कपल्स के बीच लड़ाई-झगड़ा न हो, ऐसा तो संभव ही नहीं है। जरूरी नहीं है कि हर बात दोनों व्यक्ति की सहमति हो। ऐसे में उनका झगड़ा होना स्वाभाविक है। कई बार हम अपने आसपास ऐसे कपल्स देखते हैं, जिनके बीच शायद ही कभी लड़ाई होती हो। उन्हें देखकर लोग रिलेशनशिप गोल्स सेट करते हैं। ऐसे कपल्स को परफेक्ट कपल्स माना जाता है। दूर से देखने में भले ही यह रिश्ता काफी अच्छा लगता हो, लेकिन वास्तव में उनके रिश्ते की नींव काफी कमजोर हो चुकी होती है। जी हां, सुनने में शायद अजीब लगे लेकिन लड़ाई वास्तव में आपके रिश्ते को मजबूत बनाती है। अगर आप अपने रिश्ते में हमेशा एक नयापन बनाए रखना चाहती हैं तो पार्टनर के साथ थोड़ी लड़ाई भी करनी चाहिए। अब आप यह सोच रही होंगी कि लड़ना रिश्ते के लिए कैसे अच्छा हो सकता है तो चलिए आज हम आपको इसके बारे में बताते हैं-

इसे भी पढ़ें: Relationship Tips: इन 7 बातों से समझें कि रिलेशनशिप में क्या चाहते हैं पुरुष

बढ़ता प्रेम

fighting with your partner is actually good inside

क्या आपने कभी नोटिस किया है कि जब आपकी अपने पार्टनर से लड़ाई होती है तो आप दोनों ही एक-दूसरे को मनाने के लिए कुछ न कुछ स्पेशल करते हैं। इतना ही नहीं, लड़ाई के बाद आप एक-दूसरे को अहसास कराते हैं कि वह आपके लिए कितना महत्वपूर्ण है। झगड़ा करने के बाद प्यार से बोला गया सॉरी आपसी प्रेम को बढ़ाता है। इस तरह की छोटी-छोटी चीजें रिश्ते में प्रेम का संचार करती हैं। इससे दोनों व्यक्ति के बीच इमोशनल अटेचमेंट बना रहता है।

दूर होते गिले शिकवे

fighting with your partner is actually good inside

दुनिया में दो व्यक्ति कभी भी एक जैसे नहीं हो सकते। उनके कार्यों व विचारों में मतभेद होना स्वाभाविक है। लेकिन जब आपको अपने पार्टनर की कोई बात बुरी लगती है और आप लड़ाई होने के डर से पार्टनर के सामने व्यक्त नहीं करतीं तो इससे वह बात आपके मन में ही रह जाती है। धीरे-धीरे ऐसी कई बातें इकट्ठी होने लगती हैं और फिर वह नाराजगी नफरत में तब्दील हो जाती है। इस तरह रिश्ते की नींव डगमगा जाती है। वहीं दूसरी ओर, जब आप अपने मन का गुबार निकाल देते हैं तो इससे आप काफी लाइट फील करती हैं और आपका मूड भी अच्छा होता है।

बेहतर समझ

fighting with your partner is actually good inside

जी हां, लड़ाईयां एक-दूसरे को बेहतर तरीके से समझने का एक आसान जरिया है। जब किसी बात पर लड़ाई होती है तो दोनों ही व्यक्ति इस बात को समझ पाते हैं कि उनके पार्टनर को उनकी कौन सी बातें बुरी लगती हैं और कौन सी अच्छी। इस तरह वह एक-दूसरे के व्यवहार व पसंद-नापसंद को बेहतर तरीके से समझने लगते हैं। इतना ही नहीं, रिश्ते को मजबूती देने के लिए आप उन कामों को करने से बचें, जिनसे आपके पार्टनर का दिल दुखता हो।

इसे भी पढ़ें: इन संकेतों से पहचानें कि गलत इंसान के साथ हैं आप

इसका रखें ध्यान

fighting with your partner is actually good inside

यह सच है कि छोटी-छोटी लड़ाई रिश्ते को मजबूत बनाती हैं, लेकिन फिर भी आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। सबसे पहले तो बिना वजह जबरदस्ती लड़ने की कोशिश न करें और न ही घर में हरदम लड़ाई का माहौल बनाएं। इससे रिश्ते में खटास आती है। वहीं अगर आप दोनों की लड़ाई हुई है तो उसे लम्बा खींचने की कोशिश न करें। लड़ाई होने के बाद आप एक-दूसरे को मनाने का प्रयास करें। साथ ही लड़ाई के दौरान ऐसी कोई बात न कहें, जिससे सामने वाले व्यक्ति के आत्मसम्मान को चोट पहुंचे या उसका दिल दुखे। जिस बात को लेकर आपकी लडाई है, झगड़ा केवल वहीं तक सीमित रखें। कभी भी इसमें परिवार या रिश्तेदारों का नाम न लें।