• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

जानें भारतीय सेना की पहली महिला अफसर प्रिया झिंगन के बारे में

प्रिया झिंगन देश की वो अफसर थीं, जिन्होंने लाखों महिलाओं के लिए Army में दरवाजे खोल दिए।
author-profile
Published -16 Jul 2022, 13:38 ISTUpdated -30 Jul 2022, 13:19 IST
Next
Article
priya jhingan first woman who join indian army in

इंडियन आर्मी में आज महिलाएं ऊंचे-ऊंचे पदों पर कार्यरत हैं। मगर पहले एक वक्त था जब सेना में केवल पुरुष ही भर्ती हुआ करते थे। लेकिन एक चिट्ठी ने सब कुछ बदल दिया, जिसके बाद इंडियन आर्मी में महिलाओं के लिए रास्ते खुल गए। 

आज के इस आर्टिकल में हम आपको उस महिला की कहानी बताएंगे, जिसने जमाने की सोच का विरोध करते हुए इंडियन आर्मी में जाने का सपना देखा। बता दें कि उस दौर में महिलाओं के इंडियन आर्मी में जाने पर पाबंदी थी, जिसके खिलाफ प्रिया ने सरकार को चिट्ठी लिखी।

प्रिया का बचपन

priya jhingan first woman to join the indian army

प्रिया झिंगन का जन्म हिमाचल प्रदेश के शिमला शहर में हुआ था। प्रिया के पिता एक पुलिस अफसर थे, जिस वजह से उनके घर में काफी अनुशासन था। इसके बावजूद भी प्रिया बचपन में बहुत शैतान थीं। प्रिया की पढ़ाई लोरेटो कान्वेंट तारा कोल स्कूल से पूरी हुई, स्कूल में भी वो अपनी चंचलता के लिए जानी जाती हैं।

प्रिया बचपन से ही लड़कों की तरह रहती थीं। वो जब भी कुछ ठान लेती थी, उसे पूरा किए बिना हार नहीं मानती थीं। बचपन से ही उनके शौक लड़कों की तरह थे, वो खेलकूद में अपनी टोली की सरदार रहा करती थीं।

इसे भी पढ़ें- नरगिस दत्त ऐसी पहली महिला अभिनेत्री जो राज्यसभा की सदस्य बनीं

बचपन से सेना में जाना चाहती थीं प्रिया

priya jhingan first woman to join the indian army in

प्रिया जब 9वीं क्लास पढ़ती थी, तब उन्होंने पहली बार सेना में जाने का मन बनाया। दरअसल उनके स्कूल के फंक्शन में राज्य की गवर्नर चीफ गेस्ट बनकर आए थे। उस वक्त उनके साथ उनका एडीसी यानी एयर डिफेंस कमांडर भी तैनात था। एडीसी को देखते ही प्रिया ने मन बनाया कि वो एक फौजी से शादी करेंगी। उस समय प्रिया ने उत्साह के साथ कहा ‘ मैं खुद एक फौजी अफसर बनूंगी’। इस शब्द ने उनका भविष्य बदल दिया। 

मुश्किल था सपनों को सच करना

स्कूली शिक्षा पूरी होने के बाद प्रिया ने लॉ में एडमिशन ले लिया। लेकिन हमेशा उनका मन भारतीय सेना की तरफ जाने का था। एक बार प्रिया ने इश्तेहार देखा, उसमे केवल पुरुषों की भर्ती की बात लिखी गयी थी। जिसे देखकर प्रिया ने आर्मी के चीफ स्टाफ को लेटर लिखा और महिलाओं की भर्ती से जुड़े सवाल किया। जिसका जवाब कुछ समय बाद ही प्रिया के पास आया। जिसे देखकर प्रिया की खुशी का कोई ठिकाना न रहा।

इसे भी पढ़ें- पिता पर हुए जुल्म ने बेटी को पुलिस बनने के लिए किया प्रेरित, जानें भारत की पहली महिला DGP की कहानी 

लंबे इंतजार के बाद मिली खुशखबरी

first woman to join the indian army in  priya jhingan

सेना में भर्ती के लिए प्रिया बेसब्री से इंतजार कर रही थीं। आखिरकार 1 साल बाद प्रिया के पास भर्ती से जुड़ी खुशखबरी सामने आई। इसी के साथ प्रिया चेन्नई में ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी में जानें वाली कैडेट 001 बन गईं। इसी के साथ प्रिया भारतीय सेना में भर्ती होने वाली पहली महिला बन गईं।

तो ये थी प्रिया की इंस्पायरिंग कहानी, जिसने महिलाओं को आर्मी में जाने का मौका दिया। आपको हमारा यह आर्टिकल अगर पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें, साथ ही ऐसी जानकारियों के लिए जुड़े रहें हर जिंदगी के साथ।

Image Credit-wikipedia

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।