आप अपने घर की कई जगहों पर वास्तु और फेंगशुई के हिसाब से चीज़ों को रखते हैं जिससे घर में सुख समृद्धि आती है और धन लाभ भी होता है। लेकिन कई बार कुछ चीज़ों को सही तरीके से न रखना किसी को भी परेशानी में डाल सकता है। वैसे कई बार हम चीज़ों को सिर्फ शो पीस की तरह घर पर रखते हैं और उसका कोई वास्तु से संबंध नहीं होता है। 

लेकिन यदि किसी वस्तु को फेंगशुई या वास्तु के हिसाब से रखा जाए तो इसके नियमों का पालन करना भी जरूरी है। ऐसी ही चीज़ों में से एक है घर में रखा जाने वाला पानी का झरना। आपने अक्सर घरों में किसी भी स्थान पर झरना रखा हुआ देखा होगा। कई लोग इसे अपने घर के लिविंग रूम में रखते हैं तो कई लोग इसे घर के मुख्य द्वार पर रखते हैं। लेकिन इसका सही तरीके से और सही दिशा में रखा होना जरूरी है जिससे घर में सुख समृद्धि आए। आइए  Guruji App की वास्तु एक्सपर्ट Vastu Savi से जानें घर में झरना रखते समय किन बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है। 

घर में झरना देता है पॉजिटिव एनर्जी 

positive energy fountain

घरों, कमरों या अन्य स्थानों में लाभकारी ऊर्जा लाने के लिए फेंग शुई में अक्सर पानी के फव्वारे का उपयोग किया जाता है। उपयुक्त पानी का झरना या फव्वारा प्लेसमेंट शुभ फेंग शुई सुनिश्चित करता है, इसलिए कुछ नियमों और दिशानिर्देशों का पालन करने से आपको उनमें से घर में पॉजिटिव एनर्जी लाने में मदद मिल सकती है। 

इसे जरूर पढ़ें:Feng Shui Tips: इन 9 फेंग शुई टिप्स से धन धान्य से भर जाएगा घर

tips for placing fountain at home

इस दिशा में रखें पानी का झरना 

अगर आप घर में पानी का झरना रख रही हैं तो आपको इसे मुख्य रूप से घर की उत्तर दिशा या उत्तर पूर्व दिशा में रखना चाहिए। झरने को रखने के सही दिशा बहुत ज्यादा मायने रखती है। गलत दिशा में रखा झरना घर में अशांति और आर्थिक हानि का कारण भी बन सकता है। यदि आप घर की सही दिशा नहीं जानते हैं तो पहले घर का की उत्तरी दिशा का केंद्र ढूढें और वास्तु एक्सपर्ट से बात करके ही इसे उस जगह पर रखें। 

मुख्य द्वार पर झरना रखते समय क्या करें 

main door tips

आमतौर पर आप अपने घर की किसी भी जगह पर पानी का झरना लगा सकती हैं और इसे घर में मुख्य द्वार पर भी रख सकती हैं। लेकिन चूंकि ऊर्जा प्रवाह को सुविधाजनक बनाने के लिए जल प्रवाह की दिशा महत्वपूर्ण है। इसलिए यदि आपका घर साउथ फेसिंग है तो मुख्य द्वार (मुख्य द्वार के लिए वास्तु टिप्स ) पर झरना न रखें क्योंकि इस दिशा में रखा झरना आपके सामने वाले घर के लिए सकारात्मक ऊर्जा लाएगा और आपके घर की गलत दिशा में होने की वजह से आपके घर में नकारात्मकता ला सकता है। यदि आपके लिए मुख्य सवार की दिशा झरने के हिसाब से उपयुक्त है तो जब इसे मुख्य द्वार पर रखें तब ये सुनिश्चित करें कि झरने में पानी दरवाजे की ओर बहता है, उससे दूर नहीं। क्योंकि जल प्रवाह की दिशा ऊर्जा की दिशा निर्धारित करती है और आप ऊर्जा को अपने घर में लाना चाहते हैं, न कि उसे दूर धकेलना चाहते हैं।

Recommended Video

सही दिशा में झरना लगाने के लाभ 

झरने को सही दिशा में यानी कि उत्तरी क्षेत्र में लगाने से आपके काम और करियर में मदद मिलेगी। क्योंकि आपके जीवन और क्षेत्र का यह पहलू जल तत्व द्वारा नियंत्रित होता है। वहीं दक्षिण दिशा में रखा गया झरना आपकी प्रगति में बाधा बन सकता है। क्योंकि दक्षिण क्षेत्र, जो प्रसिद्धि और उपलब्धियों की मान्यता का समर्थन करता है घर में रखे जाने वाले फव्वारे के लिए शुभ स्थान नहीं है।

इसे जरूर पढ़ें:Vastu Tips: सुख शांति के लिए घर में एक्वेरियम रखते समय ध्यान में रखें ये बातें

झरने का पानी कभी बंद नहीं होना चाहिए

feng shui tips 

वास्तु और फेंगशुई एक्सपर्ट बताते हैं कि यदि आप घर में पानी का झरना रख रही हैं तो सबसे ज्यादा ध्यान देने वाली बात है कि आपको इसे कभी भी बंद नहीं करना चाहिए। इसका मतलब ये हुआ कि इसे 24 घंटे चलाए रखें जिससे इसका पानी निरंतर निकलता रहे और घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार हो। 

घर में पानी का झरना रखते समय उपर्युक्त बातों का ध्यान रखकर आप घर में पॉजिटिव एनर्जी के साथ सुख और समृद्धि भी ला सकते हैं। वैसे अगर आप वास्तु या फेंगशुई की ना माने और सजावट के लिए इसे घर पर लगाते हैं तो आपको इन नियमों का पालन करने की ज्यादा आवश्यकता नहीं होती है। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik