टीवी के सबसे बड़े रियलिटी शो बिग बॉस-13 का आगाज हो चुका है। इस बार भी इस शो को सलमान खान ही होस्‍ट कर रहे हैं। यूं तो इस घर में होने वाला झगड़ा, एक दूसरे पर जोर-जोर से चिल्‍लाना, एक-दूसरे को नीचा दिखाने की साजिश और घर में बने रहने के लिए खेले जाने वाले खेल आमतौर पर चर्चा का विषय रहते है। लेकिन इस बार टीवी का सबसे विवादित शो बिग बॉस-13 मुसीबत में आ गया है। इस सीजन में, सलमान खाने ने बेड फ्रेंड फॉरएवर का कांसेप्ट पेश किया, जिसमें एक लड़का और लड़की बेड शेयर करना होता है। लेकिन कांसेप्ट ने एक बड़े विवाद को जन्‍म दिया और दर्शकों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया है क्‍योंकि उन्‍हें लगता है कि यह हिंदू संस्‍कृति का अपमान है। इस शो पर अश्लीलता परोसने का आरोप लगने लगा।

इसे जरूर पढ़ें: बिग बॉस सीजन 13 की ये 5 बातें हैं बेहद खास, आप भी जानिए

bigg boss season  colors

हाल ही में, व्यापारियों के संगठन ने इस शो पर प्रतिबंध लगाने के अनुरोध के साथ सूचना और प्रसारण मंत्री, प्रकाश जावड़ेकर से संपर्क किया है। उन्होंने शो के प्रसारण से पहले सेंसर बोर्ड से भी प्रमाण पत्र मांगा। 

 

"हम कलर्स टीवी चैनल पर टीवी शो 'बिग बॉस' के टेलीकास्ट होने पर आपका ध्यान आकर्षित करना चाहते हैं, जो इस हद तक अश्लीलता दिखा रहा है कि चैनल को घरेलू माहौल में देखना मुश्किल है और हमारे देश के पुराने पारंपरिक और सांस्कृतिक मूल्य टीआरपी और मुनाफे की लालसा में धूमिल किया जा रहा है, जिसे भारत जैसे विविधता वाले देश में अनुमति नहीं दी जा सकती है। 'बेड फ्रेंड फॉरएवर' की अवधारणा बेहद निराशाजनक है और टेलीविजन की दुनिया की सभी नैतिक मूल्‍यों  के खिलाफ है। शो को बनाने वाले यह भूल गए कि यह टीवी का प्राइम टाइम स्लॉट है जब यह शो टेलीकास्ट होता है और सभी आयु वर्ग के लोग शो देखते हैं। वर्तमान शो नैतिकता की सभी सीमाओं को पार कर गया है," पत्र में लिखा।

bigg boss season  ban

इस मुद्दे के बारे में पूछे जाने पर, कैट के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने एक प्रमुख मीडिया हाउस से कहा, "प्रत्येक एपिसोड की सेंसर बोर्ड द्वारा विधिवत जांच की जानी चाहिए। शो में जो कुछ भी हो रहा है, वह बिल्कुल गलत है। परिवार के साथ शो देखना और बैठना मुश्किल हो जाता है। हम अपनी मांगों को श्री जावड़ेकर को बताएंगे।"

व्यापारियों के संगठन के बाद, करणी सेना ने भी बिग बॉस-13 पर प्रतिबंध लगाने की मांग करते हुए दावा किया कि यह शो हिंदू संस्कृति के खिलाफ है और लव जिहाद के विचार को बढ़ावा दे रहा है। प्रकाश जावड़ेकर को लिखे पत्र में, करणी सेना ने यह भी आरोप लगाया कि "शो बेहूदापन और अश्लीलता को बढ़ावा दे रहा था और परिवार के लिए देखना सही नहीं था"।

इसे जरूर पढ़ें: बिग बॉस-13 के फैंन हैं तो घर के 5 सबसे महंगे कंटेस्‍टेंट के बारे में जान लें

बस इतना ही काफी नहीं है। संगठन ने राष्ट्रीय टेलीविजन पर लव जिहाद को बढ़ावा देने और हिंदू संस्कृति का अपमान करने के लिए सलमान के खिलाफ सख्त कार्रवाई की भी मांग की थी।

हालांकि, यह पहली बार नहीं है जब यह शो इस तरह के विवादों में आया है। इससे पहले, 2017 में तमिलनाडु स्थित हिंदू मक्कल काची (एचएमके) पार्टी ने तमिल संस्कृति को नष्ट करने के लिए "बिग बॉस तमिल" पर प्रतिबंध लगाने की मांग की थी।