बचना चाहते हैं। इतना ही नहीं, लोग अब उनसे कोई मदद या सलाह भी नहीं लेना चाहते हैं।

इसे जरूर पढ़ें: कहीं आपकी टीनेजर बेटी तनाव में तो नहीं, पहचाने इन संकेतों से

Recommended Video

लोगों का बार-बार टोकना

 complainer inside

अगर आप स्वभाव से एक कंप्लेनर हैं और आपको खुद से इसका अहसास नहीं होता है तो हो सकता है कि अब आपको अपने पार्टनर, दोस्तों या परिवारजनों के जरिए इस बात की शिकायतें होने शुरू हो गई हों। वह आपसे कहते हों कि अब छोड़ो भी, हर बात पर कितनी शिकायत करती हों या फिर बात-बात पर शिकायतें करना सही नहीं है। अगर इस तरह के शब्द आपको दूसरों से सुनने को मिल रहे हैं तो यह भी बताता है कि आप एक बहुत बड़ी कंप्लेनर हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik