कई लोग अपने गार्डन में केले का पौधा लगाते हैं। हिंदू धर्म में केले का पौधा लगाना शुभ माना जाता है, यही वजह है कि लोग इसकी पूजा भी करते हैं। ज्यादातर लोग इसे गार्डन एरिया में लगाते हैं, क्योंकि यह पपीते के पेड़ की तरह बड़ा होता है, लेकिन आप चाहें तो इसे गमले में भी लगा सकती हैं। कई लोगों को लगता है कि केले का पौधा बड़ा होता है, ऐसे में इसे गमले में लगाने से ग्रो नहीं करेगा, जबकि ऐसा नहीं है। केले के पेड़ को गमले में लगाएंगी तो यह ना सिर्फ ग्रो करेगा बल्कि फल भी देगा।

कुछ लोग शुरुआत में केले का पौधा गमले में ही लगाते हैं, लेकिन जैसे ही वह बड़ा होता है उसे जमीन के अंदर शिफ्ट कर देते हैं। केले का पौधा आप ऑनलाइन ऑर्डर कर सकती हैं। इसके अलावा जो केले के पेड़ खराब हो चुके हैं उन्हें भी दोबारा उगाया जा सकता है। केले के पौधे के आसपास कई छोटी-छोटी जड़ें निकली होती हैं, और उन्हें भी आप नये पौधे की तरह लगा सकती हैं। केले के पेड़ की जड़ के पास आप देखेंगी तो कई छोटे-छोटे केले के पौधे दिखाई देंगे, इसे उखाड़ कर गमले में लगाया जा सकता है। तो चलिए जानते हैं केले का पेड़ आप गमले में कैसे लगा सकती हैं।

गमले में कैसे लगाएं केले का पौधा

banana tree at home

केले का पौधा लगाने के लिए बड़े साइज का गमला लें, ताकि जब यह पौधा बड़ा हो तो उसे पूरी स्पेस मिल सके। एक बार में सिर्फ एक केले का पौधा न लगाएं, क्योंकि कई बार यह मर जाते हैं। इसलिए एक साथ 3 से 4 केले के पौधे लगाएं। दरअसल कई बार यह बड़े होकर भी मर जाते हैं। गमले को ऐसी जगह रखें, जहां छांव आती हो, क्योंकि अधिक समय तक इसे धूप में रखेंगी तो यह जल जाएंगे। आप चाहें तो एक साथ 2 पौधों को जोड़कर लगा सकती हैं। केले के पौधे को गमले में लगा रही हैं तो ध्यान रखें कि वातावरण गरम होना चाहिए, जिसके साथ आपको खूब सारा पानी भी डालना होगा। गरम वायु और नरम वातावरण दोनों ही केले के पौधे को लगाने के लिए उपयुक्त हैं। (केले का छिलका)

इसे भी पढ़ें:पौधों में डालें 'चावल का पानी', हमेशा रहेंगे हरे-भरे

उपजाऊ होनी चाहिए मिट्टी

केले के पौधे को लगाने के लिए अच्छी मिट्टी का उपयोग करें, जो उपजाऊ हो। हालांकि, आप चाहें तो गार्डन की मिट्टी को भी उपजाऊ बना सकती हैं। इसके लिए काली मिट्टी, ऑर्गैनिक खाद, और कोको पीट मिक्स कर तैयार करें और फिर पौधा लगाएं। ध्यान रखें कि अगर मिट्टी में रेत या फिर ईंट-पत्थर आदि मिक्स हैं, तो केले के पौधे को ग्रो होने में मुश्किलें आ सकती हैं। अगर यह उग भी जाता है तो हेल्दी नहीं रहेगा, इसलिए मिट्टी का सही होना बहुत जरूरी है। आप चाहें तो गार्डन की मिट्टी से ईंट-पत्थर निकालकर फिर इसमें पौधा लगा सकती हैं। ऑर्गैनिक खाद के तौर पर गोबर का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: घर और गार्डन से व्हाइट कीड़ों को दूर भगाने के लिए अपनाएं ये तरीके

Recommended Video

ध्यान रखें ये बातें

a banana tree pictures

  • केले का पौधा लगा रही हैं तो ध्यान में रखें कि शुरुआत में इसकी अधिक देखरेख की आवश्यकता होती है। कई बार अधिक धूप की वजह से पत्ते जल जाते हैं और फिर पौधा भी मर जाता है। इसलिए इसकी मिट्टी को सूखने न दें, उचित मात्रा में सुबह शाम पानी डालें।
  • कई बार केले के पौधों की नियमित देखरेख के बाद भी पत्ते पीले होने लगते हैं तो ऐसे में घबराएं नहीं, क्योंकि शुरुआत में पुराने पत्ते अपने आप झड़ जाते हैं और इसकी जगह नए पत्ते निकलते हैं। इस दौरान पेड़ की जड़ों के आसपास छेड़छाड़ ना करें।
  • अगर केले के पत्ते लगातार पीले होने के बाद गिर रहे हैं तो तुरंत इसकी जड़ों के आसपास राख का इस्तेमाल करें। आप चाहें तो इसके पत्तों पर कंडे की राख भी छिड़क सकते हैं।
  • नॉर्मल केले का पेड़ अपने जीवनकाल में एक बार ही फल देता है, इसके बाद इसे काट दिया जाता है। इसकी जगह पर आप दूसरा केले का पौधा लगा सकती हैं और यह जल्दी ग्रो भी करेगा।

अगर घर पर आप केले का पौधा लगा रही हैं तो इन बातों का खास ध्यान रखें। अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।