• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

जानिए कैसे हुई थी मीरा बाई की मृत्यु

मीराबाई की मृत्यु के बारे में कई लोगों को भ्रम है कि आखिर वो हुई कैसे थी? तो चलिए आज आपको उनके बारे में कुछ फैक्ट्स बताते हैं। 
author-profile
Published -25 Jul 2022, 15:58 ISTUpdated -25 Jul 2022, 16:03 IST
Next
Article
How did mirabai died

एक तरफ जहां देवताओं की चर्चा हमेशा कारनामों से जोड़कर बताई जाती है और राजा-रानियों के किस्से हमेशा शौर्य और समृद्धी से जोड़कर देखे जाते हैं वहीं हिंदुस्तान की एक रानी ऐसी थीं जो थी तो मानव, लेकिन उनकी बात हमेशा दैवीय महत्व के साथ ही की जाती है। ये रानी थीं मीरा बाई जिन्हें बहुत ऊंचा दर्जा प्राप्त है। मीरा बाई को कई जगहों पर पूजा जाता है और कहते हैं कि उनके आस-पास रहने वालों को कई चमत्कार देखने को मिले थे। 

मीरा बाई मेवाड़ की रानी थीं और श्रीकृष्ण की भक्त थीं। उन्हें अधिकतर लोग यही मानते थे कि वो दिव्य थीं और श्रीकृष्ण में ही विलीन रहती थीं। आज हम आपको मीरा बाई से जुड़े कुछ फैक्ट्स के बारे में बताने जा रहे हैं। 

मीरा बाई को कई लोग संत मीरा भी कहते हैं और वो 16वीं सदी की कवित्री भी थीं जो भक्ति रस के बारे में लिखती थीं। वो जन्म से राठौड़ राजपूत थीं और कट्टर परिवार की होने के बाद भी उन्हें निडर और सामाजिक माना जाता रहा। उनके परिवार ने उन्हें कई बार कृष्ण भक्ति से रोका पर उन्होंने कोई ना कोई रास्ता निकाल लिया। 

इसे जरूर पढ़ें- महाभारत में आखिर क्यों अर्जुन को 1 साल तक रहना पड़ा था एक महिला बनकर

कृष्ण ही नहीं राम भक्ति के लिए भी प्रसिद्ध थीं मीरा बाई

मान्यता है कि मीराबाई ने कृष्ण भक्ति के लिए तुलसीदास से उपाय पूछा था। हालांकि, इसका कोई ऐतिहासिक उल्लेख नहीं मिलता है, लेकिन ऐसा माना जाता है कि मीरा बाई को जब कृष्ण भक्ति करने को मना किया गया तो उन्होंने तुलसीदास को गुरु मानकर उनसे पत्रों के जरिए संवाद किया और अपनी दुविधा का उपाय मांगा। तब तुलसीदास ने उन्हें राम भक्ति करने को कहा और उन्होंने राम को लेकर भजन लिखना शुरू किया इनमें से बहुत ही चर्चित माना जाता है, 'पायो जी मैंने राम रतन'। 

mirabai history and facts

कृष्ण को माना पति, लेकिन भोजराज से हुआ ब्याह

मीराबाई को लेकर ये कथा चर्चित है कि बचपन में जब किसी की बारात देखने घर की सारी स्त्रियां छत पर गई थीं वहीं मीराबाई ने मां से पूछा था कि मेरा दूल्हा कौन है? वहां मां ने कृष्ण की मूर्ति की तरफ इशारा कर कहा था कि वो है तुम्हारा दूल्हा और तब से ही उन्होंने श्रीकृष्ण को ही अपना पति मान लिया था। 

मीराबाई जोधपुर की राजकुमारी थीं और जब उनके विवाह की बात चली तो उनकी मर्जी के खिलाफ उनकी शादी मेवाड़ के राजकुमार से कर दी गई थी।  

mirabai and her history

जहर का असर नहीं होता था मीराबाई पर 

श्रीकृष्ण की भक्ति की बात करें तो ना ही मीरा के परिवार वालों को ये पसंद था और ना ही उनके ससुराल वालों को। माना जाता है कि वो घंटों एक ही मंदिर में कृष्ण की मूर्ति के सामने नाचती रहती थीं और ऐसे में उन्हें विष लोक-लाज की कोई चिंता नहीं थी। ऐसे में उनके ससुराल वालों ने कई बार उन्हें विष देकर मारने की कोशिश की और कई बार तो सांप से कटवाने की कोशिश भी की, लेकिन उन पर इसका कोई असर नहीं हुआ।  

शादी के कुछ साल बाद ही मीराबाई के पति का देहांत हो गया और उस वक्त उन्हें सती करने का प्रयास किया गया, लेकिन वो नहीं मानीं और वो कभी वृंदावन तो कभी द्वारका गईं।  

mirabai death history

इसे जरूर पढ़ें- क्या आप जानते हैं श्री कृष्ण का नाम गोविंद क्यों है?  

कैसे हुई थी मीराबाई की मृत्यु? 

मीराबाई की मृत्यु को लेकर इतिहासकारों के बीच कई मतभेद हैं। कोई कहता है कि उन्होंने द्वारका में देह त्यागी थी और किसी के अनुसार वो वृंदावन में थीं। मीराबाई को लेकर ये लोककथा प्रचलित है कि उन्होंने देह त्याग किया था, लेकिन उनकी मृत्यु नहीं हुई थी। प्रचलित कथा के अनुसार कृष्ण जन्माष्टमी के दिन मीराबाई घंटों तक कृष्ण मंदिर में नाचती-गाती रही थीं और उनकी भक्ति देख पूरा माहौल दिव्य हो गया था।  

एक समय के बाद वो जमीन पर गिर गईं और मंदिर के द्वार अपने आप बंद हो गए। जब कुछ क्षण बाद वो खुले तो दिव्य रोशनी चारों ओर फैली हुई थी। लोगों के अनुसार उस वक्त बांसुरी की मधुर तान बज रही थी और मीरा की साड़ी कृष्ण की मूर्ति से लिपटी हुई थी। मीराबाई मरी नहीं थीं बस कृष्ण में विलीन हो गई थीं।  

इतिहास में भी उनकी मृत्यु के बारे में कुछ भी ठीक-ठाक नहीं लिखा है और उनकी मृत्यु का कोई ठोस प्रमाण नहीं है।  

तो ये थी मीराबाई के बारे में कुछ रोचक बातें। ऐसे ही किसी अन्य के बारे में भी आप जानना चाहें तो हमें कमेंट बॉक्स में लिख लें ताकी हम जल्दी से जल्दी उसपर स्टोरी कर आपको जानकारी दे सकें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: Shutterstock/ Amazon/ Ferns & petels

 
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।