क्या आप कल्‍पना कर सकती हैं कि हमारे देश से लंदन के लिए बसें चला करती थी? आपको यह हैरान करने वाली बात लग रही होगी, लेकिन यकीन मानिए यह सच है और वो भी 1950 का सच। जी हां, 1950 के उत्तरार्ध में कोलकाता से लंदन के बीच लग्जरी बस सेवा हुआ करती थी। उस दौर में यह बस सेवा दुनिया की सबसे लंबी बस यात्रा हुआ करती थी। यह रूट काफी लंबा था और अपने गंतव्य तक पहुंचने में काफी समय लगता था। इस शानदार बस सेवा का जिक्र दोबारा से इसलिए हो रहा है क्‍योंकि सोशल मीडिया पर इन दिनों इस दिलचस्प रूट की तस्वीरें वायरल हो रही हैं। तो चलिए जानते हैं इस यात्रा के बारे में कुछ और रोचक बातें।

london to kolkata bus services some facts inside

इसे जरूर पढ़ें: शांति निकेतन में कला से लेकर पढ़ाई तक, जानें कुछ रोचक बातें

कब से कब तक चली यह बस सेवा-

इस बस सेवा को सिडनी की एक कंपनी अल्बर्ट टूर एंड ट्रेवल्स संचालित करती थी। यह बस सेवा 1950 से लेकर 1973 तक जारी रही।

कितने दिनों का होता था सफर-

जो तस्‍वीरे सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं वह लंदन के विक्टोरिया कोच स्टेशन की हैं। इसमें यात्री 'अल्बर्ट' नाम की बस पर सवार हो रहे हैं। यह बस लंदन से कोलकाता (कोलकाता की अंडरवाटर मेट्रो ट्रेन) के लिए चलती थी। लंदन से कोलकाता पहुंचने में इसे 45 दिनों का समय लगता था, तो जाहिर सी बात है कि यह बस कई जगहों पर रूक-रूक कर आती होगी क्‍योंकि इतनी लंबी दूरी को लगातार तय करना काफी मुश्किल है। यह बस लंदन से शुरू होकर बेल्जियम, ऑस्ट्रिया, पश्चिम जर्मनी, यूगोस्लाविया, बुल्गारिया, तुर्की, ईरान, अफगानिस्तान और पश्चिम पाकिस्तान से होते हुए भारत पहुंचती थी।

 

किराया-

इसका एक तरफ का किराया 145 पाउंड होता था जो कि उस समय के हिसाब से काफी मंहगा था। इसके टिकट की तस्‍वीर भी वायरल हो रही है जो काफी दिलचस्प है। इस टिकट में किराए से लेकर बस का रूट, ठहरने का स्थान समेत कई सारी जानकारियां लिखी हुई हैं। लंदन से कोलकाता (कोलकाता के बाजारों के बारे में जानें) की यात्रा में 45 दिनों का समय लगता था और इसका किराया 85 पाउंड (8000 रु) था जिसे 1972 में बढ़ाकर 145 पाउंड (वर्तमान समय में 13,644 रुपये) कर दिया गया। बस के किराये में बस का किराया समेत नाश्ता, खाना और रास्ते के होटलों में रुकने का खर्चा भी शामिल हुआ करता था।

Recommended Video

किन-किन शहरों से गुजरती थी-

भारत में एंट्री करने के बाद यह बस दिल्ली, आगरा, इलाहाबाद, बनारस से होते हुए कोलकाता पहुंचती थी।

बस में मिलने वाली सुविधाएं-

बस में यात्रियों के लिए स्लीपिंग बर्थ की सुविधा थी। बस में किताबें पढ़ने और बाहर का नजारा देखने के लिए एक खास बालकनी भी थी। इस बस सेवा में सैलून की सुविधा भी थी। साथ ही, लाउंज, फैन, हीटर, कालीन और रेडियो भी हुआ करते थे।

हवाई यात्रा की सुविधा-

अल्बर्ट टूर एंड ट्रेवल्स कंपनी यात्रियों को भारत और पाकिस्तान के बीच बॉर्डर बंद होने की स्थिति में पाकिस्तान से हवाई यात्रा के जरिए भारत लाने की सुविधा भी देता था और यह उसके टिकट पर लिखा हुआ है। इस ट्रेवल्स कंपनी ने लंदन और ब्रिटेन के बीच पद्रंह ऐसी लक्जरी यात्राएं भी करवाई।

london to kolkata bus services facts inside

कोलकाता से विदेश चलने वाली कुछ अन्‍य बस सेवाएं-

कोलकाता से विदेशी जगहों के लिए कुछ अन्‍य बस सेवाएं भी उपलब्‍ध हैं जिनमें कोलकाता से भूटान और कोलकाता से बांग्लादेश के बीच चलने वाली बसें शामिल हैं।

इसे जरूर पढ़ें: दक्षिणेश्वर काली मंदिर के बारे में जानें कुछ अनसुनी रोचक बातें, जानें मंदिर बनने के पीछे की कहानी

आपको बता दें उस दौर में सिर्फ लंदन और भारत के बीच ही लंबी बस यात्रा नहीं होती थी बल्कि लंदन से आस्ट्रेलिया के बीच भी लग्जरी बस सेवा चलती थी।

अगर आपको ये जानकारी अच्छी लगी तो जुड़ी रहिए हमारे साथ। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए पढ़ती रहिए हरजिंदगी।

Photo courtesy- (@RKDasgupta, i0.wp.com)