टेम्पर्ड ग्लास या फिर स्क्रीन गार्ड आजकल हर स्मार्टफोन की स्क्रीन सुरक्षित रखने के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं। दरअसल स्मार्टफोन की स्क्रीन टूट जाने पर काफी पैसे खर्च होते हैं, ऐसे में उसे बचाने के लिए स्क्रीन गार्ड का उपयोग किया जाता है। लोगों के अनुसार, यह फोन को स्क्रैच होने और टूटने से बचाता है, जो कहीं ना कहीं सही भी है। आजकल लोगों के लिए फोन कवर से ज्यादा स्क्रीन गार्ड यानी टेम्पर्ड ग्लास जरूरी हो गया।

वहीं अगर आप स्क्रीन गार्ड या फिर टेम्पर्ड  ग्लास खरीद रही हैं तो उसकी क्वालिटी पर खास ध्यान दें। प्लास्टिक स्क्रीन प्रोटेक्टर और टेम्पर्ड ग्लास दोनों का इस्तेमाल स्मार्टफोन पर किया जाता है। टैम्पर्ड ग्लास की तुलना में स्क्रीन प्रोटेक्टर अधिक समय तक चलता है और यह काफी पतला होता है, लेकिन बात करें टेम्पर्ड ग्लास की तो यह इफेक्टिव होने के साथ-साथ फोन को एक नेचुरल लुक देता है। हालांकि अगर आप इन स्क्रीन प्रोटेक्टर को अपने फोन पर लगवा रहे हैं तो कुछ बातों पर ध्यान देना बहुत जरूरी है।

हाई क्वालिटी का होना चाहिए स्क्रीन प्रोटेक्टर

screen tempered

आजकल हर किसी के पास स्मार्टफोन है, टच सिस्टम खराब ना हो या फिर स्क्रीन ना टूट जाए इसके लिए लोग स्क्रीन प्रोटेक्टर का इस्तेमाल करते हैं। हालांकि अपने फोन(फोन के नोटिफिकेशन को ऐसे करवाएं बंद) के लिए हाई क्वालिटी का स्क्रीन प्रोटेक्टर यूज करें। इसके लिए जब भी टैम्पर्ड या फिर स्क्रीन गार्ड खरीदें, यह ध्यान रखें कि वह पतला होना चाहिए और हाई क्वालिटी का हो। यह ना सिर्फ अधिक समय तक आपके फोन की स्क्रीन को प्रोटेक्ट करते हैं बल्कि यह फोन पर आसानी से चिपक भी जाते हैं।

कहीं टेम्पर्ड ग्लास पहले से टूटा तो नहीं

टेम्पर्ड ग्लास स्मार्टफोन की डिस्पले को सुरक्षित रखता है। लेकिन लगवाते वक्त ध्यान रखें कि ग्लास कहीं टूटा तो नहीं है। स्मार्टफोन खरीदने के तुरंत बाद ही अपने फोन पर टेम्पर्ड या फिर स्क्रीन प्रोटेक्टर लगवाएं। अगर टेम्पर्ड लगवाने के बाद आपका टच अच्छी तरह काम नहीं कर रहा है तो तुरंत इसे निकाल दें। कभी-कभी लोकल स्क्रीन प्रोटेक्टर इस्तेमाल करने की वजह से यह परेशानियां अक्सर होती हैं।

इसे भी पढ़ें: व्हाट्सएप से पेमेंट करने के लिए फॉलो करें यह आसान टिप्स 

डिस्पले को लोशन से करवाएं साफ

clean display

अगर आप अपने स्मार्टफोन पर स्क्रीन प्रोटेक्टर या फिर  टेम्पर्ड ग्लास लगवा रही हैं तो दुकानदार को इसे पहले अच्छी तरह से साफ करने के लिए कहें। दरअसल आपके स्मार्टफोन पर धूल-मिट्टी चिपकी होती है, और स्क्रीन प्रोटेक्टर लगने के बाद यह नजर आती है। यही नहीं कई बार धूल-मिट्टी की वजह से यह डिस्पले पर सही तरीके से सेट नहीं हो पाते, जिसकी वजह से तुरंत टूट जाते हैं।

टूट सकते हैं टेम्पर्ड ग्लास

कई बार स्मार्टफोन (स्मार्टफोन को भीगने से बचाएं) पर टेम्पर्ड या फिर स्क्रीन गार्ड लगाते वक्त लोग कुछ ऐसी गलतियां कर देते हैं, जिससे यह डिस्पले पर अच्छी तरह सेट नहीं हो पाता। अगर आपने पहले कभी टेम्पर्ड नहीं लगाया है तो खुद से लगाने से बचें। वहीं अगर आपका स्क्रीन गार्ड प्लास्टिक का है तो कोशिश कर सकते हैं। दरअसल ग्लास का टेम्पर्ड अगर सही से नहीं लग पाया है तो उसे निकालते वक्त वह टूट सकता है। इसलिए इस ट्रिक को ट्राई करने से पहले एक बार अच्छी तरह देख लें।

इसे भी पढ़ें: बच्चे करते हैं इंटरनेट का इस्तेमाल, तो ये नियम और सुझाव उन्हें ज़रूर बताएं

Recommended Video

घर पर कैसे लगा सकते हैं स्क्रीन गार्ड

mobile screen guard

  • अगर आप स्क्रीन गार्ड खुद से लगा रही हैं तो इसके लिए अपने स्मार्टफोन की स्क्रीन को एक साफ कपड़े या फिर लोशन से साफ कर लें।
  • अब स्क्रीन गार्ड के ऊपर लगी हुई एक पतली परत को हटाएं और ध्यान से स्मार्टफोन की डिस्पले पर लगाएं। इसे ऊपर की ओर लगाते हुए नीचे की स्क्रीन से चिपका दें।
  • ध्यान रखें कि अगर स्क्रीन गार्ड या फिर टेम्पर्ड लगाने के बाद बबल यानी हवा के बुलबुले अंदर की ओर पड़ने लगें तो समझ जाएं कि यह अच्छी क्वालिटी का नहीं है।
  • इसलिए टेम्पर्ड लगवाते समय यह जरूर ध्यान रखें कि टेम्पर्ड या फिर स्क्रीन गार्ड अच्छी क्वालिटी का होना चाहिए।

जब आप अपने स्मार्टफोन पर स्क्रीन गार्ड या फिर टेम्पर्ड लगवाएं तो इन बातों का ध्यान जरूर रखें। साथ ही, अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।