भारत एक ऐसा देश है, जहां पर शादी को सिर्फ जिन्दगीभर का रिश्ता नहीं, बल्कि जन्म-जन्मांतर का रिश्ता माना जाता है और इसलिए कोई भी पैरेंट अपने बच्चे की शादी तय करते समय हर छोटी-बड़ी बात पर ध्यान देता है। बदलते जमाने में भले ही लोगों की सोच में यकीनन कुछ फर्क आया है, लेकिन फिर भी अधिकतर पैरेंट्स अपनी बेटी के लिए ऐसा वर चाहते हैं, जो उनके ही धर्म का हो। लेकिन कहते हैं ना कि प्यार अंधा होता है। जब आपको कोई पसंद आता है या फिर किसी से प्यार करती हैं तो पहले उससे यह नहीं पूछतीं कि वह किस धर्म का व्यक्ति है। हालांकि दूसरे धर्म के लड़के से शादी करने के लिए परिवारवालों खासतौर से माता-पिता को मनाना यकीनन काफी कठिन होता है। अगर आप अपने पार्टनर से बेहद प्यार करती हैं और उसे शादी करना चाहती हैं। वहीं दूसरी ओर आप अपने माता-पिता को शादी के लिए कुछ इस तरह मनाना चाहती हैं कि उन्हें बुरा भी ना लगे तो इसके लिए आप कुछ टिप्स का सहारा ले सकती हैं। आज हम आपको उन्हीं टिप्स के बारे में बता रहे हैं-

देखें उनका रिएक्शन

parents for intercaste love marriage INSIDE

अपनी लव लाइफ के बारे में पैरेंट्स को बताने या फिर शादी की बात छेड़ने से पहले आप यह जानने की कोशिश करें कि दूसरी कास्ट में शादी की बात को लेकर उनका रिएक्शन कैसा होगा। मसलन, आप बातों -बातों में अपनी किसी दोस्त या रिश्तेदार की बात छेड़ें, जिसने इंटरकास्ट मैरिज की हो। उसके बाद अपने माता-पिता का रिएक्शन देखें। इससे आपको यह समझने में आसानी होगी कि आपकी लव लाइफ को लेकर उनका डिसिजन क्या हो सकता है या फिर आपको उन्हें मनाने में कितनी कठिनाई होगी।

इसे भी पढ़ें: लव मैरिज के लिए पेरेंट्स नहीं हैं राजी तो इन 5 तरीकों से उन्हें मनाएं

Recommended Video


यूं करें शुरूआत 

parents for intercaste love marriage INSIDE

हो सकता है कि आपके पैरेंट्स इंटरकास्ट मैरिज के सख्त खिलाफ हों। ऐसे में आप अपने पार्टनर के साथ मिलकर पहले उसके पैरेंट्स से बातचीत करें। अगर वे दोनों आपकी शादी के लिए राजी हैं तो इससे आपका आधा काम आसान हो जाएगा। साथ ही पार्टनर के पैरेंट्स के मान जाने के बाद आपके लिए अपने पैरेंट्स को मनाना भी आसान हो जाएगा।

ना करें जिद

कई बार ऐसा होता है कि बच्चे माता-पिता के सामने जिद करते हैं कि वह अपने पार्टनर के साथ ही शादी करेंगे या फिर वह अपने पैरेंट्स को इमोशनल ब्लैकमेल भी करने की कोशिश करते हैं। इससे उनके पैरेंट्स भले ही शादी के लिए रजामंद हो जाएं, लेकिन वह आपकी पसंद को कभी भी दिल से अपना नहीं पाते। इसलिए आप यह गलती ना करें। आप अपने पैरेंट्स पर किसी तरह का दबाव डालने के स्थान पर यह कहें कि वह एक बार आपकी पसंद से मिल लें। मुलाकात के दौरान जब आपके पैरेंट्स को यह यकीन हो जाएगा कि वह लड़का आपके लिए सही है और आप उसके साथ उस घर में खुश रहेंगी तो वह आसानी से मान जाएंगे। वैसे भी हर माता-पिता के लिए उनके बच्चों की खुशी सबसे अधिक मायने रखती है।

इसे भी पढ़ें: अरेंज मैरिज में कुछ इस तरह बढ़ाएं प्यार

लें सपोर्ट

parents for intercaste love marriage INSIDE

हो सकता है कि आप अपने पैरेंट्स के सामने डर व झिझक के कारण अपनी बात खुलकर ना रख पा रही हों या फिर उनके गुस्सा करने के बाद आप अपनी मैरिज व लव लाइफ को लेकर बात ना कर पाएं। ऐसे में आप घर में किसी को अपना सपोर्ट बनाएं। इसके लिए आप अपने बड़े भाई या किसी ऐसे व्यक्ति से अपने इमोशन्स शेयर करें, जिससे आप दिल खोलकर बात कर सकती हों। साथ ही वह व्यक्ति आपके पैरेंट्स को आसानी से समझा सकता हो। अगर आपके बड़े भाई या जीजाजी आदि को वह लड़का पसंद आएगा तो यकीनन वह आपके पैरेंट्स को आसानी से मना लेंगे।

अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर जरूर करें। साथ ही इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी से।

Image Credit:(@freepik)