कपूर फैमिली बॉलीवुड की फर्स्ट फैमिली कही जाए तो गलत नहीं होगा। ये एक ऐसा परिवार है जिसकी 5 पीढ़ियां एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री से जुड़ी रही हैं। पृथ्वीराज कपूर ने जिस तरह की विरासत पूरे कपूर खानदान को दी है उसे बाकियों ने आगे बढ़ाया है। पृथ्वीराज कपूर, राज कपूर, शम्मी कपूर, शशि कपूर, ऋषि कपूर, राजीव कपूर, रणधीर कपूर, करीना कपूर, करिश्मा कपूर और अब तैमूर अली खान सभी स्टार्स हैं। पर इस खानदान में विरासत के तौर पर पृथ्वीराज कपूर ने एक नियम भी दिया था जिसे काफी समय तक फॉलो किया गया। 

ये नियम था कि इस परिवार की बेटियां और बहुएं फिल्मों में काम नहीं करेंगी। तभी कृष्णा राज कपूर से लेकर नीतू कपूर तक सभी महिलाओं ने किसी ना किसी स्तर पर इस नियम का पालन भी किया है। यही नहीं कपूर खानदान की तीन ऐसी बहुएं भी थीं जिन्होंने बहुत फेमस फिल्मी करियर को छोड़कर अपनी गृहस्थी जमा ली। 

आज हम इन्हीं तीन कपूर बहुओं के बारे में बात करेंगे। 

इसे जरूर पढ़ें- मिलिए लाइमलाइट से हमेशा दूर रहने वाली कपूर खानदान की इन 8 बहुओं से

1. गीता बाली

शम्मी कपूर की पहली पत्नी गीता बाली एक बहुत ही सक्सेसफुल एक्ट्रेस थीं और दोनों की मुलाकात भी एक फिल्म 'रंगीन रातों' के सेट पर हुई थी। दोनों ने एक दूसरे को पसंद किया और मिलना जुलना शुरू हुआ। शम्मी कपूर गीता बाली को कई बार प्रपोज कर चुके थे, लेकिन वो मना कर देती थीं। दोनों के घर वाले भी इस मैच से ज्यादा खुश नहीं थे क्योंकि कपूर खानदान में महिलाएं फिल्मों में काम नहीं करती थीं। 

geeta bali and shammi family

शम्मी गीता को बार-बार प्रपोज करते थे और महज चार महीने के अंतराल में ही गीता को भी शम्मी काफी पसंद आ गए थे। एक दिन शम्मी के शादी की बात करने पर गीता ने कहा था कि तुम अभी शादी कर लो और शम्मी ने लिपस्टिक से गीता की मांग भर दी थी। गीता और शम्मी ने मुंबई के बाणगंगा मंदिर में शादी कर ली थी। 24 अगस्त 1955 को शादी करने के बाद दोनों कपूर खानदान से आशीर्वाद लेने गए थे। इसके बाद गीता ने फिल्मों से संन्यास ले लिया था। 

बेटे आदित्य राज कपूर और बेटी कंचन के जन्म के बाद गीता और शम्मी का परिवार पूरा हो गया। गीता ने दोबारा कभी फिल्मों की तरफ मुड़कर नहीं देखा और 1965 में स्मॉल पॉक्स के कारण गीता बाली की मौत हो गई। ये शम्मी और गीता दोनों की प्रेम कहानी का अंत था। 

गीता ने कभी अपने फिल्मी करियर को परिवार से बढ़कर महत्व नहीं दिया और कपूर खानदान की प्रथा को निभाया। 

2. बबीता कपूर

राज कपूर के सबसे बड़े बेटे रणधीर कपूर और बबीता की प्रेम कहानी फिल्म 'कल आज और कल' से शुरू हुई थी। इस फिल्म में पृथ्वीराज कपूर, राज कपूर, रणधीर कपूर और बबीता सभी ने एक्टिंग की थी। 6 नवंबर 1971 को बबीता और रणधीर ने एक दूसरे से शादी कर ली। तीन साल बाद 1974 में करिश्मा का जन्म हुआ और 1980 में करीना कपूर का। 

babita kapoor family

बबीता ने अपने एक्टिंग करियर को तो कपूर खानदान में शादी करने के बाद अलविदा कह दिया, लेकिन वह यही अपनी बेटी के लिए नहीं चाहती थीं। 1983 में जब रणधीर का करियर ग्राफ गिर गया वो करिश्मा को भी फिल्मों का हिस्सा बनाना चाहती थीं, लेकिन रणधीर नहीं माने। 1988 में इन दोनों के झगड़े इतने बढ़ गए कि दोनों ने अलग होने का फैसला लिया और बबीता ने करीना और करिश्मा के साथ अलग होने का निर्णय लिया। 

babita and randhir family

बाद में रणधीर कपूर ने भी इस आइडिया को सपोर्ट किया और अपनी बेटियों के एक्टिंग करियर में योगदान दिया, लेकिन रणधीर और बबीता दोबारा कभी एक नहीं हुए। दोनों ने तलाक नहीं लिया, लेकिन फिर भी दोनों अलग ही रहे। 

इसे जरूर पढ़ें- बॉलीवुड के सबसे मशहूर कपूर परिवार का फैमिली ट्री और उससे जुड़ी कुछ ख़ास बातें 

Recommended Video

3. नीतू सिंह 

राज कपूर के छोटे बेटे ऋषि कपूर ने भी एक फेमस एक्ट्रेस से शादी की थी। नीतू सिंह महज 14 साल की थीं जब उन्होंने ऋषि कपूर को डेट करना शुरू किया था और फिर 21 साल की उम्र में दोनों ने शादी कर ली थी। नीतू इसके पहले सक्सेसफुल एक्ट्रेस थीं, लेकिन बाद में उन्होंने अपना करियर छोड़ दिया। इन दोनों की शादी 22 जनवरी 1980 को हुई थी। नीतू सिंह ने इस बात से हमेशा इंकार किया कि ऐसा उन्होंने कपूर खानदान की परंपरा के लिए किया था।  

neetu kapoor filmograpgy

उनकी आखिरी फिल्म 1983 में रिलीज 'गंगा मेरी माँ' थी जिसे उन्होंने शादी के पहले ही साइन कर लिया था। इसके बाद नीतू सीधे 2012 में 'जब तक है जान' में एक छोटे से रोल में दिखी थीं।  

इसके अलावा, 2013 में नीतू सिंह, ऋषि कपूर और रणबीर कपूर ने साथ में फिल्म 'बेशरम' में काम किया था। नीतू ने हमेशा यही कहा है कि फिल्मों से दूर होना उनका निजी फैसला था।  

ये थीं कपूर खानदान की बहु बनीं तीन फेमस एक्ट्रेसेस। करिश्मा और करीना कपूर दोनों ने ही कपूर खानदान की इस प्रथा को तोड़ा और फिल्मों में सक्सेसफुल करियर बनाया। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।