हिंदु धर्म में दिन की शुरुआत भगवान की पूजा से करना शुभ गया है। इसलिए लोग अपने घरों में ही छोटा सा मंदिर बना लेते हैं और सुबह-शाम इसी मंदिर में रखे देवी-देवताओं की पूजा करते हैं। मगर घर के मंदिर में देवी-देवताओं की कैसी मूर्ति या तस्‍वीर रखनी चाहिए और उनसे जुड़ा कौन सा सामान रखना चाहिए या नहीं रखना चाहिए, इस विषय में कम लोगों को ही जानकारी होती है। 

भोपाल के ज्योतिषाचार्य एंव हस्तरेखर्विंद विनोद सोनी पोद्दार बताते हैं कि घर के मंदिर में किन चीजों को भूल कर भी नहीं रखना चाहिए। तो यदि आपके घर पर भी मंदिर है तो पंडित जी की बताई गईं बातों का जरूर ध्‍यान रखें। 

पूजा की थाली में टूटे हुए चावल न रखें 

हिंदू धर्म में नियमित रूप से देवी-देवताओं की पूजा करना और उन्‍हें रोली-चावल लगाने का अलग ही महत्‍व बताया गया है। ऐसी मान्‍यता है कि माथे पर रोली-चावल लगाने से ईश्‍वर आपकी सभी मनोकामनाओं को पूर्ण कर देते हैं। ऐसे में इस बात का विशेष ध्‍यान रखना चाहिए कि ईश्‍वर को कभी भी टूटे हुए चावल अर्पित नहीं करने चाहिए। इसे बहुत ही अशुभ माना गया है। 

इसे जरूर पढ़ें: इन आसान डेकोरेटिव तरीकों से करें घर के मंदिर की सजावट

mandir face direction in home

एक ही भगवान की एक से अधिक मूर्ति 

घर के मंदिर में एक भगवान की एक से अधिक मूर्ति या तस्‍वीर न रखें। यदि आप एक से अधिक मूर्ति या तस्‍वीर रख ही रही हैं तो आपको विषम संख्‍या जैसे- 3, 5, 7 की संख्‍या में मूर्ति या तस्‍वीर नहीं रखनी चाहिए। इतना ही नहीं, हमेशा देवी-देवताओं की मुस्‍कुराती हुई तस्‍वीर या मूर्ति ही रखें। देवी-देवताओं के रौद्र रूप की पूजा नहीं करनी चाहिए। जैसे भगवान शिव की नृत्‍य करती हुई मूर्ति या तस्‍वीर, भगवान विष्‍णु के नरसिंह अवतार की मूर्ति या तस्‍वीर, भगवान शनि देव की तस्‍वीर या मूर्ति आदि को घर के मंदिर में न रखें। 

शिवलिंग के साइज का रखें ध्‍यान 

यदि आप घर में भगवान शिव के शिवलिंग स्‍वरूप की पूजा करना चाहती हैं। तो आपको अपने अंगूठे के आकार के शिवलिंग ही घर पर रखने चाहिए। इससे बड़े आकार के शिवलिंग को घर के मंदिर में स्‍थापित न करें। यदि आप घर के मंदिर में शिवलिंग रख रही हैं तो आपको इस बात को भी सुनिश्चित करना होगा कि शिवलिंग पर पूरे दिन तांबे के कलश से बूंद-बूंद पानी गिरता रहे। 

how to set up mandir at home

हनुमान जी की मूर्ति या तस्‍वीर 

आप यदि भगवान हनुमान के भक्‍त हैं तो आप घर के मंदिर में हनुमान जी की मूर्ति भी रख सकते हैं। हनुमान जी की मूर्ति का आकार भी हाथ के अंगूठे के साइज के बराबर ही होना चाहिए। आपको बता दें कि भगवान हनुमान को भगवान शिव का ही अवतार माना गया है। इसलिए यदि आप घर में हनुमान जी की प्रतिमा या तस्‍वीर स्‍थापित कर रहे हैं तो आपको उनकी अच्‍छी तरह से  सेवा भी करनी होगी। इतना ही नहीं, इस बात का भी ध्‍यान रखें कि हनुमान जी की हमेशा उसी मूर्ति को घर में स्‍थापित करें, जिसमें वह बैठे हुए हों। 

इसे जरूर पढ़ें: त्‍यौहार आने से पहले घर के मंदिर की इस तरह करें सफाई

Recommended Video

खंडित मूर्ति या दिया 

अक्‍सर मंदिर की साफ-सफाई के दौरान भगवान की मूर्ति, तस्‍वीर या उनके बर्तन टूट जाते हैं। इस स्थिति में खंडित मूर्ति, तस्‍वीर या फिर बर्तन को मंदिर में नहीं रखना चाहिए। बल्कि आपको इसके स्‍थान पर नए बर्तन और मूर्ति लानी चाहिए। दरअसल, खंडित मूर्ति की पूजा को शास्‍त्रों में अशुभ माना गया है। साथ ही आपको टूटे हुए दिए से भी भगवान की पूजा नहीं करनी चाहिए। ऐसा करन से भगवान नाराज हो जाते हैं। 

 

यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें। साथ ही इसी तरह के और भी आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।