प्यार और क्रश की पहेली में अक्सर युवा उलझे रहते हैं। उनको कई बार समझ ही नहीं आता है कि जिसके बारे में वो दिन-रात सोचते रहते हैं वह उनका प्यार है या फिर क्रश। कई बार तो लोग अपने क्रश को ही प्यार समझ बैठते हैं और उसके साथ जीने-मरने के सपने देखने लगते हैं। वहीं, क्रश द्वारा इनकार करने के बाद कुछ युवा अपने आप को नुकसान भी पहुंचा लेते हैं। उन्हें उस समय ऐसा महसूस होता है जैसे उनका क्रश ही उनका प्यार है और उसके बिना जिंदगी जीने के कोई मायने ही नहीं है।  

अक्सर देखा जाता है कि लोग अपने क्रश को प्यार समझकर उसके पीछे भागते रहते हैं लेकिन आखिर में मिलता है तो सिर्फ दर्द। समय बीतने के साथ-साथ युवाओं को समझ आता है कि वह जिसको जीवनसाथी बनाने के सपने देख रहे थे और जिसकी पीछे दौड़ रहे थे। दरअसल, वह उनका प्यार नहीं बल्कि क्रश था। आज के अपने आर्टिकल में आज हम आपको कुछ ऐसी टिप्स बताएंगे, जिनकी मदद से आप समझ जाएंगे कि प्यार और क्रश में क्या अंतर होता है।

सूरत और सीरत से पता चलेगा अंतर

attraction on face

प्यार एक एहसास है जिसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है। अगर आप किसी की शक्ल पर दिल हार बैठे हैं। किसी की सूरत को बार-बार देखने की बैचेनी मन में होती है तो तुरंत समझ जाइये कि वह आपका प्यार नहीं बल्कि क्रश है। वहीं, जब आपको किसी की बातें, उसका व्यवहार, उसकी अच्छाइयां और उसके साथ टाइम स्पेंड करना अच्छा लगने लगे तो इसका मतलब है कि आपको प्यार हो गया है। 

दूरियां खोलती हैं क्रश और प्यार का राज

cursh distance

 
अक्सर देखा जाता है कि जब आप किसी को बेहद पसंद करते हैं और आपको लगने लगता है कि अब उसके बिना जीना मुश्किल है और फिर वह अचानक से आपसे दूर चला जाता है और फिर कुछ दिनों बाद आपको उसकी याद आनी बंद हो जाती है तो समझ लीजिए कि वह आपका प्यार नहीं क्रशथा। चूंकि सच्चा प्यार चाहे आपसे कितना ही दूर क्यों न चला जाए उसकी यादें आपकी जेहन से कभी दूर नहीं होती हैं।
 

Recommended Video

ईमानदारी खोलती है राज

true love

 
जब आपको किसी पर क्रश होता है उस दौरान भी आप किसी दूसरे शख्स से प्यार की बातें कर लेते हो। इसका मतलब है कि उस शख्स पर आपका क्रश है। क्योंकि अगर आपको किसी से सच्चा प्यार होता है तो किसी और से प्यार की बातें करने का आपका मन ही नहीं करेगा। साथ ही अगर आप किसी से प्यार की बातें करते भी है तो आपकी अंतरआत्मा आपको कचौटती रहेगी।   इसे भी पढ़ें:  किसी पर है क्रश तो इन टिप्स को अपनाकर उसका ध्यान अपनी ओर करें आकर्षित
 

भावनाएं खोलती हैं प्यार और क्रश की पोल

emotionless
 
जब आप किसी से प्यार करते हैं तो उसकी जरा सी तकलीफ में आप बैचेन हो उठते हैं। सच्चे प्यार में आप अपने पार्टनर की सेल्फ रिस्पेक्ट का पूरा ख्याल रखते हैं और हरदम कोशिश करते हैं कि कहीं आपकी या किसी और की वजह से आपके प्यार को कोई तकलीफ न हो। इश्क में शख्स अपने पार्टनर की हर छोटी-छोटी बात का ख्याल रखता है और उसकी आंखों में आंसू नहीं देख पाता है. वहीं, जब आपका कोई क्रश होता है तो आपकी उसकी रिसपेक्ट, उसकी प्रॉब्लम्स, उसकी खुशी किसी से कोई मतलब नहीं होता है। कहा जाए तो आपको उसकी भावनाओं की कोई कद्र ही नहीं होती है। अगर आपके साथ भी कुछ ऐसा ही हो रहा है तो फौरन समझ जाइये कि जिसे आप अपना प्यार समझ रहे हैं वह प्यार नहीं बल्कि कुछ टाइम का क्रश है।
 
अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे जरूर शेयर करें। इस तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरज़िंदगी के साथ।
 
Photo Credit- Freepik