स्‍मोकिग करना हेल्‍थ के लिए बहुत ही हानिकारक होता है। स्‍मोकिंग ना सिर्फ करने वाले की हेल्‍थ पर बुरा असर डालती है बल्कि आस-पास बैठे लोगों को भी इससे हेल्‍थ से जुड़ी कई परेशानियां हो सकती है। और प्रेग्‍नेंसी में स्‍मोकिंग करना  प्रेग्‍नेंट महिलाओं के साथ-साथ उसके होने वाले शिशु के लिए भी बहुत हानिकारक हो सकता है। No Tobacco Day के मौके पर जानें कि प्रेग्‍नेंसी में स्‍मोकिंग करना प्रेग्‍नेंट महिलाओं के साथ-साथ उसके होने वाले शिशु के लिए भी बहुत हानिकारक होता है।

जी हां स्‍मोकिंग और प्रेग्‍नेंसी को बिल्‍कुल भी मिक्‍स न करें। प्रेग्‍नेंसी में स्‍मोकिंग आपको और आपके अजन्मे बच्चे दोनों को खतरे में डाल सकता है। सिगरेट में निकोटीन, कार्बन मोनोऑक्साइड और टार सहित कई खतरनाक केमिकल होते हैं। स्‍मोकिंग से प्रेग्‍नेंसी की जटिलताओं का खतरा बढ़ जाता है, जिनमें से कुछ मां या शिशु के लिए घातक हो सकते हैं। प्रेग्‍नेंसी में स्‍मोकिंग करने के जोखिमों के बारे में जानें।

प्रेग्‍नेंसी की सोच रही हैं तो

अगर आप स्‍मोकिंग करती हैं और प्रेग्‍नेंट होना चाहती हैं तो सबसे पहले अपनी इस आदत को छोड़ने की कोशिश करें। स्‍मोकिंग आपको पहली बार में प्रेग्‍नेंट  होने से रोक सकता है। यहां तक कि पहली तिमाही में स्‍मोकिंग आपके अजन्मे बच्चे के हेल्‍थ को प्रभावित करता है। अमेरिकन सोसाइटी फॉर रिप्रोडक्टिव मेडिसिन के अनुसार, स्‍मोकिंग करने वाले महिला और पुरुष में स्‍मोकिंग न करने वाले महिला और पुरुष की तुलना में फर्टिलिटी से जुड़ी समस्‍याएं ज्‍यादा पाई जाती है। सेकंडहैंड स्मोक भी भ्रूण के लिए उतना ही खतरनाक है। पर्यावरण संरक्षण एजेंसी ने समूह ए कार्सिनोजेन के रूप में सेकेंड हैंड धुएं को वर्गीकृत किया है। इसका मतलब है कि यह मनुष्यों में कैंसर का कारण है।

इसे जरूर पढ़ें: गर्भपात की ओर इशारा करते हैं ये लक्षण, डॉक्टरी सलाह पर प्लान करें अगली प्रेगनेंसी

pregnacy smoking health inside

मिसकैरेज और स्टिलबर्थ

प्रेग्‍नेंसी का अप्रत्याशित नुकसान किसी भी लेवल पर एक दुखद घटना है। गर्भपात आमतौर पर प्रेग्‍नेंसी के पहले तीन महीनों में होता है। दुर्लभ अवसरों पर, वे 20 सप्ताह के प्रेग्‍नेंसी के बाद हो सकते हैं। इसे स्टिलबर्थ कहा जाता है। यू.एस. सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ट्रस्टेड सोर्स के अनुसार, स्‍मोकिंग गर्भपात और स्टिलबर्थ दोनों की संभावना को बढ़ाता है। सिगरेट में खतरनाक केमिकल के कारण ऐसा होता है। स्मोकिंग से अन्य जटिलताओं से प्लेसेंटा या धीमी गति से भ्रूण के विकास में समस्याएं हो सकती हैं। ये समस्याएं गर्भपात या स्टिलबर्थ का कारण भी हो सकती हैं।

