ज्‍योतिष शास्‍त्र में मनुष्य के जीवन से जुड़ी हर परेशानी का समाधान बताया गया है। इस शास्त्र में विवाह से जुड़ी समस्याओं और विवाह के बाद सुखी दांपत्य जीवन बिताने के लिए भी बहुत सारे उपाय बताए गए हैं। दरअसल, लव मैरिज हो या अरेंज मैरिज पति-पत्‍नी को आपस में सामंजस्य बैठाने में बहुत सारी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। यही चुनौतियां कभी-कभी पति-पत्‍नी के आगे समस्या बन कर खड़ी हो जाती हैं। ऐसे में समझदारी और सूझ-बूझ के साथ-साथ ज्‍योतिष शास्‍त्र में बताए गए उपाय भी बहुत काम आते हैं। 

भोपाल के ज्योतिषाचार्य एवं हस्तरेखार्विंद विशेषज्ञ शास्त्री विनोद सोनी पोद्दार कहते हैं, 'वैवाहिक जीवन को खुशहाल बनाने के लिए आपसी तालमेल होना बहुत जरूरी है, मगर कभी-कभी बहुत कोशिश करने के बाद भी पति-पत्‍नी के झगड़े कम नहीं होते हैं। दोनों के बीच का प्यार कम होता जाता है और दूरियां बढ़ती जाती हैं। ऐसे में कुछ ज्‍योतिष शास्‍त्र में बताए गए उपाय अपनाने से बहुत लाभ मिलता है।'

सुखी दांपत्य जीवन के लिए पंडित जी कुछ अचूक उपाय भी बताते हैं- 

पीली चूड़ियां पहने 

चूड़ी को सुहाग की निशानी बताया गया है और महिलाओं को भी यह गहना सर्वप्रिय है। ऐसा कहा जाता है कि चूड़ी की मीठी खनक से रिश्‍ते की चमक हमेशा बनी रहती है। मगर कई महिलाओं को चूड़ी पहनना अधिक नहीं भाता। ऐसे में दांपत्य जीवन को सुखी बनाए रखने के लिए आप दोनों हाथों में केवल 1-1 पीले रंग की चूड़ी पहन कर रखें। इससे आपके शादीशुदा जीवन में सुख बना रहेगा। 

इसे जरूर पढ़ें: Astro Tips: शादी में आ रही अड़चन दूर करने के उपाय, पंडित जी से जानें

lal  kitab  remedies  for  good  married  life

सिंदूर का उपाय 

अगर पति-पत्‍नी के बीच लड़ाई हो रही है, तो रात में सोने से पूर्व आपको पति के सिरहाने चुटकी भर सिंदूर रख देना चाहिए। सुबह उठने पर इसी सिंदूर को अपनी मांग में सजा लें। इससे दांपत्य जीवन खुशहाल बना रहेगा और पति का पत्‍नी की ओर लगाव भी बढ़ेगा। इतना ही नहीं, विवाहित स्त्री किसी दूसरी विवाहित स्त्री को लाल सिंदूर के साथ इत्र दान करती है, तो इससे भी जीवनसाथी के साथ संबंध मधुर बने रहते हैं। 

पुराने ताले का उपाय 

यह काफी पुराना उपाय है। पति-पत्‍नी के बीच अगर विवाद (पति-पत्नी के बीच दूरियों को कम करने के उपाय) कुछ ज्यादा ही बढ़ रहे हैं, तो पुराने खुले ताले को सात बार घड़ी की उल्टी दिशा में घुमा कर किसी ऐसे स्थान पर रख दें, जहां आपको दोबारा न जाना पड़े। यह नजर उतारने का एक पुराना तरीका होता है। ऐसा करने से पति-पत्‍नी के बीच की दूरियां कम होने लगती हैं। 

Astrological  remedies  for  married  life

दुर्गा चालीसा का पाठ करें 

विवाहित स्त्री को प्रतिदिन दुर्गा चालीसा का पाठ करना चाहिए और दुर्गा जी के 108 नामों का जाप करना चाहिए। ऐसा करने से भी दांपत्य जीवन में आ रही परेशानियां दूर हो जाती हैं।

गोमती चक्र से दूर होगी दांपत्य जीवन की कलह 

अगर पति-पत्‍नी के मध्य क्लेश बढ़ता जा रहा है, तो पंडित जी इसका उपाय बताते हैं, 'लाल रंग के कपड़े में मुट्ठी भर पीली सरसों के दाने और गोमती चक्र रखें। गोमती चक्र पर पति-पत्‍नी का नाम लिखा होना चाहिए। अब इस कपड़े को बांध कर सदैव अपने कमरे में किसी ऐसे स्थान पर रखें, जहां से वह हमेशा नजर आता रहे। इससे रिश्ते पर सकारात्मक ऊर्जा (सकारात्मक ऊर्जा प्राप्‍त करने के टिप्‍सका प्रभाव रहता है।'

Vedic  upay  for  a  stress  free  married  life

केले के वृक्ष का पूजन करें

दांपत्य जीवन को खुशहाल बनाए रखने के लिए पति-पत्‍नी को नियमित रूप से केले के वृक्ष का पूजन करना चाहिए। आपको बता दें कि इस वृक्ष में श्री हरी विष्णु और माता लक्ष्मी का वास होता है। 

बाल और नाखून का उपाय 

शनिवार, मंगलवार और गुरुवार के दिन महिलाओं को अपने नाखून और पुरुषों को अपने बाल नहीं काटने चाहिए। इतना ही नहीं, इन दिनों में पुरुषों को शेव करने से भी बचना चाहिए। यदि आप इस बात का ध्यान रखते हैं, तो आपके दांपत्य जीवन में सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। 

Recommended Video

पंडित जी कहते हैं, 'इन उपायों के अतिरिक्त एक और विशेष उपाय है, जो हर महिला को नियमित अपनाना चाहिए। हर महिला को प्रतिदिन अपने घर के आंगन में लगे तुलसी के पौधे को जल (तुलसी की पूजा में न करें ये कामअर्पित करना चाहिए। इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि तुलसी का पौधा कभी भी सूखे नहीं।'

अगर आपको भी अपने दांपत्य जीवन में कठिन दौर से गुजरना पड़ रहा है, तो पंडित जी के द्वारा बताए गए इन उपायों को एक बार जरूर अपना कर देखें। यह जानकारी आपको पसंद आई हो, तो आर्टिकल को शेयर और लाइक जरूर करें। साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: Unsplash, Shutterstock