अच्छा, अगर आपसे यह पूछा जाए कि भारत का सर्वोच्च सैन्य सम्मान क्या है, तो आप अधिक समय लिए बिना यह ज़रूर बोलेंगे कि 'परमवीर चक्र'। लेकिन, जब आपसे यह पूछा जाए कि सर्वोच्च सैन्य सम्मान यानि परमवीर चक्र का डिजाइन किसने किया, तो फिर आपका जवाब क्या होगा? खैर, इस सवाल-जवाब को पूर्ण विराम देते हैं।

आज इस लेख में हम आपको उस महिला के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने परमवीर चक्र का डिजाइन किया। आपकी जानकारी के लिए यह भी बता दें कि वो एक विदेशी महिला थी और उन्होंने एक भारतीय व्यक्ति से शादी भी किया, तो आइए जानते हैं उस महिला के बार बारे में।      

सावित्री विक्रम खानोलकर

savitri bai khanolkar designed param vir chakra INSIDE

जी हां, जिस महिला ने सर्वोच्च सैन्य सम्मान यानि परमवीर चक्र डिजाइन किया उस महिला नाम सावित्री विक्रम खानोलकर था। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शादी से पहले इनका नाम इवा योन्ने मैडे डीमारोस (Eve Yvonne Maday de Maros) था। लेकिन, उन्होंने भारतीय इंडियन आर्मी में कैप्‍टन रहे विक्रम रामजी खानोलकर के साथ शादी कर ली और शादी के बाद उन्होंने अपना नाम सावित्री विक्रम खानोलकर रख लिया। 

Recommended Video

सावित्री विक्रम खानोलकर का जन्म स्विट्जरलैंड में 20 जुलाई 1913 को हुआ था। साल 1932 उन्होंने विक्रम रामजी खानोलकर से शादी की और शादी के बाद उन्होंने भारत में ही रहने का फैसला किया।   

इसे भी पढ़ें: राजस्थान की नीना सिंह ने पुलिस विभाग की पहली महिला DG बनकर कायम की मिसाल

परमवीर चक्र का डिजाइन

savitri bai khanolkar designed param vir chakra INSIDE

ऐसा कहा जाता है कि आजादी के बाद जनरल मेजर जनरल हीरा लाल अटल ने उनसे परमवीर चक्र को डिजाइन करने के लिए कहा। कहा जाता है कि एक विदेशी महिला के बाद भी सावित्री बाई खानोलकर को भारतीय संस्‍कृति और वेदों की गहरी जानकारी थी और इसलिए उन्‍हें इस काम के लिए चुना गया था। इसके अलावा यह भी कहा जाता है कि परमवीर चक्र के साथ-साथ उन्होंने महावीर चक्र, कीर्ति चक्र, वीर चक्र, शौर्य चक्र और अशोक चक्र को भी डिजाइन किया। (UPSC एग्जाम में टॉप 10 महिला रैंकर्स)

इसे भी पढ़ें: जानें कौन हैं केरल की महान दादी, जिन्होंने 78 साल की उम्र में रखा है मार्शल आर्ट को जिंदा

सावित्री विक्रम खानोलकर और विक्रम रामजी खानोलकर की लव लाइफ 

savitri bai khanolkar designed param vir chakra INSIDE

सावित्री विक्रम खानोलकर और कैप्‍टन विक्रम रामजी की लव स्‍टोरी बेहद ही दिलचस्प थी। कहा जाता है कि विक्रम रामजी यूनाइटेड किंगडम में मिलिट्री का ट्रेनिंग हासिल कर रहे थे और उसी समय उनकी मुलाकात सावित्री से हुई और फिर कुछ दिनों की मुलाकात के बाद दोनों ने शादी करने का फैसल किया लिया लेकिन, सावित्री के पिता इससे खुश नहीं थे। ऐसे में सावित्री शादी के लिए अड़ी रही और साल 1932 दोनों से शादी कर ली।

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@atharvafoundation.in,newstrack.com)