अस्थानिक गर्भावस्था

पीएलओएस वन नामक पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, निकोटीन फैलोपियन ट्यूब में संकुचन पैदा करता है। ये संकुचन एक भ्रूण को गुजरने से रोक सकते हैं। इसका एक संभावित परिणाम एक अस्थानिक गर्भावस्था है। यह तब होता है जब एक निषेचित अंडे गर्भाशय के बाहर फैलता है, या तो फैलोपियन ट्यूब में, या पेट में। इस स्थिति में, मां को जटिलताओं से बचने के लिए भ्रूण को हटाया जाता है।

ectopic pregnancy inside

प्लेसेंटा प्रेविया

प्लेसेंटा प्रेविया के लिए धूम्रपान भी एक जोखिम कारक है। प्रेग्‍नेंसी के दौरान, नाल सामान्य रूप से गर्भाशय में गर्भ के ऊपर की ओर बढ़ता है। यह गर्भाशय ग्रीवा को डिलीवरी के लिए खुला छोड़ देता है। प्लेसेंटा प्रेविया तब होता है जब प्लेसेंटा गर्भाशय के निचले हिस्से में रहता है, आंशिक रूप से या पूरी तरह से गर्भाशय ग्रीवा को ढकता है। प्लेसेंटा में अक्सर टीयर्स होते हैं, जिससे अत्यधिक ब्‍लीडिंग होती है और भ्रूण को महत्वपूर्ण पोषक तत्वों और ऑक्सीजन से वंचित किया जाता है।

प्रीटर्म बर्थ

CDC Trusted स्रोत के अनुसार, प्रेग्‍नेंसी  के दौरान स्‍मोकिंग करने से प्रीटर्म बर्थ हो सकता है। जब बच्चा बहुत जल्दी पैदा होता है। प्रीटर्म जन्म से जुड़े कई स्वास्थ्य जोखिम हैं। इनमें शामिल हैं:

  • सुनने और देखने में समस्‍या
  • मानसिक विकलांगता
  • सीखने और व्यवहार संबंधी समस्याएं
  • जन्म के वक़्त, शिशु का वजन मे कमी होना

स्‍मोकिंग के कारण बच्चों का जन्म कम वजन का हो सकता है। इसका मतलब यह नहीं है कि आप एक छोटे बच्चे को जन्म दें। कम जन्म दर भी अन्य स्वास्थ्य समस्याओं और विकलांगों को जन्म दे सकता है।

prebirth pregnancy smoking inside

अमेरिकन कैंसर सोसाइटी के अनुसार, जो महिलाएं प्रेग्‍नेंट होने से पहले स्‍मोकिंग छोड़ती हैं, उन्हें कम जन्म के बच्चे के होने का खतरा कम होता है। यहां तक कि जो महिलाएं अपनी प्रेग्‍नेंसी के दौरान स्‍मोकिंग करना बंद कर देती हैं, उनमें स्‍मोकिंग करने वाली महिलाओं की तुलना में कम जन्म के बच्चों के होने की संभावना कम होती है।

इसे जरूर पढ़ें: कहीं दर्द की दवा गर्भवती और उसके बच्‍चे के लिए ना बन जाए 'दर्द'

जन्म दोष

प्रेग्‍नेंसी के दौरान स्‍मोकिंग करना आपके शिशु को जन्म दोष के साथ पैदा होने के खतरे को बढ़ाता है। सबसे आम प्रकार की समस्याएं जन्मजात हृदय दोष और हृदय की संरचना के साथ समस्याएं हैं। अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं जो गर्भवती होने के दौरान स्‍मोकिंग से जुड़ी हुई हैं, उनमें cleft lip और cleft palate शामिल हैं।

दुर्भाग्यपूर्ण सच

कई प्रेग्‍नेंट महिलाएं अभी भी ज्ञात जोखिमों के बावजूद स्‍मोकिंग करती हैं ये आदत उनके और उनके होने वाले बच्चों के लिए खतरा पैदा करेगी। सीडीसी के अनुसार, स्रोत का अनुमान है कि 10 प्रतिशत महिलाओं ने प्रेग्‍नेंसी के आखिरी तीन महीनों के दौरान स्‍मोकिंग किया था। स्‍मोकिंग से जुड़ी प्रेग्‍नेंसी की जटिलताओं से बचने का एकमात्र तरीका इसे छोड़ना है।