आलू पोस्तो बहुत ही फेमस बंगाली डिश है और अगर आप किसी बंगाली परिवार के यहां खाने पर आंमत्रित है तो आपको अपनी थाली में ये डिश जरूर मिलेगी। बंगाल के हर घर में लंच में पोस्तो जरूर बनाया जाता है। इस डिश के बिना बंगाली थाली अधूरी है। पोस्तो को कई तरह की सब्जियों में डालकर बनाया जाता है। लेकिन आज मैं आपको अपनी पसंदीदा डिश आलू पोस्तो के बारे में बताने वाली हूं। चूंकि मेरा ताल्‍लुक बंगाल से है इसलिए यह एक ऐसी डिश है जो मेरे घर पर रोज बनाई जाती है। बचपन के लेकर आज त‍क मेरा इस डिश के लिए प्‍यार कम नहीं हुआ। आज भी मैं आलू पोस्तो बड़े चाव से खाती हूं। अगर मुझे चावल के साथ आलू पोस्तो मिल जाए तो मुझे खाने में और किसी डिश की जरूरत महसूस नहीं होती। मैं आपको आज एकदम पारंपरिक विधि से बनाने वाले आलू पोस्तो बनाना सिखाऊंगी। तो आइए जानें इसे बनाने का तरीका।

aloo posto inside

इसे जरूर पढ़ें: बेसन नहीं इस बार घर पर बनाएं आलू की कढ़ी

  • कितने लोगों के लिए- 4
  • बनाने का समय- 20-25 मिनट

आलू पोस्तो बनाने के लिए सामग्री:

  • पोस्ता दाना- 6 टेबल स्‍पून
  • आलू- 5
  • प्याज- 2
  • पंचफोरन- 1 टेबल स्‍पून
  • हरी मिर्च- 3
  • नमक- स्‍वादानुसार
  • सरसों का तेल- अंदाजानुसार

आलू पोस्तो बनाने का तरीका:

  • सबसे पहले पंचफोरन के बारे में आपको बता दें कि पंचफोरन वैसे तो मार्केट में मिल जाती है लेकिन अगर आप घर पर इसे बनाना चाहती हैं तो कलौंगी, मेथीदाना, जीरा, सरसों और सौंफ को बराबर मात्रा में मिला लें, तैयार हो गया आपका पंचफोरन। इसे छौंक या तड़का लगाने के काम लाया जाता है।
  • आलू पोस्तो बनाने के लिए सबसे पहले आलू का छिलका छीलकर इसे धो लें और इन्‍हें छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें।

aloo posto inside

  • प्याज का छिलका छिलकर इसे धो लें और प्याज को बारीक-बारीक टुकड़ों में काट लें।
  • हरी मिर्च का डंठल हटाकर इसे भी धो लें और बारीक काट लें।
  • पोस्ता दाना को एक कटोरी में डालें और उसमें पानी डालें और चाय छानने वाली छलनी से पानी निकाल लें। इससे उसमें अगर बालू के कण होंगे तो निकल जाएंगे। अब पोस्ता दाना में दोबारा पानी डालें और इसे थोड़ी देर के लिए रख दें।
  • अब गैस में मध्‍यम आंच पर कड़ाही में 2 बड़े चम्मच सरसों का तेल डालें और उसे गर्म होने दें। तेल गर्म होने पर उसमें 1/2 टेबल स्‍पून पंचफोरन डालें। जब पंचफोरन चटक जाएं और भुन जाएं तब इसमें कटे हुए कटा हुआ प्याज, आलू और कटी हुई हरी मिर्च डालें और हल्‍का सुनहरा होने तक फ्राई करें। ध्‍यान रखें प्‍याज ज्‍यादा फ्राई ना हो। इसलिए प्याज को 2-3 मिनट ही भूने। अब आलू और प्‍याज के इस फ्राई में नमक और पानी डालें और आलू को थोड़ा गलने दे। ध्‍यान रखें कि आलू बहुत ज्‍यादा ना गले। इसके लिए आलू को बीच-बीच में चेक करते रहें।

aloo posto inside

  • आलू उबल जाने के बाद इसमें कटी हुई हरी मिर्च डालें और अच्छे से मिलाएं और आलू के गलने तक पकाएं। आलू गलने के बाद उसमें हरी मिर्च डालने पर सब्‍जी में से हरी मिर्च की खुशबू आती है जो बहुत अच्‍छी लगती है। अगर आपको ज्‍यादा तीखा पसंद है तो आप अपने हिसाब से ज्‍यादा हरी मिर्च डाल सकती हैं।
  • जब तक आलू गल रहे हैं तब तक आप पोस्ता दाना को बारीक पीस कर इसका पेस्ट बना लें। आप कोशिश करें कि पोस्ता दाना को सिल बट्टे पर ही पीसे। सिल बट्टा में पीसा हुआ पोस्ता दाना ही खाने में अच्‍छा लगता है और इसका असल स्‍वाद भी सिल बट्टा से पीसने पर ही आता है। मिक्‍सर में पोस्ता दाना अच्‍छे से पीस नहीं पाती। लेकिन अगर आपके घर में सिल बट्टा न हो तो आप मिक्‍सर में भी पीस सकती है। पोस्ता दाना अच्‍छे से पीसे इसके लिए उसे पीसते समय उसमें 1-2 हरी मिर्च जरूर डालें।
  • अब पोस्तो के पेस्ट को आलू में डालें और अच्‍छे से मिलाएं और इसमें थोड़ा सा पानी डालें। ध्‍यान रखें पानी बिल्‍कुल कम डालें। एक से दो मिनट बाद गैस बंद कर दें। ध्‍यान रखें कि पोस्तो पेस्‍ट की तरह बनानी चाहिए, उसमें पानी नहीं होना चाहिए।

aloo posto inside

इसे जरूर पढ़ें: योगर्ट से बनाएं क्रंच पुडिंग और परफिट, जानें इसे बनाने का तरीका

लीजिए आपकी टेस्‍टी आलू पोस्तो तैयार है, इसका मजा आप दिन के खाने में लें सकती है। इसे चावल और दाल के साथ सर्व करें। वैसे अगर आपको चावल नहीं पसंद तो आप इसे रोटी के साथ भी खा सकती हैं।

बंगाल में आलू पोस्तो को सरसों के तेल में बनाया जाता है लेकिन आप इसमें अपने स्वाद और स्वास्थ्य के अनुसार तेल का इस्‍तेमाल कर सकती हैं।

Photo courtesy- (Sidra's Recipes, Farial Loves Cakes, YouTube, Boots and Butter, Monchoso.com, Taste Chronicles, Maunika Gowardhan)