• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

घर में सिल बट्टा रखने की भी होती है जगह, जानिए वास्तु नियम

अगर आप अपनी किचन में सिल बट्टे का इस्तेमाल कर रही हैं तो आपको कुछ वास्तु टिप्स को अवश्य फॉलो करना चाहिए।
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial
Published -06 Aug 2022, 13:22 ISTUpdated -06 Aug 2022, 13:22 IST
Next
Article
vastu tips related to grindstone

सिल बट्टे का इस्तेमाल अधिकतर घरों में आज भी किया जाता है। भले ही आज किचन के काम को आसान बनाने के लिए कई तरह के अप्लाइंसेस का इस्तेमाल किया जाने लगा हो। लेकिन फिर भी कुछ महिलाएं चटनी आदि पीसने के लिए सिल बट्टे को ही प्राथमिकता देती हैं। सिल बट्टे पर पीसी हुई चटनी का अपना एक अलग ही स्वाद होता है। चूंकि, सिल बट्टे का इस्तेमाल हर दिन नहीं होता है, इसलिए महिलाएं इसे किचन के एक कोने में रख देती हैं।

expert dr anand bhardwaj

हालांकि, सिल बट्टे को रखने का भी अपना एक स्थान होता है। वास्तु में सिर्फ किचन के लिए ही नहीं, बल्कि उसमें रखने वाली चीजों को भी करीने से रखने की सलाह दी जाती है। तो चलिए आज इस लेख में वास्तुशास्त्री डॉ. आनंद भारद्वाज आपको किचन में सिल बट्टे को रखने के सही स्थान व नियमों के बारे में बता रहे हैं-

दिशा का रखें ध्यान

grindstone direction

सिलबट्टे पर चटनी या मसालों को पीसने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। किसी भी चीज का संबंध किसी चीज को कूटने या पीसने से हो, उसे कभी भी ईशान-कोण अर्थात उत्तर पूर्व में नहीं रखना चाहिए। साथ ही, इस बात का भी ध्यान रखें कि इन दोनों को हमेशा एक साथ या आसपास ही रखना चाहिए। यह दोनों वास्तव में पेयर हैं और इन्हें एक साथ रखने से ही इनमें सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

इसे जरूर पढ़ें- वास्तु के अनुसार किचन को घर में कहां होना चाहिए

अगर लकड़ी का हो मूसल

अगर आपका मूसल या सोटा लकड़ी का बना है तो ऐसे में आपको कोशिश करनी चाहिए कि वह नीम की लकड़ी का बना हो। नीम में औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए बेहद लाभकारी माने गए हैं। वहीं, वास्तु शास्त्र में भी लकड़ी से बने मूसल का इस्तेमाल करना अच्छा माना जाता है। यह आपके भोजन में पॉजिटिव एनर्जी का संचार करने में मदद करेंगे।

Recommended Video

जरूर करें इस्तेमाल

grindstone use

यूं तो चटनी व मसाले पीसने के लिए कई अप्लाइंस हैं, लेकिन फिर भी वास्तु में सिलबट्टे का इस्तेमाल करना अच्छा माना जाता है। अमूमन सिलबट्टा पत्थर से बना होता है। पत्थर से भोजन में ना केवल भूमि तत्व मिलते हैं व अनजाने में आपको अन्य भी कई सूक्ष्म तत्व शरीर को मिलते हैं। साथ ही, इसमें मसालों को खुले में पीसा जाता है, जिससे प्राणवायु मिलती है।

अन्य जरूरी बातें

grindstone

  • जब आप सिलबट्टे का इस्तेमाल कर रही हैं, तो वह कहीं से टूटा हुआ नहीं होना चाहिए। कभी-कभी बट्आ या सिल एक कोने से टूट जाता है, ऐसे में सिलबट्टे को तुरंत बदल देना चाहिए।
  • हमेशा काम खत्म करने के बाद इन्हें साफ करना बेहद आवश्यक होता है। कभी भी इसे गंदा ना रखें। इससे सिलबट्टे में नेगेटिविटी का संचार होता है।
  • सिलबट्टे में कभी-कभी नमक पीस लेना चाहिए या फिर इसे नमक के पानी से धो लेना चाहिए। 
  • इसे प्रयोग में लाने से पहले भी अवश्य साफ कर लेना चाहिए, ताकि एक व्यजंन की ऊर्जा दूसरे में ना जाए।
  • सिलबट्टे में सिल को कभी भी लिटाकर नहीं रखना चाहिए। इसे हमेशा खड़ा करके ही रखना चाहिए।
 
तो अब आप भी किचन में सिल बट्टा रखते समय वास्तु के इन नियमों का ध्यान रखें। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- amazon

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।