महाराष्ट्र के सबसे चर्चित मर्डर केस शीना बोरा की मौत पर एक बार फिर से प्रश्न चिह्न लग गया है और इस बार ये नया मोड़ इसलिए आया है क्योंकि अपनी ही बेटी के मर्डर के लिए आरोपी मानी जाने वाली इंद्राणी मुखर्जी ने एक बयान में ये बात कही है कि उनकी बेटी शीना बोरा जिंदा है।

दरअसल इंद्राणी मुखर्जी ने CBI को चिट्ठी लिखकर शीना बोरा के जिंदा होने की बात कही है। इंद्राणी का कहना है कि शीना को कश्मीर में ढूढें क्योंकि वो वहीं मौजूद है। आइए जानें क्या है पूरा मामला और इंद्राणी के इस बयान की सच्चाई क्या है ?

शीना बोरा मर्डर केस में आया नया मोड़ 

sheena bora murder

2012 से अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या के आरोप में जेल में बंद पूर्व मीडिया कार्यकारी इंद्राणी मुखर्जी ने सीबीआई को पत्र लिखकर दावा किया है कि उनकी बेटी जीवित है और उसने इस सनसनीखेज मामले में एक विचित्र नया मोड़ जोड़ते हुए एजेंसी से जांच करने की मांग की है। सीबीआई प्रमुख को सीधे भेजे गए पत्र को लेकर सूत्रों का कहना है कि इंद्राणी मुखर्जी का दावा है कि वह एक महिला कैदी से मिलीं, जिसने उसे बताया कि वह कश्मीर में शीना बोरा से मिली थी। यह बात इंद्राणी की वकील सना खान ने कही है। 

इसे भी पढ़ें:ये हैं भारत की सबसे चर्चित मर्डर मिस्ट्रीज, आज भी नहीं खुल पाए हैं राज

सीबीआई को लिखी चिट्ठी में कही ये बात 

इंद्राणी मुखर्जी ने सीबीआई को सीधे चिट्ठी लिखते हुए इस बात की जांच करने की मांग की है कि उनकी बेटी शीना जीवित हैं। हालांकि उनकी वकील सना खान ने कहा है कि हमारे पास उसके बारे में कोई विवरण नहीं है और उसने कहा कि वह जमानत के लिए एक औपचारिक आवेदन पेश करेगी। (ये कानून दिलवा सकते हैं महिलाओं को इंसाफ)

2015 से मुंबई जेल में बंद हैं इंद्राणी 

indrani mukherjea case

49 वर्षीय इंद्राणी मुखर्जी 2015 से मुंबई की भायखला जेल में बंद हैं। उन पर अपनी बेटी के मर्डर का आरोप लगाया गया था। दरअसल उन्हें उनकी पहली शादी से उनकी बेटी 25 वर्षीय शीना बोरा की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, जिसे उन्होंने वर्षों तक अपनी बहन के रूप में बताया था। उसकी गिरफ्तारी के तीन महीने बाद, उसके अब पूर्व पति पीटर मुखर्जी को भी इंद्राणी की मदद करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। हालांकि रिपोर्ट्स के अनुसार जांच करने वाले सभी अधिकारी इंद्राणी के हाल ही में किये गए बयान को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। उनका कहना है कि शीना बोरा की हत्या इंद्राणी मुखर्जी ने की थी, जिनकी मदद उनके ड्राइवर श्यामवर राय और उनके दूसरे पति संजीव खन्ना ने की थी। 

इसे भी पढ़ें:आसिफा के हत्यारे ने कबूला अपना जुर्म, इस वजह से किया 8 साल की बच्ची का खून

Recommended Video


क्यों किया था बेटी का मर्डर 

सीबीआई के अनुसार, इंद्राणी ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि वह राहुल मुखर्जी के साथ अपने रिश्ते को लेकर शीना से नाराज थी। सीबीआई ने यह भी कहा कि शीना बोरा ने उनके बीच वित्तीय विवाद के बाद अपनी मां को बेनकाब करने की धमकी दी थी। हत्या के बाद इंद्राणी ने कथित तौर पर सभी को बताया कि शीना अमेरिका चली गई है। तीन साल बाद, हत्या तब सामने आई जब इंद्राणी मुखर्जी के ड्राइवर को एक अलग मामले में गिरफ्तार किया गया था। ड्राइवर के बयान के आधार पर शीना की अधजली लाश को मुंबई के पास के जंगल से निकाला गया था। 2017 में शुरू हुए मुकदमे में करीब 60 गवाहों ने अपने बयान दर्ज किए हैं। जेल में रहते हुए, इंद्राणी और पीटर मुखर्जी ने अपने 17 साल के रिश्ते को समाप्त कर दिया और 2019 में उन्हें तलाक दे दिया गया। पीटर मुखर्जी को 2020 में जमानत पर रिहा कर दिया गया था।

सच्चाई चाहे जो भी हो फिलहाल सीबीआई ने इस मामले में कोई नया मोड़ नहीं लिया है और इस बात पर अपनी मुहर भी नहीं लगाई है कि शीना बोरा सच में जिन्दा हैं या नहीं। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।