अगर आप उन महिलाओं में से एक हैं जिन्हें आज तक कभी यूटीआई यानि यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन का सामना नहीं करना पड़ा है तो आप खुद को खुशकिस्मत समझिए। क्‍योंकि दी नेशनल किडनी फाउंडेशन के अनुसार ''हर 5 महिलाओं में 1 महिला को लाइफ में कभी ना कभी यूटीआई का सामना जरूर होता है।'' यह इंफेक्‍शन बैक्टीरियल है जो यूरीन ट्रैक्‍ट से होते हुए ब्लैडर तक पहुंचकर इंफेक्‍शन फैलाता है। यहां तक कि कई बार ब्लैडर में सूजन जैसी समस्या भी देखने को मिलती है। एक्‍सपर्ट की मानें तो इंफेक्‍शन में कुछ चीजों को करने से हर महिला को बचना चाहिए ताकि उनकी समस्या विकराल रूप ना ले लें। लेकिन महिलाएं यूटीआई प्रॉब्‍लम होने के बावजूद बहुत सारी चीजों को करती रहती हैं जिससे कि प्रॉब्‍लम कम होने की बजाय बढ़ जाती है। आइए जानें यूटीआई से परेशान महिलाओं को किन चीजों को करना बंद कर देना चाहिए।

डॉक्‍टर से बचना है गलत
uti problem avoid doctor inside

अक्‍सर महिलाएं यूटीआई में डॉक्टरों के पास जाने से बचती हैं। उन्हें इस बारे में बात करने में शर्म आती है। जबकि इस समस्‍या के होने पर जल्द से जल्द डॉक्‍टर के पास जाना चाहिए। अपने लेवल पर किसी समस्या का हल ढूंढना नहीं चाहिए। आपको बता दें कि आप जितना ज्यादा समय लेगी, उतनी ही ज्यादा आपकी बीमारी फैलती चली जाएगी। इतना ही नहीं इससे इंफेक्‍शन किडनी तक फैल सकता है जो कि जानलेवा भी हो सकता है।

यूरीन रोकना

अक्‍सर यूटीआई से परेशान महिलाओं के लिए यूरीन जाना दर्दनाक होता है। ऐसे में कई महिलाएं यूरीन रोकने की बहुत कोशिश करती हैं। जबकि यूटीआई होने पर ऐसा करना सही नहीं है। उन्हें किसी भी हालात में यूरीन नहीं रोकना चाहिए। यूरीन के आते ही जाना चाहिए, ऐसा करने कुछ बैक्टीरिया यूरीन के जरिये बाहर निकल जाते हैं।

लिक्विड से बचना
avoid water inside

डॉक्‍टर के पास ही नहीं बल्कि यूटीआई में महिलाओं अक्‍सर यूरीन जाने से बचती है, इसलिए वह लिक्विड लेना बंद कर देती हैं। उन्हें लगता है कि वे जितना लिक्विड कम लेगी, उतना ही उन्हें यूरीन कम जाना पड़ेगा। जबकि यह बिल्‍कुल गलत है। यूटीआई होने पर आप जितना ज्यादा पानी पिएंगी, आपकी हेल्‍थ के लिए उतना ही अच्‍छा होगा।

Read more: Diabetes के प्रति ladies में जागरूकता लाना है बेहद जरूरी

कॉफी और अल्‍कोहल लेना

यूटीआई होने पर महिला को चाहिए कि कॉफी और अल्‍कोहल से दूर रहें। यही नहीं फिज्जी ड्रिंक भी नहीं लेना चाहिए, वर्ना इंफेक्‍शन फैलने की आशंका बढ़ सकती है। यह आपकी हेल्‍थ के लिए सही नहीं है।

सेक्सुअल रिलेशनशिप से बचें
uti problem avoid relation inside

यूटीआई होने पर सबसे पहले आपको अपने पार्टनर के साथ सेक्सुअल रिलेशनशिप से बचना चाहिए। ऐसा न करने से इंफेक्‍शन फैल सकता है। असल में विशेषज्ञ यह कहते हैं कि यूटीआई के दौरान सेक्सुअल रिलेशनशिप से महिला को काफी तकलीफ हो सकती है। उसके दर्द का अहसास हो सकता है।

Read more : महिलाओं के लिए #silentkiller है हार्ट अटैक

एंटीबायोटिक्‍स बंद करना

कहीं समस्‍या विकराल रूप ना ले लें इस डर से अक्‍सर यूटीआई होने के बाद महिलाएं अपनी एंटीबायोटिक्‍स लेना बंद कर देती है। लेकिन आपको बता दें कि कोई एंटीबायोटिक्‍स लेने से पहले या बंद करने से पहले एक्‍सपर्ट से जरूर मिलना चाहिए। खुद ब खुद कोई फैसला ना लें। इससे आपको ही नुकसान होगा।

अपना ट्रीटमेंट किसी भी लेवल पर खुद करने की कोशिश ना करें और ना ही ऐसे की किसी सलाह पर विश्वास करें।



  • Pooja Sinha
  • Her Zindagi Editorial