Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    मुगल बादशाह औरंगजेब की पहली बेगम के बारे में कितना जानते हैं आप?

    आपने यकीनन मुगल बादशाह औरंगजेब का नाम सुना होगा, लेकिन क्या आपको उनकी बेगम दिलरास बानो के बारे में मालूम है? अगर नहीं, तो आइए जानते हैं।   
    author-profile
    Updated at - 2022-11-18,13:35 IST
    Next
    Article
    Aurangzeb Wife Dilras Banu Begum in hindi

    भारत का इतिहास बहुत ही समृद्ध रहा है और इस विशाल देश में कई ऐसे राजा रहे हैं, जिनका नाम इतिहास में दर्ज है। पर इस देश की रानियां भी वीरता और बुद्धि के मामले में कम नहीं रही हैं। इससे पहले भी हम आपको भारत के इतिहास से जुड़ी रानियों, बेगमों से जुड़े रोचक तथ्य बता चुके हैं। इसी कड़ी में आज हम आपको बताने जा रहे हैं मुगल बादशाह औरंगजेब की पहली बेगम दिलरास बानो बेगम के बारे में। 

    जी हां, बता दें कि दिलरास बानो बेगम औरंगजेब की सबसे खूबसूरत और शक्तिशाली बेगम थी। आइए आज इस लेख में जानते हैं कि आखिर दिलरास बानो बेगम कौन थीं? मगर इससे पहले हम थोड़ा औरंगजेब के बारे में जान लेते हैं।

    औरंगजेब के बारे में जानिए 

    Know about aurangzeb

    मैंने अफसर अहमद द्वारा लिखी गई किताब 'औरंगज़ेब- नायक या खलनायक' पढ़ी, जिसमें बादशाह के बचपन से सत्ता संघर्ष तक का उल्लेख किया गया है। कहा जाता है कि औरंगजेब मुगल साम्राज्य का सबसे प्रभावशाली बादशाह था। 

    इसे ज़रूर पढ़ें- मुगल साम्राज्य की इन शक्तिशाली महिलाओं के बारे में कितना जानते हैं आप? 

    औरंगजेब का पूरा नाम मुहिउद्दीन मुहम्मद था, लेकिन उन्हें प्रजा आलमगीर या औरंगजेब के नाम से पुकारती थी। औरंगजेब ने 1658 से लेकर 1707 तक शासन किया था जिसके बाद उसकी मृत्यु हो गई थी।

    कौन थीं दिलरास बानो बेगम? 

    Know about Dilras banu begum

    जब बात मुगल साम्राज्य के इतिहास की आती है और उसमें दिलरास बानो बेगम का नाम ना लिया जाए, ऐसा हो ही नहीं सकता क्योंकि यह आखिरी शक्तिशाली मुगल बादशाह औरंगजेब की पहली पत्नी थीं। दिलरास बानो एक सफवी राजवंश से ताल्लुक रखती थीं, जिनके माता-पिता का नाम बेगम दिलरास मिर्जा बदीउद्दीन सफवी और नौरस बानो बेगम था। 

    इसलिए शुरू से ही दिलरास बानो बेगम होशियार थीं और यही वजह है जिनका नाम मुगल इतिहास की सबसे शक्तिशाली महिलाओं में लिया जाता है।  

    कब हुई थी शादी?

    इतिहास में औरंगजेब और दिलरास बानो बेगम की शादी की तारीख को लेकर मतभेद है, लेकिन कहा जाता है कि 1637 में बादशाह से विवाह करवा दिया था। यह औरंगजेब की पहली पत्नी थीं, जिनकी पांच औलाद की पैदाइश हुई जैसे- मुहम्मद आजम शाह, होशियार जेबुन्निसा, शहजादी जीन तुन्निसा, सुल्तान अकबर आदि। बता दें कि दिलरास बानो बेगम अपने शौहर से बहुत प्यार करती थीं, जिनके लिए जान देने के लिए भी तैयार हो जाती थीं।    

    मिली 'राबिया उद्दौरानी' की उपाधि

    know about dilras banu begum in hindi ()

    यह हम बता ही चुके हैं कि दिलरास बानो बेगम बहुत ताकतवर थीं। इसलिए उन्हें अपने युग की राबिया कहा जाता था, जिन्हें राबिया उद्दौरानी की उपाधि से भी सम्मानित किया गया था। बता दें कि दिलरास बानो बेगम बहुत शांत और एक शक्तिशाली महिला थीं, जिन्होंने अपने शासन काल में कई ऐतिहासिक कार्य भी करवाए थे।  

    इसे ज़रूर पढ़ें- मुगल बादशाह अकबर की पहली बेगम के बारे में कितना जानते हैं आप?

    दिलरास बानो बेगम का मकबरा  

    दिलरास बानो बेगम की मृत्यु होने के बाद बादशाह ने एक मकबरा बनवाया था, जिसे हम बीबी का मकबरा के नाम से जानते हैं। इस मकबरा का निर्माण सत्रहवीं शताब्दी में करवाया था, जिसका पहले नाम राबिया-उद-दौरानी था। बता दें कि यह मकबरा हूबहू ताजमहल की तरह बनाया गया है, जो औरंगाबाद, महाराष्ट्र में स्थित है।  

    उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें। साथ ही इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

    Image Credit- (@Reddit.Com) 

     

     

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।