हमारे देश की महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरुषों से कम नहीं हैं। घर की प्रगति हो, या फिर देश की उन्नति, महिलाएं पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलती हैं। यही नहीं न जाने कितनी बार वो पुरुषों से आगे रहती हैं। ऐसी ही महिलाओं में से एक हैं सायरी चहल। जी हां, सायरी चहल एक ऐसी महिला हैं जिन्होंने दूसरी महिलाओं के हित में न जाने कितने काम किए और ये हम सभी के लिए प्रेरणा स्रोत बनीं।

सायरी ने महिलाओं के लिए दुनिया के सबसे बड़े ऑनलाइन इकोसिस्टम Sheroes.com की स्थापना की। आइए जानें इनसे जुड़ी कुछ ख़ास बातें। 

कैसी रही शिक्षा 

sairee chahali education

सायरी चहल ने जेएनयू से एम फिल और आईएमटी गाजियाबाद से PGDBM किया है। वह एक एस्पेन फेलो और एक Cartier Award Alumn हैं। सायरी सैकड़ों उद्यमी महिलाओं को व्यवसाय की सीख देती हैं और महिलाओं को उनके हर एक क्षेत्र में आगे बढ़ने में मदद करती हैं। 

SHEROES की फाउंडर

founder seroes

सायरी चहल, SHEROES की संस्थापक और सीईओ हैं - महिलाओं के लिए एक सामुदायिक मंच, Sheroes.com और SHEROES ऐप के माध्यम से समर्थन, संसाधन, अवसर और सहभागिता की पेशकश की जाती है। भारत में लैंगिक असमानता की समस्याओं को हल करने के लिए एक मजबूत प्रौद्योगिकी खेल का निर्माण करने के अलावा, सायरी को भारत में काम और भविष्य में काम के वार्तालापों के निर्माण का श्रेय भी दिया जाता है। सायरी पेटीएम पेमेंट्स बैंक और मिलन फाउंडेशन के निदेशक मंडल में भी शामिल है और यूएस-आधारित पहल वुमन इन क्लाउड के सलाहकार बोर्ड का भी हिस्सा हैं।

Recommended Video

क्या है SHEROES

Sheroes महिलाओं का एक ऐसा समुदाय है जहां व्यवसाय से लेकर फाइनेंस और हेल्थ तथा महिलाओं से संबंधित सभी विषयों पर विचार विमर्श किया जाता है। महिलाओं के लिए बनाए गए इस प्लेटफार्म में पूरी तरह से हर क्षेत्र में महिलाओं की मदद की जाती है। इस कम्युनिटी में महिलाओं के लिए कैरियर हेल्पलाइन संचालित की जाती है जो महिलाओं को घर बैठे जॉब ढूंढने में भी मदद करती है। इसके साथ ही SHEROES जॉब फेयर वर्कशॉप कमेटी की मीटिंग समेत अन्य प्रोग्राम भी आयोजित करता है जो महिलाओं के हित में होते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:फॉर्च्यून इंडिया की लिस्ट में शामिल हैं भारत की सबसे प्रभावशाली 50 बिज़नेस वीमेन

एक प्रभावशाली महिला

sairee chahal profile 

एक प्रौद्योगिकी उद्यमी, सायरी ने अपने उपक्रमों से न्यूजलिंक, फ्लेक्सिमोम्स और अब SHEROES के रूप में अपनी एक विशेष पहचान बनायी है। उनकी कम्युनिटी शीरोज के मिलते-जुलते प्रौद्योगिकी दृष्टिकोण ने इसे एक विश्व स्तर पर विजयी मंच बना दिया है, जो महिलाओं और उनकी आकांक्षाओं के लिए खेल को बदल रहा है। अब तक एक मिलियन से अधिक महिलाओं को इस कम्युनिटी के द्वारा प्रत्यक्ष रूप से लाभान्वित किया गया है और सायरी के नेतृत्व में, SHEROES का लक्ष्य अगले पांच वर्षों में 100 मिलियन से अधिक महिलाओं को लाभ पहुंचाना है। अपने इन्हीं कृत्यों की वजह से सायरी को एक प्रभावशाली महिला कहना गलत नहीं है, वास्तव में ये अन्य महिलाओं के लिए इंस्पिरेशन हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:Women's Day Special: 43 साल की प्रीती मस्के साइकिल से बना सकती हैं गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड, पढ़ें पूरी खबर

मिले हैं कई सम्मान 

sairee chahal story

ऐस्पन लीडरशिप फेलो, सायरी The SHEROES Summit की संयोजक भी हैं यह भारत की सबसे बड़ा महिला मंच है। वैश्विक स्तर पर अपनी उपलब्धियों के लिए पहचानी जाने वाली, सायरी चहल एक Devi Award विजेता भी हैं, इसके अलावा फेमिना अचीवर्स अवार्ड, कार्टियर अवार्ड, L’Oreal Femina Women’s Award के लिए संपादक की पसंद, बिजनेस टुडे और Indian Business में सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची में शामिल हो चुकी हैं। 2018 में, वह ओनालिटिका के  “Future of Work Top 100 Influencers” की सूची में 53 वें स्थान पर थीं।

वास्तव में सायरी के महिलाओं के लिए किये गए प्रयासों को नकारा नहीं जा सकता है और हम सभी महिलाओं को उनसे प्रेरणा लेने की जरूरत है। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: Instagram @saireechahal