कैक्टस एक लैटिन शब्द है जिसका अर्थ है एक चमकदार पौधा। इसे हिंदी में नागफनी, बंगाली और मराठी में नागफना, तेलगु में नागमल्ली और तमिल में पचपट्टी कहा जाता है। हालांकि यदि खाने की बात की जाए तो विदेशों में खासतौर पर मैक्सिको में कैक्टस बहुतायत में खाया जाता है लेकिन भारत में इसका इस्तेमाल खाने से ज्यादा स्वास्थ्य लाभों के लिए किया जाता है। इसके अलावा किसान इसे खेतों में इसलिए भी उगाते हैं जिससे ये अन्य पौधों की रक्षा कर सके क्योंकि ये एक कटीला पौधा है। जब बात खाना पकाने की हो तब कैक्टस भिंडी पकाने जैसा ही है, काफी आसान और आश्चर्यजनक रूप से ये खाने में बहुत स्वादिष्ट भी होता है। जाने माने शेफ कुनाल कपूर से जानते हैं कैक्टस को काटने और इसकी सब्जी बनाने के तरीके के बारे में। 

कैक्टस के स्वास्थ्य लाभ 

cactus sabji ()

कुनाल बताते हैं कि वो कई प्रकार के कैक्टस बनाते हैं जिसे गोपाल या नोप्लेस कहा जाता है जिसमें एक पैड जैसा आकार होता है। एक ही किस्म में प्रिक्ली पियर  नामक फल भी होता है, जो बहुत सारे स्वास्थ्य लाभ के साथ आता है। नूपल कैक्टस और इसका फल दोनों ही बहुत सारे कांटों से भरे हुए हैं, लेकिन सावधानी से उन्हें हटाने से हमें एक कैक्टस मिलता है जिसे हम खा सकते हैं। कैक्टस लंबे समय तक अपने कई स्वास्थ्य लाभों के लिए जाना जाता है जैसे एंटीऑक्सिडेंट पर उच्च, रक्त शर्करा को नियंत्रित करता है, कोलेस्ट्रॉल कम करता है, हैंगओवर को समाप्त करता है और विटामिन, खनिज और फाइबर पर उच्च होता है।

कैक्टस फल के लाभ 

प्रिकली पियर, पीलिया से बचाता है। यह कैल्शियम, पोटेशियम, विटामिन ए, सी और बी,आयरन और मैग्नीशियम में विशेष रूप से उच्च है। वर्तमान में कैक्टस प्रजातियां ज्ञात नहीं हैं जो जहरीली होती हैं लेकिन कैक्टस कांट / स्पाइक द्वारा डंक मारने से जलन, दर्द और बैक्टीरिया के संक्रमण का कारण बनता है।

इसे जरूर पढ़ें: मिनटों में बनाएं बूंदी और पापड़ की ये ईज़ी और टेस्टी सब्जी

Recommended Video


सामग्री 

घी - 2 बड़े चम्मच, हींग - 1 /2 टेबल स्पून, सूखी लाल मिर्च - 2, जीरा - ½ टेबल स्पून, सौंफ़ के बीज (सौंफ) - 1 टेबल स्पून, लहसुन कटा हुआ - 1  टेबल स्पून, कैक्टस, साफ और स्ट्रिप्स में कटा हुआ  - 3कप , नमक स्वादानुसार, मिर्च पाउडर - 1 टेबल स्पून, हल्दी - ½ छोटा चम्मच, धनिया पाउडर - 2 चम्मच, आमचूर पाउडर - 2-3 टेबल स्पून, प्याज के टुकड़े - 1 कप

बनाने का तरीका

cactus sabji ()

एक पैन गरम करें और उसमें घी, उसके बाद लाल मिर्च, जीरा और सौंफ डालें। एक बार जब वो चटकने लगें तो उसमें लहसुन डालें और हल्का भूरा होने तक भून लें। इसमें साफ़ किया हुआ और अच्छी तरह कट किया हुआ कैक्टस मिलाएं। पैन को गरम होने दें और और 5-8 मिनट के लिए पैन में कैक्टस को पड़ा रहने दें। इसमें सभी पीसे हुए मसाले डालकर आंच धीमी कर दें और 2-3 मिनट तक पकाएं। इसमें प्याज मिलाएं और पैन को धक् दें। इसे  करें और तब तक पकाएं जब तक कि कैक्टस नरम और कोमल न हो। सीज़निंग को चेक करें और एक प्लेट में निकालें और परोसें।

इसे जरूर पढ़ें: Skin Care Tips: कैक्टस जैल से मुंहासों से छुटकारे के साथ पाएं ग्लोइंग स्किन

गरमा गरम सेहत से भरपूर कैक्टस की सब्जी तैयार है। आप इसका स्वाद किसी भी पराठे और रोटी के साथ ले सकती हैं। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें। इसी तरह के अन्य रोचक लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit: kunal kapur