• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

शीशे या दरवाज़े के पीछे कहीं छुपा हुआ कैमरा तो नहीं? ऐसे करें चेक  

अगर आपको किसी जगह पर शक है कि आपके कमरे में या चेंजिंग रूम में छुपा हुआ कैमरा तो नहीं तो उसे इस तरह से पहचाना जा सकता है। 
author-profile
Published -29 Jul 2022, 12:35 ISTUpdated -29 Jul 2022, 12:40 IST
Next
Article
How to find hidden camera

इन दिनों वायरल वीडियोज का जमाना है, लेकिन जिस तरह के वायरल वीडियोज इस समय सोशल मीडिया पर सर्कुलेट होते हैं वो अधिकतर या तो सीसीटीवी या फिर हिडन कैमरा के जरिए लिए गए होते हैं। जैसे-जैसे तकनीक ने तरक्की की है वैसे-वैसे इस तरह के स्पाई डिवाइस भी आ गए हैं जो हमारी निजी जिंदगी के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं। ऐसे में होटल के कमरे में जाना या फिर चेंजिंग रूम में जाना खतरनाक साबित हो सकता है। 

हिडन कैमरा आजकल ना सिर्फ शीशे, टेबल या फिर मोबाइल में छुपाए जा रहे हैं बल्कि ये कपड़ों में, दीवार में, दरवाजे के की-होल में भी छुपाए जा रहे हैं। अगर बात करें हिडन कैमरा की तो किसी भी नई जगह जाने से पहले हमें कुछ बेसिक टिप्स को जरूर फॉलो करना चाहिए जिससे इनके बारे में पता लगाया जा सके। 

कुछ समय पहले एक घटना प्रयागराज से सामने आई थी जहां एक डॉक्टर के बेटे ने गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में हिडन कैमरा लगा रखा था। ऐसी किसी घटना से बचने के लिए ये जरूरी है कि हम नॉर्मल सेफ्टी टिप्स को फॉलो जरूर करें। 

इसे जरूर पढ़ें- कैमरा खरीदने का बना रहे हैं मन तो इन बातों का रखें ध्यान

किन जगहों पर अधिकतर होते हैं हिडन कैमरा?

सबसे पहले ये पता करना जरूरी है कि किन जगहों पर अधिकतर हिडन कैमरा छुपाए जाते हैं और किन्हें चेक करना चाहिए?

टिशू बॉक्स, स्टफ टेडी बियर, डिजिटल टीवी बॉक्स, घड़ी, पेन, कपड़े, टेबल के नीचे, बाथरूम में शावर हेड पर, दरवाजे के कीहोल के ऊपर, एसी में, सीलिंग फैन में हिडन कैमरा आदि बहुत कुछ होता है जिसे आपको चेक जरूर करना चाहिए। 

hidden camera in table

कैसे चेक करें हिडन कैमरा छुपा है या नहीं?

अगर बात करें हिडन कैमरा की तो अधिकतर कैमरा सिग्नल, लाइट या फिर किसी तरह का अन्य संकेत देते हैं।  

hidden camera in room

हिडन लाइट को चेक करें: 

हिडन कैमरा में अधिकतर LED लाइट जलती रहती है। ये नाइट विजन कैमरा का एक फीचर होता है और या तो लाल या फिर हरी लाइट (बहुत ही हल्की) दिखती है। ऐसे में अगर आप कमरे की सारी लाइट्स बंद कर देंगे और गौर से देखेंगे तो इसके दिखनी की गुंजाइश होती है।  

मोबाइल सिग्नल में डिस्टर्बेंस: 

सीक्रेट कैमरा रेडियो फ्रीक्वेंसी के जरिए काम करते हैं और ऐसे में कई बार ये मोबाइल सिग्नल में भी डिस्टर्बेंस करते हैं। ऐसे में या तो बार-बार कॉल कटेगी या फिर आवाज़ में डिस्टर्बेंस आएगा। आप ऐसी जगहों पर जाकर कॉल लगाने की कोशिश करें जिनमें कैमरा छिपा होने के संकेत होते हैं।  

इसे जरूर पढ़ें- अपने कैमरे को फंगस और स्क्रैच से ऐसे बचाएं, आजमाएं ये स्मार्ट तरीके 

 

शीशे के पीछे हो सकता है कैमरा: 

ट्रायल रूम या चेंजिंग रूम में पीछे की ओर कैमरा छुपा हो सकता है और ऐसे में आप सबसे पहले उसके कोनो को चेक करें कि ये सही से दिख रहा है या नहीं और साथ ही साथ शीशे में उंगली लगाकर देखें। अगर ओरिजनल उंगली और शीशे में दिख रही उंगली के बीच गैप दिखता है तो शीशा सही है, लेकिन अगर ऐसा नहीं है और दोनों जुड़ी हुई दिखती हैं तो इसका मतलब शीशे में कुछ गड़बड़ हो सकती है।  

इनके अलावा, कई मोबाइल फोन एप्स भी हिडन कैमरा डिटेक्ट करने का दावा करते हैं, लेकिन अधिकतर कोई काम के नहीं होते हैं। हां, ऐसे डिवाइस भी आते हैं जो एक बार में हिडन कैमरा डिटेक्ट करने की सुविधा दें, लेकिन ऐसे डिवाइस आम लोगों के पास होते नहीं हैं। ऐसे में सचेत रहना और किसी संदिग्ध जगह को अच्छे से चेक करना ही अच्छा है। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।  

Image Credit: Unsplash/ Shutterstock/ Freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।