घर हो चाहें ऑफिस हर जगह लोग पुरुष और महिलाएं गॉसिप का मजा लेते नजर आते हैं। कभी हल्के-फुल्के विषयों पर गॉसिपिंग होती है तो कभी सीरियस मुद्दों पर भी लोग तरह-तरह की गॉसिप करते नजर आते हैं। किसी के अफेयर के बारे में जानना, किसी की पर्सनल लाइफ के इशु पर चटखारे लेकर बातें करना, ऑफिस पॉलिटिक्स पर चर्चा करना या फिर पति-पत्नी के बीच होने वाली टेंशन्स पर बात करना, इसमें ज्यादातर लोगों की दिलचस्पी होती है। ये बातें लोगों को नया मसाला देती हैं, इसीलिए लोग घंटों गॉसिप में बिता देते हैं। थोड़ा-बहुत हंसी मजाक करना बुरा नहीं है, लेकिन अगर गॉसिप में बहुत ज्यादा वक्त दिया जाए तो इससे महिलाओं की जिंदगी पर नेगेटिव असर हो सकता है। इसीलिए महिलाओं को अपना मेंटल पीस बनाए रखने के लिए और रोजमर्रा की जिंदगी में फोकस्ड रहने के लिए गॉसिप से खुद को अलग रखना बहुत जरूरी है। आइए जानें कुछ ऐसे तरीके, जिनके जरिए महिलाएं गॉसिपिंग से दूर रह सकती हैं-

पर्सनल लाइफ पर ना करें चर्चा

gossip dealing with gossip inside

बहुत बार महिलाएं इमोशनल होकर घर की परेशानियों की चर्चा करने लगती हैं या फिर अपने पति या सास की बुराई करने लगती हैं। महिलाएं इन चीजों पर इसलिए बात करती हैं क्योंकि कहीं ना कहीं उन्हें ये चीजें अखरती हैं, लेकिन जिन लोगों से वे अपनी समस्याएं शेयर करती हैं, उन्हें समस्या को सुलझाने या सॉल्यूशन देने से ज्यादा गॉसिपिंग में मजा आता है, इसीलिए अपने घर की प्रॉब्लम्स पर बात करने वाली महिलाएं के पीठ पीछे बहुत से लोग उनकी हंसी करते हैं। इसीलिए बेहतर होगा कि महिलाएं उसी व्यक्ति से अपनी परेशानी कहें, जिन पर उन्हें भरोसा हो, अन्यथा अपनी पर्सनल लाइफ को खुद तक ही सीमित रखें। 

इसे जरूर पढ़ें: सनी लियोनी ने निभाया मां होने का फर्ज, बेटी निशा वेबर का पूरा कराया होम वर्क

लोगों से पूछें कि वे क्यों ये बातें कर रहे हैं

बहुत से लोग दूसरों के साथ बातचीत बढ़ाने के लिए यह आसान रास्ता चुनते हैं। गॉसिपिंग के जरिए धीरे-धीरे लोग एक-दूसरे के साथ घुल-मिल जाते हैं और आसानी से अपनी लाइफ से जुड़ी चीजें शेयर करने लगते हैं। गॉसिप करने वाले लोग वास्तव में कैसे हैं, यह लंबे वक्त तक उनके व्यवहार को जज करने के बाद समझ आता है। इसीलिए हल्के-फुल्के मजाक तक लोगों की बात सुनें, लेकिन अगर कोई आपसे बिना किसी वजह के गॉसिप करना चाहता है तो उससे जरूर पूछें कि वह ऐसी बातें क्यों कर रहा है। इससे गॉसिप करने वाले व्यक्ति को यह समझ में आ जाएगा कि वह आपको बहला-फुसला नहीं सकता है। साथ ही उससे यह भी जाहिर हो जाएगा कि आप इस तरह की गैर-जरूरी चर्चाओं में दिलचस्पी नहीं रखती हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: पति करता है बात-बात पर शक तो इन तरीकों से लाएं मैरिटल लाइफ में वापस लाएं खुशियां

चर्चा को बनाएं पॉजिटिव

how to handle gossiping inside

अगर आपका कोई जानने वाला या करीबी ऐसा काम कर रहा है, जिससे नकारना आपके लिए मुमकिन ना हो, तो आप बातचीत को पॉजिटिव बनाने का प्रयास करें। आप अपनी तरफ से कुछ ऐसा कह सकती हैं कि सामने वाला व्यक्ति आपकी बात से राजी हो जाए। इससे आपको विषय बदलने में आसानी होगी और वह व्यक्ति आपसे नाराज भी नहीं होगा। 

खुद को बिजी रखें

अगर कोई व्यक्ति सिर्फ अपने मजे के लिए आपसे गॉसिप करना पसंद करता है और आपका समय बर्बाद करता है, तो आपको ऐसे तरीकों पर जरूर विचार करना चाहिए, जिससे आप उस व्यक्ति से बुद्धिमत्ता से डील कर सकें। जब भी आप उस व्यक्ति को अपने पास आते देखें तो पहले ही सतर्क हो जाएं। आप ऐसी स्थिति में खुद को बिजी रखें तो बेहतर होगा, क्योंकि तब नेचुरली उस व्यक्ति से बहुत ज्यादा बात नहीं करने पर वह शांत हो जाएगा। अगर आप फुर्सत में हों तो भी ऐसे व्यवहार करें कि आपके पास बहुत काम है, इससे आपको अपनी ऊर्जा बचाने और फिजूल की परेशानी से बचने में आसानी होगी। 

अपनी तरफ से बात ना बढ़ाएं

deal with gossip this way inside

गॉसिप करने वाला व्यक्ति तभी बेकार की चर्चा को आगे बढ़ा पाता है, जब सामने वाला व्यक्ति उसमें अपनी तरफ से कुछ जोड़ता जाता है। अगर घर-परिवार की औरतें या जानने वाले आपसे बेकार की गॉसिप कर रहे हैं, जिनमें आपकी बिल्कुल भी रुचि नहीं हैं, तो आप वहां शांत रहें और बातचीत में अपनी तरफ से बहुत कुछ ना कहें। इससे सामने वाला व्यक्ति एक सीमा के बाद खुद ही शांत हो जाएगा और आपकी  प्रॉब्लम सॉल्व हो जाएगी।