• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

ऑफिस से घर आते समय करें ये 5 चीजें, दूर हो सकता है वर्कस्ट्रेस

काम को लेकर स्ट्रेस हो रहा है तो इस स्ट्रेस को घर लेकर जाने की जरूरत नहीं है। इसे  रास्ते में ही खत्म करने के कुछ टिप्स बहुत काम के साबित हो सकते हैं। 
author-profile
Published -12 Jul 2019, 09:00 ISTUpdated -12 Oct 2021, 18:05 IST
Next
Article
how to control office stress

अब अधिकतर लोगों के ऑफिस खुल गए हैं और ऑफिस खुलने के साथ-साथ अपने पुराने रूटीन में आने की परेशानी काफी ज्यादा बढ़ गई है। इतने समय में ऑफिस जाने की जो आदत छूट गई थी वो अब दोबारा लगाना बहुत मुश्किल है और ऐसे में अगर देखा जाए तो आपको परेशानी होना स्वाभाविक है। फिर ऑफिस में दिन भर बैठने का स्ट्रेस, मीटिंग्स का स्ट्रेस, बॉस की डांट का स्ट्रेस तो और भी ज्यादा परेशान कर देता है। 

काम कई बार बेहद थकान भरा हो सकता है। अक्सर ऑफिस के परेशान कर देने वाले दिन के बाद लोगों को लगता है कि वो कुछ ज्यादा ही गुस्से में हैं या फिर थकान की वजह से चिड़चिड़ा रहे हैं। अगर ऐसा कुछ लग रहा है तो उसका सबसे अच्छा तरीका है काम का बोझ ऑफिस में ही छोड़ आने का। कई बार ऑफिस में हुई एक छोटी सी बात भी आपको बहुत परेशान कर देती है ऐसे में कुछ आसान से तरीकों से अपना मूड अच्छा किया जा सकता है।  

अगर मूड खराब है तो घर आकर शाम भी खराब होगी और रोमांटिक डिनर प्लान से लेकर घर में फैमिली टाइम और सबसे जरूरी Me time भी बर्बाद हो जाता है। हमारी बात मानिए और काम से घर जाते समय ये छोटी-मोटी टिप्स फॉलो कीजिए-  

1. अपने काम को लेकर सवाल-जवाब कर लीजिए-  

ओवर थिंक करने की जरूरत नहीं, लेकिन थोड़ा बहुत सोचने की जरूरत तो है। इसलिए बेहतर है कि अपने दिन को लेकर खुद से 5 मिनट सवाल-जवाब कर लिए जाएं। आपने क्या अच्छा किया, दिन कितना प्रोडक्टिव था, मूड खराब होने के बाद भी काम तो पूरा हुआ, जो नहीं हो सकता वो कल हो जाएगा, काम कल कैसे बेहतर करना है उसकी स्ट्रैटजी आदि बनाई जा सकती है। इसके लिए बहुत ज्यादा समय न खर्च करना वर्ना दिक्कत हो सकती है। एक बार ये खत्म हुआ तो अपने दिन के बारे में सोचिए और भूल जाइए, थोड़ी शांति मिलेगी। क्योंकि आपके कल के काम की स्ट्रैटजी बन चुकी है और अपना दिन आप खुद ही रिव्यू कर चुकी हैं।  

work and mood

इसे जरूर पढ़ें- तन और मन की थकान मिटाने के लिए जन्‍नत है ये 5 जगहें, एक बार जरूर जाएं 

2. घर जाकर निपटाने वाले कामों के लिए तैयार रहें-  

कई बार महिलाओं को इसे लेकर बहुत चिढ़ हो जाती है कि उन्हें घर जाकर बहुत सारा काम करना है। इसके बारे में रास्ते में ही सोच लीजिए। आने वाले समय की स्ट्रैटजी बन जाएगी। कहीं डिनर के लिए बाहर जाना है तो कौन सी ड्रेस पहननी है, कपड़े या बर्तन धोने हैं तो उन्हें कितने टाइम में निपटा लेंगी। वीकएंड की प्लानिंग से लेकर अगले दिन की प्लानिंग और शॉपिंग लिस्ट तक सब कुछ इस समय में किया जा सकता है। 5-10 मिनट से ज्यादा इसमें भी न लगाइएगा। ऐसे में घर जाकर चिड़चिड़ाहट नहीं होगी और आपको पता होगा कि क्या काम करना है।  

work related relaxation

3. रिलैक्स और सीखने का समय- 

अगर घर जाते समय ड्राइव नहीं करनी है और पब्लिक ट्रांसपोर्टमें हैं तो बेहतर होगा कि अपना समय ऐसे खर्च करें। इसके लिए किताब पढ़ सकती हैं। किसी ऑनलाइन कोर्स को देख सकती हैं, किसी वीडियो को देख सकती हैं जो नॉलेज दे, कोई पहेली सुलझा सकती हैं। अगर ये सब नहीं करना है तो बेहतर होगा कुछ रिलैक्सिंग एक्सरसाइज करें। इससे आपका दिमाग शांत होगा। कई सारी एक्सरसाइज फॉलो की जा सकती हैं। 

Recommended Video

 

4. टेंशन खत्म करने की कोशिश करें- 

अगर आपको मौका मिले तो रास्ते में टेंशन खत्म करने के लिए कुछ एंटरटेनमेंट कर सकती हैं। आस-पास वाली महिलाओं से दोस्ती करने की कोशिश करें जो रोज़ रास्ते में मिलती हैं। अगर नहीं तो सीढ़ियां चढ़ते या उतरते समय एक दो सीढ़ी स्किप कर दें। या कहीं चलते-चलते थोड़ा सा जंप मार लें। ये पढ़ने में बड़ा ही बचकाना लग सकता है, लेकिन है बहुत काम का। हां, ध्यान रखिएगा कोई ऐसे समय देख न रहा हो। अगर कॉन्फिडेंट हैं तो किसी के सामने भी कर सकती हैं। इसी के साथ, सांस लेने के तरीके को भी ध्यान में रखें। उछलना-कूदना और सांस लेने का तरीका शरीर में अलग तरह के हार्मोन्स बढ़ाता है और इससे बहुत अच्छा असर हो सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें-आपके तनाव को पल भर में छूमंतर कर देंगे ये 2 योगासन 

5. म्यूजिक सबसे ज्यादा रिलैक्स करेगा- 

अपने मूड को रिलैक्स करना है तो म्यूजिक का सहारा लें। म्यूजिक आपके मूड को रिलैक्स कर सकता है। अपनी पसंद का गाना सुनें और अगर मूड को थोड़ा तरोताज़ा करना है तो कोई नया ट्रैक सुनें। अगर घर जाते समय रिलैक्सिंग म्यूजिक रोज़ सुनते हैं तो कोई आइटम नंबर लगा लें। इससे बहुत असर पड़ता है और दिमाग उसी गाने की ओर केंद्रित हो जाता है। इससे गुस्सा कम होगा और अगर रोज़ चिड़चिड़ापन हो रहा है तो वो भी दूर होगा। 

मानसिक शांति के लिए घर जाते समय इन टिप्स को अपनाएं और फर्क अपने आप ही दिख जाएगा। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से। 

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।