बच्चों के साथ सफर करना किसी टास्क से कम नहीं। ट्रेन हो या फिर प्लेन खास सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है। वहीं बात जब प्लेन से सफर करने की हो तो और अधिक ध्यान देने की जरूरत होती है, क्योंकि बच्चे एक स्थान पर बैठे रहने के आदि नहीं होते हैं। बच्चों की हरकतों से आसपास के पैसेंजर भी काफी परेशान होते हैं। कई पैसेंजर कॉपरेटिव होते हैं, लेकिन कुछ जज करना शुरू कर देते हैं। बच्चे की रोने और घूमने की आदत आप चाहकर भी रोक नहीं पाएंगी। 

कई बार ऐसा होता है जब बच्चे बिना किसी वजह के रोना शुरू कर देते हैं। ऐसे में उन्हें चुप कराना काफी मुश्किल होता है। इसलिए कोशिश करें कि बच्चे के साथ ट्रैवेल करते वक्त आपकी तैयारी पूरी हो, ताकी इस तरह की परिस्थिति से बच सकें। इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कुछ ऐसी टिप्स के बारे में जिसे आप बच्चों के साथ ट्रैवेल करते वक्त फॉलो कर सकती हैं।

फ्लाइट का समय

flying with babies

आप अपने बच्चे के शेड्यूल के हिसाब से फ्लाइट चूज करें। आप चाहें तो बच्चे के बेड टाइम को चुन सकती है, इससे सफर के दौरान आपको परेशानी नहीं होगी और बच्चा आसानी से सो भी जाएगा। बच्चे जब जगे रहते हैं तो उनके खाने-पीने की चीजों को मिनट-मिनट पर चेक करना पड़ता है। इससे आसपास के पैसेंजर काफी परेशान होते हैं, ऐसे में कोशिश करें की आपकी फ्लाइट के टेक ऑफ की टाइमिंग बच्चे के अनुकूल हो।

बच्चे के अनुकूल फ्लाइट

टिकट करवाते वक्त यह जरूर देख लें कि एयरलाइन आपके बच्चे के अनुकूल है या नहीं। अगर उसका स्टाफ और सर्विस बच्चों के लिए फ्रेंडली है तो ही टिकट करवाएं। अगर प्लेन में कोई इमरजेंसी होती हैं तो उस स्थिति में उसकी सर्विस सही है या नहीं यह भी देखें। क्योंकि कई बार बच्चे बीमार हो जाते हैं, इस स्थिति में उन्हें मेडिकल सर्विस की आवश्यकता होती है। इसलिए फ्लाइट की सुविधाओं में यह चेक करना जरूरी है।

किसी के साथ करें सफर

make a plan

अगर आप फ्लाइट से सफर कर रही हैं तो अकेले न जाएं बल्कि किसी दोस्त या फिर रिश्तेदार को अपने साथ रखें। इस तरह आप आसानी से बच्चे को संभाल सकती हैं, कई बार ऐसा होता है जब मां बच्चे की हरकतों से इरिटेट हो जाती है। वहीं किसी के होने से आप इस मुश्किल स्थिति को संभाल सकेंगी।

Recommended Video

 

डायरेक्ट हो आपकी फ्लाइट

कई बार सफर के दौरान फ्लाइट चेंज करनी पड़ती है, लेकिन अगर आप एक मां हैं तो ऐसी एयरलाइन की टिकट बुक करवाएं जो डायरेक्ट हो। इससे आप बार-बार चेंज करने की मुसीबत से बच सकती हैं। क्योंकि बच्चे को संभालते हुए फ्लाइट चेंज करना किसी मुश्किल काम से कम नहीं है।

इसे भी पढ़ें: 2020 में इन सितारों को झेलना पड़ा टूटे रिश्तों का दर्द

पूरी रखें अपनी तैयारी

mother should prepare

बच्चों को हर घंटे खाने और पीने की आदत होती है। कई बच्चे होते हैं, जो भूख की वजह से काफी रोते हैं। ऐसी स्थिति में अपने साथ पानी से लेकर खाने-पीने तक की पैकिंग अच्छी तरीके से कर लें। कोशिश करें कि बच्चों को सुरक्षित आहार ही नहीं हेल्दी चीजें भी खिलाई जा सकें। इसके अलावा कुछ एक्सट्रा कपड़ें और खिलौने भी साथ रखें, ताकी जरूरत पड़ने पर चीजें उपलब्ध हों।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।