पूर्व मिस यूनिवर्स, पॉपुलर बॉलीवुड एक्ट्रेस, सेलेब्रिटी मॉम और देश के चर्चित टेनिस प्लेयर महेश भूपति की पत्नी लारा दत्ता आज अपना 41वां बर्थडे मना रही हैं। 16 अप्रैल 1978 को उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में पैदा हुईं लारा दत्ता साल 2000 में मिस यूनिवर्स का खिताब जीतकर देश ही नहीं दुनियाभर में मशहूर हो गई थीं। सुष्‍मिता सेन के बाद देश के लिए मिस यूनिवर्स का खिताब जीतने वाली लारा दत्ता पद्मश्री और पद्म भूषण जैसे नेशनल अवॉर्ड्स से नवाजी जा चुकी है।

lara dutta former miss universe inside

लारा दत्ता के इस जवाब से इंप्रेस हो गए थे जजेज

मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाली महिलाओं को कई राउंड्स से गुजरना पड़ता है। खूबसूरत होने के साथ-साथ टैलेंट रखने वाली महिलाएं यहां बाजी मारती हैं। लारा दत्ता ने इस कॉन्टेस्ट को जीतकर अपनी योग्यता साबित कर दी थी। प्रतियोगिता के दौरान पूछे गए एक अहम सवाल का जवाब का लारा दत्ता ने ऐसा जवाब दिया कि उसे सुनकर जजेस उनसे इंप्रेस हो गए। क्या था ये सवाल और लारा ने इसका क्या जवाब दिया, जानिए-

लारा ने दिया था ये जवाब 

लारा से सवाल किया गया था, 'बाहर मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता को लेकर विरोध किया जा रहा है कि इससे महिलाओं का अपमान होता है। विरोधियों को कैसे समझाएंगी कि वे गलत हैं।' गौरतलब है कि उसी साल लोगों ने ब्‍यूटी कॉन्टेस्ट के आयोजन पर अपना विरोध दर्ज कराया था। लारा ने इस सवाल का जवाब इन शब्दों में दिया था, 'मुझे लगता है कि मिस यूनिवर्स जैसी प्रतियोगिताएं हम युवा महिलाओं को अच्छा प्लेटफॉर्म देती हैं और अपने मनपसंद क्षेत्र में आगे बढ़ने में हमारी मदद करती हैं, फिर चाहे कारोबार हो, सशस्त्र बल हो या फिर राजनीति। यह प्लेटफॉर्म हमें हमारी पसंद और सजेशन रखने का मौका देता है। हमें मजबूत और आजाद बनाता है, जैसे हम हैं। लारा का यह जवाब बाकी कंटेस्टेंड्स से बिल्कुल जुदा था और बहुत ज्यादा इंप्रेसिव था और इसी जवाब ने उन्हें प्रतियोगिता का विनर बनाया दिया।

इसे जरूर पढ़ें: सॉरी कहने से आप छोटे नहीं हो जाएंगे, लारा दत्ता ने बताए सक्सेसफुल रिलेशनशिप के राज़

मां जेनिफर से मिला आगे बढ़ने का हौसला 

लारा दत्ता जिस समय में मिस यूनिवर्स बनी थीं, वह समय आज की तुलना में महिलाओं के लिए उनता ज्यादा प्रोग्रेसिव नहीं था। विश्व स्तर की सौंदर्य प्रतियोगिता जीतने के लिए लारा को प्रेरणा अपने घर से मिली। दरअसल लारा दत्ता की मम्मी सन 1967 में मिस इंडिया फर्स्ट रनर अप रही थीं और उन्होंने मद्रास को रिप्रसेंट किया था। उन्होंने लारा को हमेशा आगे बढ़ने और चैलेंजेस एक्सेप्ट करने का हौसला दिया। लारा दत्ता अपने कई इंटरव्यूज में अपनी सफलता का श्रेय अपनी मां को दे चुकी हैं। 

लारा ने एक इंटरव्यू में कहा था, 'मैं आज जहां भी हूं और मैंने जो कुछ भी हासिल किया है, उसका श्रेय मैं अपनी मां जेनिफर को देना चाहती हूं। मैं ऐसी फिल्म करना चाहती हूं, जिसमें मेरा काम देखकर मां को गर्व महसूस हो। 

लारा जब भी हारी, मां ने उन्हें फिर से उठ खड़े होने का हौसला दिया। लारा ने एक इंटरव्यू में बताया, 'मैंने अपनी मां से ही सीखा है कि कभी हार नहीं मानो और अगर गिर जाओ, तो फिर से उठो और आगे बढ़ो। मंजिल जरूर मिलेगी। स्कूल में मैं बहुत शरारती थी, रोज मेरी शिकायत मां के पास पहुंचती और मां जब मुझे डांटतीं, तो मेरा जवाब होता कि मैं आपकी बेटी नहीं, बेटा हूं।'

lara dutta former miss universe and her mother inside

लारा ने अपने करियर के दौरान मां के सपोर्ट देने पर कहा था, 'मैंने जब मॉडलिंग की शुरुआत की थी, तब मां ने मेरा बहुत साथ दिया था। इसी से मुझे बड़े लक्ष्य हासिल करने की इंस्पिरेशन मिली। काम के सिलसिले में मुझे बार-बार मुंबई आना पड़ता था। जब काम ज्यादा बढ़ गया, तो मैंने मुंबई शिफ्ट हो गई। ऐसे में मां ने मुझे सपोर्ट किया और मेरा कॉन्फिडेंस बढ़ाया। मां से मिले इसी कॉन्फिडेंस के दम पर मैंने मुंबई में अपनी पहचान बनाई। जब मैंने 'मिस यूनिवर्स' का ताज पहना था, तो मां का सिर गर्व से ऊंचा हो गया था। तब उनकी खुशी को देखकर मुझे जिंदगी का सबसे बड़ा सेटिसफेक्शन मिला था।' 

Image Courtesy: Instagram (@larabhupathi)

Loading...
Loading...