प्यार का रिश्ता किसी भी व्यक्ति के लिए कितना भी खास क्यों ना हो, लेकिन एक सच यह भी है कि उस रिश्ते में खुशी तभी बरकरार रह सकती है, जब दोनों ही पार्टनर एक-दूसरे के पर्सनल स्पेस को मेंटेन रखें और उसका सम्मान भी करें। हो सकता है कि आप भी कुछ ऐसा ही चाहती हों, लेकिन फिर आपके मन में बार-बार अपने पार्टनर का फोन चेक करने का मन करता है तो यकीन मानिए, यह आदत आपके रिश्ते के लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं है। सबसे पहले तो इससे रिश्ते में भरोसा टूटता है और झगड़े बढ़ते हैं। हो सकता है कि आपकी इस आदत के चलते आपका पार्टनर धीरे-धीरे आपसे दूर होने लगे। लेकिन अगर आप ऐसा नहीं चाहती हैं तो आपको अपनी इस आदत को बदलना होगा। हालांकि इस आदत को बदलना इतना भी आसान नहीं है। कभी-कभी आप पार्टनर पर अपना हक जताकर उसका फोन कर भी लें, लेकिन इससे पार्टनर को काफी बुरा लग सकता है। तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बता रहे हैं, जिन्हें अपनाने के बाद आप अपनी इस आदत में सुधार कर सकती हैं-

खुद से करें सवाल

 partner security inside

अगर आपके मन में किसी चीज की इच्छा होती है तो उसके पीछे कोई वाजिब कारण भी होता है। इसलिए अगर आपके मन में बार-बार पार्टनर का फोन चेक करने की इच्छा होती है तो ऐसे में एकांत में शांत दिमाग से खुद से सवाल करें। यकीन मानिए आपको इसका जवाब जरूर मिल जाएगा। हो सकता है कि अतीत में आपने धोखा खाया हो या फिर आपको किसी बात से पार्टनर पर शक होता हो। ऐसे में जब आपको कारण का पता होगा तो उसे सॉल्व करना भी आसान होगा। (अगर पार्टनर ने दिया है आपको धोखा तो रिश्ते में कुछ इस तरह जगाएं दोबारा विश्वास)

पार्टनर से करें बात

 partner security inside

चोरी-छिपे पार्टनर का फोन चेक करने की जगह बेहतर होगा कि आप अपने पार्टनर से इस बारे में बात करें। उनके सामने अपने मन में डर या फिर शक आदि को जाहिर करें। हालांकि इस दौरान पार्टनर पर बेवजह आरोप ना लगाएं। बस अपने विचारों को साझा करें। जब आप ऐसा करेंगी तो इससे आपका मन भी काफी हल्का हो जाएगा, वहीं दूसरी ओर पार्टनर भी आपकी मनोदशा को समझेगा और शायद आपकी कुछ मदद भी कर पाए।

इसे जरूर पढ़ें: नौकरी की तलाश में होने लगी है टेंशन तो करें ये 7 काम, परेशानी को ऐसे करें दूर

लगाएं पासवर्ड

 partner security inside

आजकल स्मार्टफोन में सिक्योरिटी सिस्टम बेहतरीन है। ऐसे में अगर आपको पार्टनर का फोन चेक करने की इच्छा होती है। ऐसे में आप अपने पार्टनर से फोन में पासवर्ड लगाने के लिए कह सकती हैं। साथ ही उनसे यह भी कहें कि वह पासवर्ड आपके साथ शेयर ना करें। इस तरह से आपको शुरूआती दिनों में यकीनन थोड़ी बैचेनी हो, लेकिन फिर धीरे-धीरे पार्टनर का फोन चेक करने की आदत खुद ब खुद छूटती जाएगी।

इसे जरूर पढ़ें: कंगना रनौत सहित इन एक्ट्रेसेस ने भी बनाया था विदेशी बॉयफ्रेंड, कुछ साल तक डेट करने के बाद हुए अलग

Recommended Video

सामने ही यूज करें फोन

 partner security inside

अगर आपको पार्टनर की किसी बात पर शक है या फिर आपको उनके फोन में कुछ चेक करना है तो बेहतर होगा कि आप चोरी-छिपे ऐसा करने की जगह उनसे सामने से फोन मांगे। साथ ही साथ उनके सामने फोन चेक करें।  अगर आपको किसी बारे में उनसे पूछना है तो तभी क्लीयर कर लें। अपने मन में ही कोई ख्याली पुलाव ना पकाएं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik