सानिया मिर्जा खेल की दुनिया का एक ऐसा नाम है जिन्हें कई लड़कियां अपनी इंस्पिरेशन के तौर पर देखती हैं। वह देश की पहली ऐसी महिला टेनिस प्लेयर हैं जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय महिला टेनिस के एकल और डबल में शीर्ष भारतीय का नंबर वन खिलाड़ी हैं। वह अपने शानदार गेम के साथ-साथ अपने स्वतंत्र विचारों और फैशनेबल लुक के लिए भी जानी जाती हैं। उन्होंने अपने कई सोशल मीडिया पोस्ट्स और इंटरव्यू में लड़कियों को खेल के क्षेत्र में आगे बढ़ने का प्रोत्साहन दिया है।

चौथी बार ले रहीं ओलंपिक गेम्स में हिस्सा

Sania Mirza

सानिया मिर्जा ने साल 2018 में अपने बेटे इजहान मिर्जा को जन्म दिया था। मां बनने के बाद कुछ टाइम तक वह टेनिस कोर्ट से दूर रहीं और साल 2020 में उन्होंने दोबारा वापसी की। अब वह देश का प्रतिनिधित्व टोक्यो ओलंपिक में करने जा रही हैं। खेल के इस महाकुंभ में हिस्सा लेने के लिए वह खूब मेहनत कर रही हैं। आपको बता दें कि यह मौका उनके लिए बहुत खास है क्योंकि सानिया पहली भारतीय महिला हैं जो चौथी बार ओलंपिक गेम्स में हिस्सा लेने वाली हैं। मदरहुड के बाद यह उनका पहला ओलंपिक गेम्स है। आपको बता दें कि सानिया मिर्जा और रोहन बोपन्ना की अनुभवी जोड़ी ने विम्बलडन मिक्स्ड डबल्स के पहले दौर के मैच में हमवतन रामकुमार रामनाथन और अंकिता रैना की जोड़ी को 6-2, 7-6 से हरा दिया हैं। इससे पहले उन्होंने अमेरिकी प्लेयर बेथनी माटेक के साथ मिलकर विम्बलडन विमेंस डब्लस में पहले दौर में जीत हासिल कर के दूसरे दौर में जगह बनाई है। 

इसे ज़रूर पढ़ें-जानें हाईकोर्ट की पहली महिला चीफ जस्टिस लीला सेठ के बारे में

ओलंपिक गेम्स में हिस्सा लेना गर्व की बात

Sania Mirza

एक बड़े मीडिया हाउस से बात करते हुए सानिया ने कहा कि, 'अगर किसी ने मुझे पहले ओलंपिक में यह कहा होता कि मैं दूसरे ओलंपिक में भी जाने वाली हूं तो मैं इसे सिर्फ मजाक समझती और इस बात पर हंसती। लेकिन, यह मौका मेरे लिए बहुत खास है क्योंकि यह मेरा चौथा ओलंपिक है। एक बच्चे को जन्म देने के बाद भी मैं ऐसा कर रही हूं, इस बात का मुझे बहुत गर्व है। दुनिया की सबसे उच्च स्तरीय प्रतिस्पर्धा में चौथी बार हिस्सा लेना मेरे लिए बहुत गर्व की बात है।'

इसे ज़रूर पढ़ें- टीवी की इन एक्ट्रेसेस ने खुद से दुगनी उम्र के एक्टर के साथ पर्दे पर किया रोमांस, देखें लिस्ट 

Recommended Video

समाज की सोच को बदलतीं सानिया

Sania Mirza

आज भी हमारे समाज में लोग मां बनने के बाद महिलाओं से यह आशा रखते हैं कि वह अपना करियर छोड़ दें। उनका यही मानना है कि मां बनने के बाद एक महिला का करियर खत्म हो जाता है। लेकिन, आज हमारे समाज में कई ऐसी महिलाएं हैं जो इस सोच को बदलने में कामयाब रही हैं और सानिया मिर्जा उन बेहद कम महिलाओं में से एक हैं। एक बड़े मीडिया हाउस को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि, 'मैं उम्मीद करती हूं कि ये कई युवा मांओं के लिए एक प्रेरणा की तरह काम करें और वो समझें कि बच्चे को जन्म देने के बाद उन्हें अपने सपनों को छोड़ने की जरूरत नहीं है। मां बनने के बाद भी अपने सपनों को पूरा कर सकती है।' (सानिया के इन लुक्स से लें इंस्पिरेशन)

आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ जुड़ी रहें।

 (Image Credit: Instagram)