• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

सोमवार के दिन शिव पूजन में भूलकर भी न करें ये गलतियां, हो सकता है भारी नुकसान

किसी भी भगवान की पूजा का एक अलग विधान होता है और उसी के अनुसार पूजन करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है।   
Published -06 Jun 2022, 11:50 ISTUpdated -06 Jun 2022, 12:13 IST
author-profile
  • Samvida Tiwari
  • Editorial
  • Published -06 Jun 2022, 11:50 ISTUpdated -06 Jun 2022, 12:13 IST
Next
Article
monday puja vidhi

सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा और व्रत का विशेष महत्व होता है। भगवान् शिव को भोले भंडारी भी कहा जाता है और ऐसा माना जाता है कि भक्तों की पूजा से शीघ्र प्रसन्न भी हो जाते हैं। भगवान शिव बेहद दयालु हैं। वो अपने भक्तों को कभी भी निराश नहीं करते हैं। वे उनकी पूजा आराधना से प्रसन्न होकर उनकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं। मुख्य रूप से सोमवार के दिन व्रत करने से भगवान शिव एवं माता पार्वती दोनों प्रसन्न होते हैं।

ऐसा माना जाता है कि यदि कुंवारी लड़कियां सोमवार का उपवास करती हैं एवं शिव जी की पूजा उपासना करती हैं उन्हें भगवान शिव जैसे पति मिलते हैं। लेकिन अगर शिव जी की पूजा-अर्चना में किसी प्रकार की भूल हो जाए तो भगवान रूष्ट भी हो सकते हैं। इसलिए बहुत जरूरी है कि इनकी पूजा अर्चना करते में कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए। आइए ज्योतिषाचार्य एवं वास्तु विशेषज्ञ डॉ.आरती दहिया जी से जानें भगवान शिव की पूजा में किन गलतियों को करने से बचना चाहिए। 

इस रंग के वस्त्र धारण करें

shiv puja clothes

सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा और व्रत का विशेष महत्व होता है। शास्त्रों के मुताबिक सोमवार के दिन शिव जी को प्रसन्न करने के लिए पूजा में हरा, लाल, सफेद, केसरिया, पीला या आसमानी रंग का वस्त्र पहनना शुभ माना जाता है। इसलिए इन रंगों को धारण करें। भूलकर भी पूजा में काले रंग के कपड़े न पहनें। 

इसे जरूर पढ़ें:घर की सुख समृद्धि के लिए भगवान शिव को भूलकर भी न चढ़ाएं ये 10 चीज़ें

उपवास कैसे करें 

सोमवार के दिन अगर आप व्रत रख रहे हैं तो ध्यान रखें कि इस दिन फलाहारी व्रत का ही पालन करें या फिर मीठा भोजन करें। कोशिश करें कि इस दिन केवल मीठी चीजों का ही सेवन करें।

ऐसे करें शिवजी की पूजा-अर्चना

shiv parvati puja

सोमवार के दिन शिव जी की पूजा के साथ माता पार्वती और नंदी की भी पूजा अवश्य करें। शिवजी की पूजा में रोली, हल्दी (शिव जी को क्यों नहीं चढ़ाई जाती है हल्दी)या सिंदूर का तिलक नहीं करना चाहिए। आप उन्हें चंदन का तिलक लगाएं ये बेहद ही शुभ माना जाता है। भगवान शिव को चावल (अक्षत) अर्पित करें। यहां इस बात का विशेष ध्यान रखें कि चावल का दाना टूटा हुआ नहीं होना चाहिए।

Recommended Video

पूजा में कौन से फूल न अर्पित करें 

वैसे तो भगवान शिव को सफेद रंग के फूल काफी पसंद होते है। ऐसे में उनकी पूजा में सफेद रंग के फूलों को जरूर चढ़ाना चाहिए। शमी का पत्ता, धतूरा, बिल्व, चंपा, चमेली आदि के पुष्प पूजा में चढ़ाएं। लेकिन गलती से भी उन्हें केतकी का फूल न चढ़ाएं। केतकी का फूल भगवान शिव को पूजा में स्वीकार्य नहीं होता है। 

पूजा के समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए 

shiv ling pujan

  • पूजन के दौरान महामृत्युंजय मंत्र का 108 बार जाप करें। इससे शांति एवं सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है। इसके अलावा नमः शिवाय, ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जाप भी करना चाहिए।
  • भगवान शिव पर दूध चढ़ाते समय यह ध्यान रखें कि दूध ताम्बे के लोटे में न डालें। इसके लिए स्टील के लोटे का इस्तेमाल कर सकते हैं।  
  • शिवजी की पूजा को बीच में आधा-अधूरा छोड़ कर नहीं उठना चाहिए।
  • शिवलिंग पर दूध, दही, शहद या कोई भी वस्तु चढ़ाने के बाद जल जरूर चढ़ाएं तभी जलाभिषेक पूर्ण होता है।
  • भगवान शिव की पूजा में तुलसी का प्रयोग भूलकर भी ना करें।
 

सोमवार के दिन यदि आप शिव पूजन में यहां बताई गयी कुछ बातों का ध्यान रखती हैं तो आपकी सभी मनोकामनाओं की पूर्ति हो सकती है। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik.com

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।