मैरिटल लाइफ में शुरुआती वक्त पति-पत्नी दोनों के लिए बहुत खुशगवार होता है। एक-दूसरे को जानने, साथ में टाइम स्पेंड करने और रोमांटिक वैकेशन पर जाने में कपल्स खूब एंजॉय करते हैं। लेकिन समय के साथ शादीशुदा जिंदगी में कई तरह की प्रॉब्लम्स आने लगती हैं, जैसे कि एक-दूसरे के साथ वक्त ना मिल पाना, परिवार के सदस्यों के लिए जिम्मेदारियां, घर-परिवार से जुड़े काम, ऑफिस का प्रेशर आदि। इन समस्याओं से कपल्स डील कर लेते हैं, लेकिन कुछ ऐसी प्रॉब्लम्स भी होती हैं, जिन्हें हैंडल करना काफी मुश्किल होता है, जैसे कि महिलाओं की अपने पति के लिए पजेसिवनेस। आमतौर पर पति अपनी पत्नियों के लिए पजेसिव होते हैं, लेकिन कई मामलों में पत्नी अपने पति को लेकर इनसिक्योर फील करती हैं। पति के साथ काम करने वालों में और दोस्तों में बहुत सी महिलाएं भी होती हैं और अगर पति के साथ इनकी बॉन्डिंग बहुत ज्यादा अच्छी हो तो कई बार महिलाओं को ये चीज नागवार गुजरती है। ऐसी स्थिति में घर में बिना बात का तनाव बढ़ सकता है। अगर आप भी ऐसी ही स्थिति से गुजर रही हैं तो परेशान ना हों। आप कुछ ऐसे तरीके अपना सकती हैं, जिनके जरिए आप अपनी इनसिक्योरिटीज को काबू में रख सकती हैं और रिलेशनशिप को मजबूत बना सकती हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: पति को लंबे वक्त तक रखना चाहती हैं खुश तो जरूर अपनाएं ये तरीके

दूसरों से खुद की तुलना ना करें

husband wife relations inside

महिलाओं के भीतर दूसरी महिला के लिए जेलसी या ईर्ष्या तभी जन्म लेती है, जब वे खुद को उनसे कमतर मानती हैं। अगर पति की कोई पूर्व प्रेमिका रही है या बहुत अच्छी दोस्त है तो ऐसी फीलिंग मन में आना बहुत नेचुरल है, लेकिन इस बात को लेकर झगड़ा और रोजमर्रा की जिंदगी में तनाव में रहने से पति के साथ संबंध खराब हो सकते हैं

इसे जरूर पढ़ें: टीवी की इन हॉट फेवरेट जोड़ियों का रोमांस देखकर आपके दिल में भी कुछ-कुछ होने लगेगा

अपनी खूबियों पर फोकस करें

happy married life relationship tips inside

हर इंसान में कुछ ऐसी चीजें होती हैं, जो पूरी तरह से यूनीक होती हैं। अगर महिलाएं भी अपनी पर्सनेलिटी के मजबूत पहलुओं के बारे में सोचें और अपना आत्मविश्वास बनाए रखें तो उनके भीतर दूसरों के लिए भय या नेगेटिविटी नहीं आएगी। खुद की चीजों पर ध्यान नहीं देने या अपने सकारात्मक पहलुओं को अप्रीशिएट नहीं करने से कई बार महिलाएं दूसरों के लिए ईर्ष्या का भाव रखने लगती हैं। इसके लिए आपको ऐसे लोगों की संगत में रहना चाहिए, जो आपकी मौजूदगी होने से स्पेशल फील करते हैं और आपका हौसला बढ़ाते हैं। 

सवाल पूछने से ना डरें

how to overcome jealousy inside

अगर आपको अपने पति के बिहेवियर से परेशानी महसूस हो रही है और उनके अपनी दोस्तों के साथ हंसने-बोलने या नजदीकी बढ़ाने से परेशानी लग रही है तो आप इस बारे में उनसे स्पष्ट तरीके से पूछ सकती हैं। समस्याओं पर खामोश रह जाने और सहते रहने से कई बार महिलाएं तनाव में रहने लगती हैं और आगे चलकर यह बड़े विवाद को जन्म दे सकता है। अगर पति से गलती हो रही है तो मुमकिन है कि भविष्य में वह अपना व्यवहार बेहतर बना सकते हैं, जिससे आपकी टेंशन दूर हो सकती है। 

अपना आत्मविश्वास बढ़ाएं

इनसिक्योर होने पर महिलाएं अपने जीवन की कमियों पर जरूरत से ज्यादा सोचती हैं और जो उनके पास है, उसे अप्रीशिएट नहीं कर पातीं। इस स्थिति में वे अपने टैलेंट और खूबियों पर वे ध्यान नहीं दे पातीं। साथ ही वे अपनी उस अट्रैक्टिव पर्सनेलिटी के बारे में सोचना भी भूल जाती हैं, जिसकी वजह से उनके पति उनकी सराहना करते हैं। अपनी टेंशन और तनाव के कारण व्यवहार में आ रहे बदलाव से पार पाने का एक आसान तरीका ये है कि अपनी योग्यताओं पर भरोसा करें और खुद को बेहतर बनाने पर फोकस करें। 

लोगों में भरोसा करना सीखें

इनसिक्योरिटी की एक बड़ी वजह है कि धोखाधड़ी के बढ़ते मामलों और स्वार्थपरिता के कारण हम किसी में यकीन नहीं कर पाते। इससे इंसान भीतर से अकेला महसूस करता है। हमें अपनी लाइफ को जिंदादिली से जीने और खुश रहने के लिए खुद को एक्सप्रेस करना बहुत जरूरी है। इसके लिए लोगों से मेलजोल बढ़ाना और अपनी भावनाओं को व्यक्त करना और समाज से जुड़ना बहुत जरूरी है। इससे भीतर का अकेलापन खत्म हो जाता है और इनसिक्योरिटी की फीलिंग भी खत्म हो जाती है।  

Image Courtesy: Frames Studios