• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

कॉफी मेकर खरीदते समय इन छोटी-छोटी बातों का रखें ध्यान

अगर आप कॉफी मेकर खरीदने का मन बना रही हैं तो आपको कुछ छोटी-छोटी बातों का खास ख्याल रखना चाहिए।
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial
Published -27 Jun 2022, 14:53 ISTUpdated -27 Jun 2022, 14:53 IST
Next
Article
shopping

ऐसे कई लोग हैं, जिन्हें कॉफी पीने का बेहद शौक होता है। यहां तक कि दिन की शुरुआत भी वह चाय से नहीं, बल्कि कॉफी के साथ करते हैं। इसके अलावा, दिन भर में उन्हें कई बार कॉफी पीने की तलब होती है। ऐसे लोगों के लिए कॉफी मेकर में इनवेस्ट करना यकीनन अच्छा विचार हो सकता है। फिर भले ही आपको स्ट्रांग कॉफी पीना पसंद हो या फिर आप लाइफ कॉफी पीते हो, कॉफी मेकर चंद ही मिनटों में कई कप कॉफी बनाकर आपको दे सकता है।

आज के समय में मार्केट में कई ब्रांड्स के तरह-तरह के कॉफी मेकर अवेलेबल हैं, जिनकी अपनी कुछ खूबियां हैं। ऐसे में अगर आप पहली बार कॉफी मेकर खरीद रहे हैं तो हो सकता है कि आपको काफी कन्फ्यूजन हो। आप भले ही किसी भी ब्रांड के कॉफी मेकर को सलेक्ट करें, लेकिन फिर भी आपको कुछ छोटी-छोटी बातों का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए। जिसके बारे में आज हम आपको इस लेख में बता रहे हैं- 

कैपेसिटी पर दें ध्यान

capacity

अमूमन मार्केट में कॉफी मेकर दो प्रकार के मिलते हैं।  एक वह है जिसमें आप केवल एक कप कॉफी बना सकते हैं और दूसरा वह है जहां आप अपने परिवार या दोस्तों के लिए कॉफी बना सकते हैं, यानी आप कई लोगों के लिए कॉफी बना सकते हैं। इसलिए, किसी भी कॉफी मेकर को खरीदने से पहले उसकी कैपेसिटी पर ध्यान दें। अगर आप अकेली रहती हैं और आपको केवल एक कप कॉफी ही बनानी पड़ती है तो आप एक कप कॉफी बनने वाले कॉफी मेकर को सलेक्ट कर सकती हैं। वहीं, अगर आप परिवार में रहती हैं तो अधिक कैपेसिटी वाले कॉफी मेकर में इनवेस्ट करें।

इसे जरूर पढ़ें- कॉफी मेकर को आप एक नहीं, कई तरीकों से कर सकती हैं इस्तेमाल, जानिए

ब्रू कंट्रोल फीचर

bruh control feature

कॉफी मेकर में इस फीचर को आपको जरूर चेक करना चाहिए। इस कंट्रोल की मदद से आप स्ट्रांग ब्रू की हुई कॉफी या लाइट ब्रू की हुई कॉफी बना सकते हैं। यदि आप हल्की पीसी हुई कॉफी चाहते हैं, तो यह कंट्रोल फीचर ग्राउंड कॉफी से पानी को हटा देगा और कॉफी उतनी स्ट्रांग नहीं बनेगी। इस तरह यह फीचर आपको टेस्ट के अनुसार कॉफी बनाने की सुविधा प्रदान करती है।

ग्राइंडर फीचर

grinder feature

यह फीचर उन लोगों के लिए एक प्लस प्वाइंट है, जिन्हें ताजी कॉफी पसंद है यानी आप कॉफी बीन्स को खुद पीसना चाहते हैं। आजकल कॉफी मेकर में एक इनबिल्ट ग्राइंडर भी होता है। एक इनबिल्ट ग्राइंडर ताज़ी पिसी हुई कॉफी बीन्स के साथ कॉफी बना सकता है। इससे आपको फ्रेश कॉॅफी का टेस्ट मिलता है। हालांकि, ग्राइंडर की एक कमी यह है कि आपको इसे नियमित रूप से साफ करना पड़ता है, जिससे इसे अधिक रखरखाव की आवश्यकता होती है।

वाटर फिल्टर

कॉफी मशीन में वाटर फिल्टर होना काफी अच्छा माना जाता है। दरअसल, यह फिल्टर गंध और क्लोरीन को हटाता है, जिससे आपको एक बेहतर टेस्ट वाली कॉफी का स्वाद चखने का मौका मिलता है।

स्पेशल फीचर पर भी करें फोकस

special feature

आज के समय में कॉफी मेकर में कई तरह फीचर होते हैं, जिन्हें आप अपनी जरूरत के अनुसार सलेक्ट कर सकती हैं। मसलन, अगर आप उन लोगों में से हैं, जो एक कप कॉफी के बिना बेड से उठते नहीं हैं, तो ऐसे में आपको ऑटोमैटिक कॉफी मेकर में इनवेस्ट करने पर विचार करना चाहिए। इसे आप एक रात पहले ही सेट कर सकती हैं और जब आप अगली सुबह उठेंगे तो आपको कॉफी रेडी मिलेगी। ऑटोमैटिक कॉफी मेकर को एक बार सेट करने की आवश्यकता होती है और फिर यह आपको आपके टेस्ट के अनुसार मनचाही कॉफी बनाकर देती है।

इसे जरूर पढ़ें- कॉफी की हैं शौक़ीन तो डाइट में शामिल करें ब्लैक कॉफी, जानें इसके हेल्थ बेनिफिट्स

तो अब जब भी आप कॉफी मेकर को खरीदें तो इन टिप्स को बिल्कुल भी नजरअंदाज ना करें। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकीअपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

Image Credit- freepik, pexels

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।