मैरिज यकीनन किसी की भी लाइफ का सबसे महत्वपूर्ण और पवित्र रिश्ता है। लेकिन जब एक लड़की की शादी होती है तो उससे जरूरत से ज्यादा ही उम्मीदें की जाती हैं और इसलिए हर कोई उसे एक खुशहाल शादीशुदा जिन्दगी के लिए तरह-तरह की सलाहें देने लगा है। इस स्थिति में लड़की को समझ नहीं आता कि वह किसी बात माने और किसकी बात को इग्नोर करे। इतना ही नहीं, जब कभी मैरिड लाइफ में किसी तरह की प्रॉब्लम आती है तो सलाह देने वालों का तांता लग जाता है। हर किसी की लाइफ का अपना एक अलग एक्सपीरियंस होता है और कुछ लोग सुनी-सुनाई बातों पर ही विश्वास करते हैं और वही सलाह लड़की को देते हैं।

इसलिए, यह बेहद जरूरी है कि आप किसी की भी सलाह पर आंख मूंदकर विश्वास ना करें। भले ही उन्होंने आपकी भलाई के लिए आपको सलाह दी हो, लेकिन उनकी सलाह मानने से आपको फायदा कम और नुकसान ज्यादा हो सकता है। वैसे भी रिश्ते बेहद नाजुक डोर की भांति होते हैं और जरा सी भी चोट उस डोर को तोड़ देती है, जिससे बाद में रिश्ते में गांठ पड़ जाती हैं। इसलिए किसी की भी सलाह पर बेहद सोच-समझकर विचार करना चाहिए। तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसी ही मैरिज एडवाइस के बारे में बता रहे हैं, जिसे इग्नोर करना ही आपके लिए अच्छा है-

इसे भी पढ़ें: Marriage Benefits: तन और मन को बेहतर बनाती है शादी

सबसे अच्छा दोस्त

marriage advice you should ignore Inside

ऐसा कहा जाता है कि आपका पार्टनर ही आपका सबसे अच्छा दोस्त होना चाहिए। यकीनन, यह बहुत अच्छा है अगर आपको अपने जीवनसाथी में सबसे अच्छा दोस्त मिल जाए क्योंकि आप उनके साथ बिना किसी झिझक के कुछ भी साझा कर सकती हैं। लेकिन, अगर ऐसा नहीं है, तो आप अपने पार्टनर के साथ इस चीज के लिए जबरदस्ती ना करें। इससे रिश्तों में तनाव की स्थिति उत्पन्न होती है। याद रखें कि हर रिश्ते की अपनी एक खूबसूरती होती है और उसे वास्तव में उसी खूबसूरती के साथ रखना चाहिए। दोस्त तो वैसे भी आपके पास पहले से ही हैं।

Recommended Video

पार्टनर हो परफेक्ट

marriage advice you should ignore Inside

हर लड़की अपने लिए एक परफेक्ट पार्टनर की तलाश करती है और उसके आसपास मौजूद लोग भी उसे यही अहसास कराते हैं कि उनका पार्टनर परफेक्ट होना चाहिए। लेकिन कभी भी कोई व्यक्ति या रिश्ता परफेक्ट नहीं होता। अगर आप अपने पार्टनर को परफेक्शनिस्ट के खांचे में फिट करने की कोशिश करेंगी या फिर उनकी आदतों को जबरदस्ती बदलने का प्रयास करेंगी, तो इससे आपके रिश्ते में परेशानी ही पैदा होगी।  इसलिए, अपने साथी को जिस तरह से हैं, उसे स्वीकार करने की कोशिश करें।

साथी आपको पूरा करता है

marriage advice you should ignore Inside

यह जुमला हम अक्सर सुनते आए हैं कि आपका साथी आपको पूरा करता है। लेकिन यह आपके साथी का काम नहीं है कि आप पूरा महसूस करें। बस याद रखें कि वह सिर्फ आपके जीवन का एक हिस्सा है, न कि आपका पूरा जीवन। और पूरे होने की जिम्मेदारी हमेशा आप पर होगी। इसलिए अगर आप सबकुछ अपने जीवनसाथी को ही मानेंगी तो हो सकता है कि आपके जीवन में नकारात्मकता अधिक हो और खुशियां कम।

इसे भी पढ़ें: जब यह संकेत दिखें तो समझ लीजिए कि शादी के लिए तैयार हैं आप


बच्चों के लिए शादी का बलिदान

marriage advice you should ignore Inside

इस बात की अपेक्षा अमूमन भारतीय स्त्री से की जाती है। जब उसकी शादी होती है तो उसके बाद उस पर फैमिली को स्टार्ट करने का दबाव होता है और एक बार जब बच्चा हो जाता है, तो उसके आसपास के सभी लोग उसे यही सलाह देते हैं कि उसके लिए जीवन में उसका बच्चा ही सबकुछ होना चाहिए। यकीनन पैरेंट्स होने के बाद आपकी प्राथमिकताएं बदल जाती हैं, लेकिन इसका अर्थ यह नहीं है कि आप अपनी शादी को पीछे छोड़ दें। सिर्फ बच्चे की देख-रेख में खुद को या अपने रिश्ते को पीछे छोड़ देना यकीनन एक अच्छी सलाह नहीं है। रिश्ते को जिंदा रखने के लिए और कुछ मौज-मस्ती करने के लिए माता-पिता को एक-दूसरे के लिए समय निकालने की जरूरत होती है।

हमें यकीन है कि इस लेख को पढ़ने के बाद आप किसी की भी मैरिज एडवाइस को मानने की भूल नहीं करेंगी। इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हमारी वेबसाइट हरजिन्दगी से।

Image Credit:(@freepik)